script64.25 percent polling in 637 polling stations of Chhatarpur-Rajnagar | छतरपुर-राजनगर के 637 मतदान केन्द्रों पर 64.25 प्रतिशत हुआ मतदान | Patrika News

छतरपुर-राजनगर के 637 मतदान केन्द्रों पर 64.25 प्रतिशत हुआ मतदान

166 सरपंच, 1061 पंच, 7 जिला पंचायत व 50 जनपद सदस्यों के लिए पडे वोट
मतदान केन्द्रों पर पहुंचे मतदाता रात तक डालते रहे वोट, दूसरी ओर शाम 5 बजे शुरु हो गई सरपंचों के मतों की गणना

छतरपुर

Published: June 25, 2022 06:59:39 pm

छतरपुर. जिले की छतरपुर और राजनगर ब्लॉक की 166 पंचायतों के सरपंच, 168 पंचायतों के पंच 1061, 7 जिला पंचायत सदस्य और 50 जनपद सदस्यों के लिए मतदान हुआ। तेज धूप और उमस के वाबजूद जिले के दोनों विकासखंडों के 637 मतदान केन्द्रों पर 64.25 प्रतिशत मतदान हुआ। दोनों ही ब्लॉक में महिला मतदाताओं ने पुरुषो की तुलना में लोकतंत्र के पर्व में ज्यादा बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। छतरपुर ब्लॉक के 327 मतदान केन्द्रों पर 70 फीसदी महिलाओं व 60.8 प्रतिशत पुरुषों ने मतदान किया। वहीं राजनगर ब्लॉक के 310 मतदान केन्द्रों पर 69.1 प्रतिशत महिलाओं व 58.5 प्रतिशत पुरुष मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया।
महिला मतदाताओं ने पुरुषो की तुलना में लोकतंत्र के पर्व में ज्यादा बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया
महिला मतदाताओं ने पुरुषो की तुलना में लोकतंत्र के पर्व में ज्यादा बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया
दो पंचायतों में सरपंच के लिए नहीं हुआ मतदान
राजनगर जनपद की दो पंचायतों में सरपंच के लिए मतदान नहीं हुआ है। इन पंचायतों में केवल पंच, जिला पंचायत सदस्य. जनपद सदस्य के लिए मतदान हुआ। भैरा पंचायत के लोगों ने लॉटरी सिस्टम से अपने सरपंच का चुनाव कर निर्विरोध पहले ही कर लिया था। वहीं मझगुवां पंचायत अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है। जिसमें कोई भी आदिवासी परिवार वोटर न होने के कारण किसी ने सरपंच पद के लिए नामांकन नहीं किया। इसलिए इस पंचायत में सरपंच पद के लिए चुनाव नहीं हुआ।
छतरपुर-राजनगर के 1917 पंच चुने जा चुके निर्विरोध
जिले में 9508 वार्डो में 6981 वार्ड के पंच निर्विरोध चुने जा चुके हैं। इसमें छतरपुर ब्लॉक के 932 और राजनगर के 985 पंचों समेत 1917 पंच निर्विरोध चुने जा चुके हैं। ऐसे में दोनों ब्लॉक के 2978 पंच पद में से केवल 1061 के लिए मतदान हुआ है। पंचों के परिणाम 14 जुलाई को घोषित किए जाएंगे।
शाम पांच बजे से मतो की गणना, परिणाम 14 जुलाई को
राजनगर व छतरपुर विकासखंड की 166 सरपंचो, 7 जिला पंचायत सदस्यों और पंचों के लिए ६३७ मतदान केन्द्रों पर सुबह 7 बजे से दोपहर तीन बजे तक मतदान किया गया, हालांकि छतरपुर के 40 और राजनगर के भी कुछ केन्द्रों पर तीन बजे तक केन्द्र पहुंच गए मतदाताओं द्वारा देर शाम तक मतदान चलता रहा। वहीं, शाम पांच बजे से सरपंच पद के उम्मीदवारों को मिले मतों की गणना शुरु हुई, जो देर रात तक चलती रही, इसके बाद 28 जून को विकासखंड स्तर पर विवादित पंचायतों के मतों की गणना होगी। वहीं 14 और 15 जुलाई को सरपंच, पंच. जनपद और जिला पंचायत सदस्यों के परिणाम घोषित किए जाएंगे।

धूप से बचने मतदाताओं ने खुद की जगह लगाई चप्पलों की लाइन
मानसून की बेरूखी के चलते शनिवार को तेज धूप व उमस का असर पंचायत चुनाव के लिए हुए मतदान पर भी दिखाई दिया। जिला मुख्यालय से लगे सरानी गांव में मतदान करने आईं महिला मतदाताओं ने धूप से बचने के लिए चप्पलों की लाइन लगा दी। मतदान के लिए जिसका नंबर आता वो अपनी चप्पल पहनकर वोट डालने बूथ के अंदर चली जाती। मतादाता सीमा रैकवार ने बताया कि मतदान के लिए धूप में कब तक खड़े रहेंगे,प्रशासन ने टेंट और पानी का कोई इन्तजाम नहीं किया है। इसलिए धूप से बचने के लिए चप्पलों की लाइन लगाई है। यही चप्पलें ही उनकी पहचान हैं।

........................................................

कहीं तौलिया तो कहीं गद्दा बना धूप में सहारा
धूप के कारण हलाकान मतदाताओं ने तौलिया(गमछा) को सिर के ऊपर लगाकर धूप से बचाव किया। शहर से लगे बगौता में शासकीय माध्यमिक स्कूल के पोलिंग बूथ पर लाइन में लगे मतदाताओं को धूप से बचने का प्रशासनिक इंतजाम कम पड़ गया तो उन्होंने खुद ही इंतजाम बना लिया। हालांकि बगौता की प्राथमिक शाला में मतदाताओं के लिए टेंट लगाए गए थे। जिससे उन्हे राहत रही। वहीं मॉडल कलस्टर भवन के मतदान केन्द्र में टेंट के गद्दे को सिर के ऊपर लगाकर मतदाता धूप से बचने का उपाय करते नजर आए।

..........................................
वोट डालने दिल्ली से आई महिला
मतदान के प्रति जागरुकता का एक उदाहरणीय मामला भी सामने आया है। सरानी गांव की चंपा दिल्ली में परिवार सहित रहती है। शनिवार की सुबह ही वे गांव आई और दिन में मतदान करने के बाद शाम को वापस दिल्ली लौट जाएंगी। उन्होंने बताया कि वोट का महत्व हैं, इसलिए हम अपना रुपया खर्च करके गांव वोट डालने आए हैं, ताकि गांव में अच्छे जनप्रतिनिधि चुने जाए और गांव का विकास हो सके।

................................................
तीन साल की बेटी को लेकर चुनाव ड्यूटी
सरानी के पोलिंग बूथ पर आरक्षक आसमां ड्यूटी पर तैनात थी। चुनाव ड्यूटी जरूरी होने के साथ ही बेटी की देखभाल भी जरूरी है, इसलिए महिला आरक्षक दोनों ड्यूटियों के बीच तालमेल बैठाती नजर आई। पुलिस कर्मी होने के नाते मतदान में सुरक्षा के लिए हर पर चौकस रहने के साथ ही तीन साल की बेटी की देखभाल मां की तरह करती नजर आईं।

............................................................

रमनपुरा में ग्रामीणों ने वोट डालने से किया मना, फिर माने
धामची गांव के अमनपुरा में मतदान प्रक्रिया सुबह 7 बजे शुरु हो गई, लेकिन सड़क की समस्या से परेशान ग्रामीणों ने मतदान बहिष्कार कर दिया। सुबह 9 बजे तक मतदान रुका रहा। ग्रामीणों के ऐलान की सूचना मिलने पर एसडीएम विनय द्विेदी, सीएसपी लोकेन्द्र सिंह, नायाब तहसीलदार अंजू लोधी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि आचार संहिता के बाद गांव की सड़क बनाई जाएगी। जिसके बाद ग्रामीण मान गए और मतदान किया।

.................................................

महिलाओं ने दिखाया उत्साह
जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन के लोकतंत्र पर्व के प्रथम चरण में हो रहे मतदान में ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं का अभूतपूर्व उत्साह देखा गया है। छतरपुर ब्लॉक के ग्राम पठापुर की भारी संख्या में महिला मतदाता हाथों में पहचान पत्र लिए वोट डालने पहुंची और अपनी बारी का इंतजार करती दिखी। उन्होंने निर्भीकता का संदेश देते हुए मतदान करने की सभी से अपील की।

.......................................................

कलेक्टर एवं एसपी ने मतदान केन्द्रों का किया भ्रमण
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी संदीप जी आर और पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा, सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारी सघन रूप से मतदान केन्द्रो का भ्रमण करते रहे। कलेक्टर एवं एसपी ने संयुक्त रूप से मतदान केंद्र ग्राम धामची, मलपुरा एवं महेबा का निरीक्षण किया।

................................................
घूंघट में डाला वोट
छतरपुर व राजनगर में पंचायत चुनाव के मतदान के दौरान ग्रामीण महिलाएं घूंघट में मतदान करती नजर आई। ज्यादातर बूथों पर गांव की बहुएं घूंघट में ही वोट डालने आई। सभी बूथों पर महिलाओं की अच्छी संख्या रही, जिसमें 40 फीसदी महिलाएं घूंघट में नजर आईं।

.............................

फैक्ट फाइल
पंचायतें- 168
सरपंच- 166
निर्विरोध सरपंच- 01
पंच- 2978
पंचों का चुनाव- 1061
निर्विरोध पंच- 1917
जनपद सदस्य- 50
जिला पंचायत सदस्य- 7
मतदान केन्द्र- ६३७
मतदाता- 2.99 लाख

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त2009 में UPSC किया टॉप, 2019 में राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, अब 2022 में फिर कैसे IAS बने शाह फैसल?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.