scriptअमृत स्टेशन योजना: खजुराहो स्टेशन पर ट्रेनों की टाइमिंग, प्लेटफॉर्म व कोच संख्या भी होने लगी डिस्प्ले | Patrika News
छतरपुर

अमृत स्टेशन योजना: खजुराहो स्टेशन पर ट्रेनों की टाइमिंग, प्लेटफॉर्म व कोच संख्या भी होने लगी डिस्प्ले

रेलवे प्लेटफॉर्म नंबर एक पर कोच डिस्प्ले बोर्ड शुरू हो गए है। बोर्ड शुरू होने से यात्रियों को कोच ढूंढने में आसानी होने लगी है। अभी तक ट्रेन के आते ही यात्रियों में कोच ढूंढने की भगदड़ मच जाती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा है। ट्रे

छतरपुरJul 06, 2024 / 11:08 am

Dharmendra Singh

khajuraho railway station

डिस्प्ले खजुराहो स्टेशन

छतरपुर. अभी तक रेलवे स्टेशन पर लगी डिस्प्ले में भारतीय रेलवे में आपका स्वागत है और वेलकम टू स्टेशन खजुराहो लिखा आ रहा था। अभी ट्रेन नंबर, ट्रेन का नाम और समय डिस्प्ले नहीं हो रहा था। इसके साथ डिब्बा संख्या भी डिस्प्ले नहीं हो रही थी । उसमें सिर्फ प्लेटफार्म 1 के साथ खजुराहो का नाम डिस्प्ले हो रहा था। काफी पहले डिस्प्ले शुरू कर दी गई थी, लेकिन न तो इसमें ट्रेन संख्या, ट्रेन का नाम और समय के साथ कौन सा डिब्बा कहां स्थापित है, इसका पता नही चल पाता था, लेकिन अब यह सुविधा शुरू हो गई है।

अमृत स्टेशन योजना के तहत मिली सुविधा


रेलवे प्लेटफॉर्म नंबर एक पर कोच डिस्प्ले बोर्ड शुरू हो गए है। बोर्ड शुरू होने से यात्रियों को कोच ढूंढने में आसानी होने लगी है। अभी तक ट्रेन के आते ही यात्रियों में कोच ढूंढने की भगदड़ मच जाती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा है। ट्रेन के आने से पांच मिनट पहले बोगी के सामने कोच का नंबर डिस्प्ले होने लगा है। रेलवे प्रशासन ने अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत छतरपुर में यह सुविधा प्रारंभ कर दी है।

22 से 24 कोच होने से होती थी मुश्किल


खजुराहो-झांसी ट्रैक पर ट्रेनों की संख्या लगातार बढ़ रही है। खासकर एक्सप्रेस ट्रेनों में 22 से 24 कोच होते हैं। जबकि ट्रेनों का स्टॉपेज 5 से 10 मिनट तक ही होता है। कोच डिस्प्ले सिस्टम नहीं होने से यात्रियों को अपना कोच खोजने के लिए इधर-उधर भागदौड़ करना पड़ता था, इससे बुजुर्ग, महिला बच्चों तथा बीमार यात्रियों को काफी परेशानी होती थी। दरअसल डिजिटल इंडिकेटर डिस्प्ले बोर्ड में रेडियम लगे होने से यह दूर से ही चमकता नजर आ रहा है। इसका एक फायदा यह भी है कि बोर्ड के माध्यम से यात्रियों को ट्रेनों के आवागमन, प्रस्थान व प्लेटफॉर्म संख्या की जानकारी सहजता से मिलने लगी है।
प्लेटफार्म क्रमांक आदि आवश्यक सुविधाएं सहज रूप से लोकेट की जा सकती हैं।

इनका कहना है


अमृत स्टेशन योजना के तहत सुविधाओं का विस्तार जारी है। स्टेशन पर यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखकर सुविधाएं बढ़ाई जा रही है। नई व्यवस्थाएं भी की जा रही हैं।
मनोज कुमार सिंह, पीआरओ, झांसी रेलवे

Hindi News/ Chhatarpur / अमृत स्टेशन योजना: खजुराहो स्टेशन पर ट्रेनों की टाइमिंग, प्लेटफॉर्म व कोच संख्या भी होने लगी डिस्प्ले

ट्रेंडिंग वीडियो