यह पाकर बच्चों के खिल उठे चेहरे, झूम उठे खुशी से

यह पाकर बच्चों के खिल उठे चेहरे, झूम उठे खुशी से
After seeing this, children blossomed with joy, jumped happily

Hamid Khan | Publish: Jun, 19 2019 09:13:04 AM (IST) Chhatarpur, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

समाजसेवियों ने बांटे कपड़े

छतरपुर. जिले के आदिवासी बाहुल्य इलाके किशनगढ़ इलाके में रोजगार के साधन न के बराबर हैं, वहां के रहवासी जंगलों से मिलने वाली वनोपज के सहारे अपना भरण पोषण करते हैं। वमुश्किल दो वक्त की रोटी का जुगाड़ हो पाता है। ऐसे में अच्छे कपड़े, खासतौर पर जींस के पेंट और डिजाइनर शर्ट पहनना उनके लिए एक सपने जैसा है। ऐसे ग्रामीण बच्चों, महिलाओं और पुरुषों को अच्छे कपड़े पहनने की सौगात देने के लिए मंगलवार को संगम सेवालय के समाजसेवी किशनगढ़ के टिमवा पुरवा और रइपुरा गांव पहुंचे।

समाजसेवियों की टीम गांव पहुंची और जरुरतमंद लोगों के बारे में पताकर उन्हें एक जगह इकठ्ठा किया। सबसे पहले बच्चों को बिस्किट, नमकीन खाने के लिए दिया और फिर दोनों गांव के 120 बच्चों को पेंट-शर्ट का वितरण किया। इसके बाद महिलाओं को 80 साडिय़ों का उपहार दिया। इसके साथ ही 70 जोड़ी सलवार कुर्ता लड़कियों को बांटे। पुरुषों को 60 जोड़ी पेंट शर्ट और 20 जोड़ी कु र्ता पजामा बांटे। समाजसेवियों से उपहार में कपड़े मिलने पर बच्चों के चेहरे पर खुशी साफ झलक रही थी। रमेश आदिवासी, छिदुआ आदिवासी, कल्लू आदिवासी, रामप्यारी आदिवासी, रामा बाई, गायत्री, किशोरी, मालती, शांति, पार्वती, गुड्डन, बबलू, रीता, चंदा, तारा देवी, मुन्नी, कल्पना आदि ग्रामीणों ने बताया कि, उनकी जरुरत के कपड़े मिलने से उन्हें बहुत सहारा मिलता है। खाना-पीना का इंतजाम तो हो जाता है, लेकिन कपड़ों के लिए रुपए न होने से कई साल में एक बार ही कपड़े खरीद पाते हैं। समाजसेवियों ने उनकी गरीबी और समस्या को समझा, कपड़े देने उनके गांव तक आए हैं। इसके पहले भी ये लोग गर्म कपड़े देने गांव आए थे।

संगम सेवालय के विपिन अवस्थी ने बताया कि, छतरपुर शहर और जिले के अन्य नगरों के लोगों से कपड़े सेवालय को मिलते हैं। उन्हें सेवालय की टीम जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाने का काम करते हैं। सेवालय के सदस्य नीरज दीक्षित ने बताया कि हम लोग ठंड समय हर सप्ताह और गर्मी के समय महीने में एक बार कपड़ों का वितरण करते है। जब हम कपड़े वितरण करते है तो ग्रामीणों के चेहरे पर जो खुशी के भाव दिखते है, उसको देखकर हम लोगो को आत्मसंतुष्टि मिलती है। कपड़े वितरम के दौरान बहादुर सिंह, अंचल गैंडा, महेंद्र, अमरीश मिश्रा आदि समाजसेवी उपस्थित रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned