छतरपुर में कांग्रेस का भारत बंद रह बेअसर, सुबह से ही खुल गई दुकानें

छतरपुर में कांग्रेस का भारत बंद रह बेअसर, सुबह से ही खुल गई दुकानें

Neeraj Soni | Publish: Sep, 10 2018 02:53:41 PM (IST) Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

दोपहर तक कांग्रेस कार्यकर्ता बाइकों पर सवार होकर करते रहे दुकानें बंद कराने का प्रयास, नहीं हुए सफल

छतरपुर। पेट्रोल और डीजल के दामों पर कांग्रेस का भारत बंद छतरपुर में सफल नहीं हो पाया। शहर का बाजार पूरी तरह खुला रहा। कांग्रेस नेताओं के बाजार में कार्यकर्ताओं के साथ बाइक से निकलने के कारण कुछ देर के लिए बाजार बंद हुआ, लेकिन कांग्रेसियों के जाते ही दुकानें फिर से खुल गईं। शहर में दोपहर तक कांगे्रस कार्यकर्ता घूमते रहे, लेकिन वरिष्ठ पदाधिकारी शहर में नहीं निकले। इस कारण कांग्रेस के आव्हान पर बाजार बंद नहीं हो सका। कुछ दुकानों को छोड़कर पूरा बाजार ही खुला रहा। हालांकि सोमवार को शहर का बाजार साप्ताहिक बंद रहता है। इसलिए बाजार का कुछ हिस्सा पहले से ही बंद रहा। इसके अलावा सभी स्कूल, कॉलेज लगे, बसें भी चलीं और सामान्य रूप से जनजीवन चलता रहा।
आपस में ही भिड़ गए कांग्रेस जिलाध्यक्ष :
कांग्रेस की गुटबाजी के कारण जहां इस आंदोलन में कार्यकर्ताओं की भीड़ नहीं जुट पाई, वहीं खुद कांग्रेस के पदाधिकारी ही आपस में भिड़ गए। इसके बाद कार्यकर्ता मायूस हो गए और एक गुट इस आंदोलन से अलग हो गया। शहर का बाजार सुबह से ही खुलने लगा था। 10 बजे जिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोज त्रिवेदी के साथ कुछ कार्यकर्ता मोटर साइकिलों से बाजार बंद कराने निकले। वहंी कार्यकारी जिला अध्यक्ष अनीस खान भी यहां अपने समर्थकों के साथ पहुंच गए। बस स्टैंड पर मनोज त्रिवेदी और अनीस खान के ही बीच विवाद हो गया। यहां उनमें झड़प हुई तो कार्यकर्ता भी दो गुटों में बट गए। बाद में वरिष्ठ लोगों ने इनके बीच का विवाद शांत करवाया।

कांग्रेस कार्यालय में हुई बैठक :
जिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोज त्रिवेदी और कार्यकारी जिला अध्यक्ष अनीस खान के बीच विवाद होने के बाद कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में कांग्रेस नेताओं के साथ सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। इस बैठक में विवाद का मुद्दा छाया रहा। कांग्रेस नेताओं ने दोनों के बीच समझौता कराने का प्रयास भी किया। लेकिन कांग्रेस की गुटबाजी के कारण उनके बीच की दूरियां कम होती नहीं दिखी। कांग्रेस संगठन की अंदरूनी गुटबाजी सड़कों पर आने से भाजपा को जहां इसका फायदा होगा, वहीं कांग्रेस संगठन से लेकन आने वाले चुनाव में उनके प्रत्याशियों को नुकसान उठाना पड़ सकता है।

bharat band congress Petro price increasedbharat band congress Petro price increased

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned