जिला अस्पताल में लगा रक्तदान शिविर

दस्तक अभियान में चिन्हित कुपोषित बच्चों के उपचार के लिए जिला अस्पताल में लगा रक्तदान शिविर

By: Unnat Pachauri

Published: 07 Jul 2019, 05:00 AM IST

छतरपुर। जिले में संचालित हो रहे दस्तक अभियान में सर्वे के दौरान चिन्हित कम हीमो ग्लोबिन और रक्त की आवश्यकता वाले बच्चों के समुचित उपचार के लिए शनिवार को जिला अस्पताल में रक्तदान शिविर लगाया गया। शिविर में प्रभारी कलेक्टर हिमांशु चन्द्र सहित चिकित्सकों, अधिकारी कर्मचारियों और अन्य व्यक्तियों द्वारा सहभागिता की गई। ब्लड बैंक में खून की कमी होने के कारण स्वास्थ्य विभाग के प्रयास और प्रभारी कलेक्टर के मार्गदर्शन में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया ताकि प्रतिदिन और भी बच्चों को पर्याप्त मात्रा में खून मिल सके। डॉ. वीएस वाजपेयी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा रक्तदान कर शिविर की शुरूआत की गई। इसके बाद प्रभारी कलेक्टर हिमांषु चंद्र के द्वारा रक्त दान किया गया। उन्होंने जिला पंचायत स्टाफ को भी रक्तदान के लिए प्रेरित किया। रक्त दान शिविर में अन्य लोगों ने भी स्वप्रेरणा से रक्त दान किया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. वीएस वाजपेयी ने बताया कि शिविर में 30 व्यक्तियों ने रक्तदान किया। रविवार 7 जुलाई को भी शिविर लगेगा। आगामी दिनों में एस डी एम की देख रेख में रक्तदान शिविर सभी विकासखण्ड में लगाया जाएगा। दस्तक अभियान के नोडल अधिकारी डॉ. सुरेष बौद्ध ने बताया कि अब तक 32 बच्चों में खून चढ़ाकर उनकी जान बचाई गई है। अभियान के 26वें दिन तक 1295 गांव में से 8 सौ 9 गांव की स्क्रीनिंग की गई, जिसमें 1 लाख 45 हजार 2 सौ 5 बच्चों में से 95 हजार 2 सौ 61 बच्चे को कवर किया गया। कुपोषण ग्रसित 525 बच्चे मिले, जिनमें से 2 सौ 56 को इलाज के लिए रेफर किया गया। 1 सौ 54 अति कुपोषण के बच्चे मिले जिन्हें विकासखण्ड की एनआरसी मे भर्ती करा कर इलाज करवाया गया। इसी तरह निमोनिया के 60 और डायरिया के 2 सौ 72 केस पाए गए।

Unnat Pachauri
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned