scriptगोदाम से जब्त सुपाड़ी, कैमिकल लैब की रिपोर्ट में हो गए फेल, इंसान के खाने योग्य नहीं पाए गए | Patrika News
छतरपुर

गोदाम से जब्त सुपाड़ी, कैमिकल लैब की रिपोर्ट में हो गए फेल, इंसान के खाने योग्य नहीं पाए गए

19 फरवरी के छापे में तमन्ना ट्रेडर्स में जब्त सुपारी, केमिकल समेत 7 सैंपल फेल पाए गए हैं। अब कारोबारी को नोटिस जारी कर प्रोविजनल रिपोर्ट का जवाब मांगा गया है। 30 दिन के अंदर जवाब पेश नहीं होने पर केस को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

छतरपुरJun 26, 2024 / 11:04 am

Dharmendra Singh

illegal gutakha

गोदाम से जब्त किया मटेरियल जो अमानक निकला

छतरपुर. खाद्य औषधि एवं प्रशासन की प्रयोगशाला से आई रिपोर्ट से गुटखा माफिया को बड़ा झटका लगा है। तत्कालीन अपर कलेक्टर नम: शिवाय अरजरिया के 19 फरवरी के छापे में तमन्ना ट्रेडर्स में जब्त सुपारी, केमिकल समेत 7 सैंपल फेल पाए गए हैं। अब कारोबारी को नोटिस जारी कर प्रोविजनल रिपोर्ट का जवाब मांगा गया है। 30 दिन के अंदर जवाब पेश नहीं होने पर केस को कोर्ट में पेश किया जाएगा। छापे में मिक्स सुपाड़ी और तंबाकू तैयार किया जा रहा था जो लोग चबा रहे, जबकि ये जानलेवा है।
दरअसल नौगांव रोड स्थित दद्दा चौबे गोदाम में संदिग्ध पदार्थों का भंडारण होने की सूचना पर प्रशासन और पुलिस ने जांच कार्रवाई की गई थी। जांच के दौरान पहेली, पुजारी गुटखा के इनामी पाठच के साथ भारी मात्रा मैं तंबाकू, केमिकल का भंडारण पाया गया था। एडीएम ने गोदाम को सील करते हुए मौके पर सैंपलिंग की कार्रवाई करवाई थी। खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि तमत्रा टेंडर्स की संचालक सीमा कठल पति मुकेश कठल के यहां लिए गए सैंपल लैब की रिपोर्ट में अमानक पाए गए हैं। कलेक्टर संदीप जीआर ने मामले में सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

सेवन योग्य नहीं पाई गई खाद्य सामग्री


प्रयोगशाला की रिपोर्ट में गोदाम में पाई गई सामग्री सेवन के योग्य नहीं पाई गई है। कठैल दंपत्ति के द्वारा पान मसाला की आड़ में जर्दायुक्त एवं मिक्सब्रांड गुटखा तैयार किया जा रहा था। गोदाम में भारी मात्रा में स्टॉक तंबाकू का पान मसाला में प्रयोग किया जा रहा है। इसके साथ गोदाम से जब्त केमिकल भी गुटखा में मिलाने के लिए उपयोग किया जा रहा था। फूड सेफ्टी ऑफिसर ने बताया कि प्रयोगशाला की रिपोर्ट में सातों सैंपल के फेल पाए जाने पर तमन्ना ट्रेडर्स की संचालक को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।

चार प्रकार की तंबाकू का मिला भंडार


छापेमारी के दिन तात्कालीन खाद्य सुरक्षा अधिकारी अमित वर्मा ने मौके पर सादा पत्ती तंबाकू, रावा तंबाकू , बनी तंबाकू समेत चार प्रकार की तंबाकू गई थी। एसएलपी केमिकल भी मिला था। फैक्ट्री का लाइसेंस मांगा गया था। लाइसेंस दूसरे स्थान का था, जो मिक्स सुपाड़ी बनाने का था, जबकि यहां मुख्य रुप से तंबाकू का काम किया जा रहा था। फैक्ट्री संचालक सीमा कठल से दस्तावेज मांगे गए । जिस पर उन्होंने तीन फर्मो के दस्तावेज प्रस्तुत किए, लेकिन तंबाकू गुटखा बनाने की अनुमति के दस्तावेज नहीं मिले थे।

मिक्स सुपाड़ी के नाम पर तंबाकू गुटखा बना रहे


प्रशासन को सूचना प्राप्त हुई थी कि नौगांव रोड के चौबे वेयर हाउस में बगैर अनुमति के तंबाकू बनाने का काम किया जा रहा था। इसी तंबाकू से गुटखे का निर्माण भी हो रहा था। जबकि मिक्स सुपारी बनाने का लाइसेंस शहर के बगराजन देवी मंदिर इलाके के लिए लिया गया था और फैक्ट्री वेयर हाउस में चलाई जा रही थी।

इनका कहना है


प्रोविजनल रिपोर्ट को लेकर 30 दिन का समय व्यापारी को दिया जाता है। उसके बाद कोर्ट में केस पेश किया जाता है। अमित चौबे ने दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए हैं। उन्हें कार्यालय से पत्र जारी किया गया है।
वेद प्रकाश चौबे, खाद्य सुरक्षा अधिकारी

Hindi News/ Chhatarpur / गोदाम से जब्त सुपाड़ी, कैमिकल लैब की रिपोर्ट में हो गए फेल, इंसान के खाने योग्य नहीं पाए गए

ट्रेंडिंग वीडियो