कोरोना के खिलाफ जंग में सहायता के लिए आगे आए कारोबारी

कारोबारियों ने 20 लाख, विधायक ने 25 लाख देने की घोषणा की

छतरपुर। कारोबारियों ने 20 लाख रुपए की आर्थिक मदद की घोषणा की है। छतरपुर के लगभग एक दर्जन कारोबारियों एवं कंपनियों ने कोरोना के विरुद्ध गरीबों की मदद, चिक्तिसा समाग्री खरीदने, भोजन आदि के लिए 20 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। विधायक आलोक चतुर्वेदी ने बुधवार को कारोबारियों से फोन पर मदद के लिए आग्रह किया था। उनके आग्रह के बाद व्यापारियों ने अपनी अपनी सामथ्र्य के हिसाब से मदद राशि का एलान किया है। फॉच्र्यून ग्रेनाइट इंडिया व डीपीएस स्कूल के निवेदन भारद्वाज ने 5 लाख रुपए, खजुराहो मिनरल्स के अजय पाल सिंह ने 2 लाख रुपए, एसबी ग्रेनाइट के आनन्द मूंदड़ा ने 2 लाख रुपए, किसान मिनरल्स के विनोद केडिया ने 2 लाख रुपए, एसवीएन कॉलेज के संचालक अभय भदौरिया ने 1 लाख रुपए, आनंद ट्रकिंग के सुरेंद्र आनंद ने 1 लाख रुपए, स्टार ऑटो मोबाइल ने 1 लाख रुपए, सीनिट्स विल्डर्स के जीतेन्द्र सिंह चौहान ने 1 लाख रुपए, एडिफाई स्कूल के धर्मेंद्र वर्मा ने 1 लाख रुपए, अपोलो क्रॉस रोड्स के शरद अग्रवाल ने 1 लाख रुपए, ग्रेनाइट इंडिया ने 51 हजार, रश्मि बब्बू गुप्ता ने 51 हजार और एक व्यक्ति ने गुप्त दान के रुप में 1 लाख रुपए देने की घोषणा की है। कारोबारी ये राशि एकत्र कर जिला प्रशासन को सौपेंगे।
वैश्विक स्तर की महामारी कोरोना से छतरपुर की जनता को बचाने एवं उन्हें स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की दिशा में छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी ने बड़ा एलान किया है। उन्होंने इस लड़ाई में 25 लाख रुपये देने की घोषणा की है। इसके साथ ही विधायक चतुर्वेदी ने छतरपुर जिले की जनता से अपील की है कि है वे अपने एवं अपने परिवार की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा घोषित किये गए 21 दिन के लॉक डाउन का भी सख्ती से पालन करें।
छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी ने प्रेस नोट के माध्यम से बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण एक गंभीर समस्या है। इस समस्या से निपटने के लिए हमारा जिला अस्पताल उपकरणों और जरूरी चिकित्सा सामग्री से लैस हो इसके लिए वे अपनी विधायक निधि से 10 लाख रुपए की राशि प्रदान करेंगे। इसी तरह छतरपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्रामीण क्षेत्र एवं शहरी क्षेत्र की गरीब,मलिन बस्तियों में मास्क, सैनिटाइजर आदि के वितरण के लिए जिला प्रशासन को विधायक निधि से 10 लाख रुपए की राशि प्रदान करेंगे। 21 दिनों के लॉक डाउन का समय गरीब परिवारों के लिए बहुत विपरीत हो सकता है, इस समय में गरीब परिवारों के सामने खाने पीने का संकट निर्मित न हो इसलिए विधायक ने व्यक्तिगत पूंजी से जिला प्रशासन को 5 लाख रुपए की राशि का चेक भी जारी किया है।
जिला प्रशासन को 20 लाख रुपए की सहायता के लिए आगे आए कारोबारी
आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने की एक दिन का वेतन देने की घोषणा
कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में आर्थिक सहयोग करने के लिए आगे आये आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के सदस्यों ने अपना एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराने की घोषणा की है। संघ के जिला अध्यक्ष अनुपम त्रिपाठी ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि उनका संघ सामाजिक मुद्दों पर हमेशा अपने स्तर से सहयोग करता रहा है। इसबार भी कोरोना महामारी के संकट से निबटने के लिए सरकार का सहयोग करते हुए संघ के सदस्यों ने अपना एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा कराने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि वेतन देने वाले सदस्यों की सूची प्रशासन तक मेल आदि के माध्यम से पहुंचाई जा रही है।ताकि एक दिन का वेतन काटकर राहत कोष में जमा करने की कार्यवाही की जा सके।

Dharmendra Singh
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned