जिले की 31 कॉलेजों में इतनी सीटों पर होगा प्रवेश 15 जून से

जिले की 31 कॉलेजों में इतनी सीटों पर होगा प्रवेश 15 जून से
Admission to 31 seats in the district will be held on June 15

Hamid Khan | Updated: 12 Jun 2019, 11:12:17 AM (IST) Chhatarpur, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

ऑनलाइन होगा आवेदन


छतरपुर. जिले के सरकारी व निजी कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गई है। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा इस बार भी तीन चरणों में प्रवेश प्रक्रिया पूरी कराई जाएगी। 14 अगस्त तक प्रवेश प्रक्रिया चलेगी। जिले के कॉलेजों में स्नातक में प्रवेश के लिए ऑनलाइन पंजीयन किए जा रहे हैं। वहीं, पीजी में प्रवेश का पहला चरण 15 जून से शुरू होगा, जो 14 जून तक चलेगा। विद्यार्थियों की सुविधा के लिए महाराजा कॉलेज में हेल्प डेस्क बनाई गई है। प्रथम चरण से लेकर सीएलसी राउंड तक समस्त प्रक्रिया ऑनलाइन की जाएगी।
कॉलेज में हेल्प डेस्क बनाई : उच्च शिक्षा विभाग द्वारा प्राप्त निर्देशो के अनुसार पूरी प्रकिया व निर्देश नोटिस बोर्ड पर चस्पा कर दिए गए हैं। विधार्थी इनका अवलोकन कर सकता है। इसके अलावा कॉलेज में हेल्प डेस्क भी उनकी मदद करेगा। इस बार विभाग ने पंजीयन शुल्क भी घटाकर कम कर दी है। महाराजा कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एलएल कोरी ने बताया कि जिले के 30 बीएड कॉलेज में प्रवेश की प्रक्रिया का थर्ड राउंड चल रहा है। तीसरे राउंड की लिस्ट 14 जून को निकलेगी। जिसके बाद जिले के बीएड कॉलेज में प्रवेश शुरू होगा।
छात्राओं को नि:शुल्क मिलेगा प्रवेश
इस बार पंजीयन शुल्क को लेकर विभाग द्वारा विद्यार्थियों को राहत देते हुए छात्र के 50 रुपए तो छात्राओं के पंजीयन निशुल्क किए जा रहे हैं। पूर्व में पंजीयन शुक्ल सभी से 100 रुपए लिए जाते थे। जिले के 20 प्राइवेट और 11 सरकारी कॉलेजों को मिलाकर 31 कॉलेजों में करीब 20 हजार सीटों में प्रवेश प्रक्रिया की जानी है। कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया शुरू होने के बाद भी कई विद्यार्थी दाखिले के लिए समय पर पंजीयन नहीं कराते हैं। बाद में सीट उपलब्ध नहीं होने के कारण मनचाहा विषय भी नहीं मिलता। इस बार पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर मेरिट व आरक्षण के आधार पर प्रवेश दिए जाएंगे। जिन विद्यार्थियोंं द्वारा पंजीयन कराकर फीस जमा कर दी जाएगी उनका दाखिला पक्का माना जाएगा।
एमपी बोर्ड के छात्रों को सत्यापन की जरूरत नहीं
प्रवेश के पंजीयन कराने वाले एमपी बोर्ड से 12 पास विद्यार्थियों को सरकारी कॉलेज में जाकर दस्तावेजों का सत्यापन नहीं कराना पड़ेगा। जो किसी योजना या वर्ग का लाभ नहीं लेना चाहते है उनका सत्यापन एमपी बोर्ड द्वारा एमपी ऑनलाइन को उपलब्ध कराए गए डाटा से ही हो जाएगा। जो छात्र योजना या कार्य का लाभ लेना चाहते है, उसे सत्यापन कराने कॉलेज आना होगा। जबकि सीबीएसइ बोर्ड के विद्यार्थियों को सत्यापन कराना पड़ेगा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned