व्यापमं घोटाले में आरोपी रहे डॉक्टर को बना दिया बक्स्वाहा बीएमओ

8 महीने पहले भी बीएमओ के लिए जारी हुआ था आदेश, बाद में वापस लिया गया

By: Dharmendra Singh

Published: 10 Feb 2021, 08:05 PM IST

छतरपुर। व्यापमं मामले में आरोपी रहे डॉक्टर को बक्स्वाहा का बीएमओ बनाया गया है। क्षेत्रीय संचालक स्वास्थ सेवाएं डॉ. वीरेन्द्र यादव ने डॉ. रिषभ प्रताप यादव को बक्स्वाहा बीएमओ बनाए जाने का आदेश जारी किया है। डॉ. रिषभ प्रताप यादव पीएमटी की व्यापमं परीक्षा देकर पास हुए और वह शिवपुरी में जब पदस्थ थे व्यापमं फर्जीवाड़ा में आरोपी बनाए गए थे, इसी मामले में वह जेल भी जा चुके हैं। वर्तमान में उनका प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। आठ महीने पहले भी डॉ. रिषभ यादव को बक्स्वाहा बीएमओ बनाए जाने के आदेश जारी किए गए थे, लेकिन व्यापमं के आरोपी होने के कारण उन्हें पदस्थापना नहीं दी गई। लेकिन आठ महीने बाद फिर से वैसा ही आदेश जारी किया गया है।

घुवारा प्रभार में गड़बड़ी के लगे थे आरोप
बीते वर्ष 2019 में 24 मई को उनकी पदस्थापना बड़ामलहरा विकासखंड के रामटोरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में हुई थी। इसके बाद उन्हें 31 जुलाई 2019 को घुवारा सीएचओ का अतिरिक्त प्रभार दिया गया। उन्होंने घुवारा अस्पताल में विभिन्न खर्च दिखाते हुए बिना रोगी कल्याण समिति की बैठक बुलाए करीब 4 लाख की राशि समिति के अध्यक्ष एसडीएम के बिना दस्तखत कराए अतुल जैन व अतुल कुमार के अलग-अलग खाते में डाल दी। इसके बाद जब वह बकस्वाहा बीएमओ बनकर गए तो खाते में महज 12 रुपए छोड़ गए। जिसकी विभागीय जांच की जा रही है।

डॉक्टर्स कमी के कारण दिया प्रभार
बक्स्वाहा में पदस्थ डॉक्टर की काफी शिकायतें हैं, इसलिए बदलाव किया गया है। डॉ. रिषभ प्रताप की घुवारा के मामले में जांच चल रही है। डॉक्टर्स की कमी के कारण प्रभार दिया गया है। डॉक्टर आने पर फिर चेंज कर दिया जाएगा।
डॉ. वीरेन्द्र यादव, जेडी, हेल्थ

अविनाश रावत बने छतरपुर एसडीएम
छतरपुर। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने जिले में पदस्थ डिप्टी कलेक्टरों के कार्यभार में परिवर्तन करते हुए अविनाश रावत को छतरपुर का एसडीएम बनाया है। प्रियांशी भंवर के शहडोल ट्रांसफर के बाद खाली पड़े पद पर लवकुशनगर में एसडीएम रहे अविनाश रावत को पदस्थ किया गया है। अविनाश रावत ने पिछले दिनों निलंबन वापसी के बाद छतरपुर कलेक्ट्रेट में ज्वॉइनिंग दी थी। इसके बाद कलेक्टर ने उन्हें छतरपुर का एसडीएम बनाया है। वहीं राजनगर से कलेक्ट्रेट में पदस्थ किए गए पीयूष भट्ट को अब लवकुशनगर की जिम्मेदारी दी गई है।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned