scriptBy taking advantage of the fertilizer crisis, 14 cases have been filed | खाद संकट का फायदा उठाकर अवैध कमाई का अवसर खोज रहे 14 पर अबतक हुए मुकदमे | Patrika News

खाद संकट का फायदा उठाकर अवैध कमाई का अवसर खोज रहे 14 पर अबतक हुए मुकदमे


कार्रवाईयां होती रहीं, फिर भी महंगे दामों पर बिक रही नबंर दो में खाद
किसान का संकट अबतक नहीं हुआ दूर, मांग की आधी खाद भी न मिली

 

छतरपुर

Published: November 19, 2021 03:48:02 pm



छतरपुर। जिले भर के किसान इस वर्ष रबी की फसल को बोने के पहले खाद न मिलने के कारण परेशान रहे। वर्तमान में भी किसान परेशानियों का सामना कर रहे हैं। बोवनी का ज्यादातर वक्त गुजर चुका है। किसानों को या तो सही समय पर खाद नहीं मिला या फिर उन्हें ऊंचे दामों पर बाजार माफियाओं से खाद खरीदना पड़ा। बाजार में अवैध तरीके से खाद के विक्रय को रोकने के लिए कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने पिछले लगभग दो महीने के दौरान 7 उर्वरक विक्रेताओं सहित 14 लोगों पर मुकदमे दर्ज कराए हैं लेकिन इसके बावजूद किसानों को राहत नहीं मिली। प्रशासन की तमाम कोशिशों को वाबजूद किसानों को महंगे दामों पर खाद बेची जा रही है।
किसान का संकट अबतक नहीं हुआ दूर
किसान का संकट अबतक नहीं हुआ दूर
लक्ष्य था 78152 मीट्रिक टन खाद का, वितरण हुआ 34833 मीट्रिक टन
कृषि विभाग के आंकड़े बता रहे हैं कि जिले में किस तरह खाद की आपूर्ति संकट से जूझ रही है। इस वर्ष जिले में 78152 मीट्रिक टन उर्वरक की मांग की गई थी। अभी तक 42085 मीट्रिक टन उर्वरक ही वितरित और भण्डारित किया गया है। इसमें से 34833 मीट्रिक टन उर्वरक ही अब तक किसानों को मिला है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में 5751 मीट्रिक टन उर्वरक जिले के सहकारी एवं निजी केन्द्रों में रखा हुआ है।
इनके विरूद्ध हुए मामले दर्ज
जिले भर में खाद की कालाबाजारी को रोकने के लिए लगातार उर्वरक विक्रेताओं पर शिकंजा कसने की कोशिश की गई है। इस दौरान 7 उर्वरक विक्रेताओं के विरूद्ध बड़ी कार्यवाहियां की गईं। चंदला क्षेत्र के बंशिया तिराहे पर 26 सितम्बर 21 को अवैध भण्डारण एवं अवैध परिवहन को लेकर ज्ञानचन्द्र पटेल एवं चौधरी ट्रेडर्स के विरूद्ध एफआइआर दर्ज कराई गई थी। इसी तरह घुवारा में 23.10.2021 को बिना लाइसेंस के उर्वरक बेच रहे मोनू असाटी तनय रमेश असाटी के विरूद्ध धारा 420 का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया था। मोनू असाटी घुवारा की सहकारी सेवा समिति के गोदाम के सामने ही अवैध रूप से उर्वरक का विक्रय कर रहे थे। इसी तरह 26.9.2021 को सरवई में उर्वरक विक्रेता संतोष पटेल की दुकान पर छापामार कार्यवाही की गई थी उनके यहां से चौधरी ट्रेडर्स के ट्रक के द्वारा अवैध रूप से लाइसेंस अवधि खत्म होने के बाद भी खाद का भण्डारण किया जा रहा था। ऐसी ही एक कार्यवाही 19 अक्टूबर को राजनगर में हुई जब यहां के दिलीप गुप्ता, शंकर सेठ, अशोक गुप्ता, रामाधार गुप्ता के विरूद्ध कार्यवाही की गई। उनके द्वारा 1200 रूपए का खाद 1500 रूपए में बेचा जा रहा था। नौगांव में भी महोबा रोड जेल के सामने रामप्रसाद राठौर के पुत्र लवलेश साहू के द्वारा अवैध भण्डारण किया गया था जिसके विरूद्ध एफआइआर दर्ज की गई। इसी तरह का एक और मामला इन्हीं के विरूद्ध ईशानगर थाने में दर्ज किया गया। एक अन्य मामला सटई थाने में भी दर्ज किया गया। आरोप हैं कि रोहित नायक के द्वारा उर्वरक लाइसेंस निरस्त होने के बाद भी 30 अक्टूबर को उनके द्वारा अवैध रूप से डीएपी का भण्डारण कर विक्रय किया जा रहा था। इन सभी मुकदमों में कुल 14 आरोपी बनाए गए हैं। इन आरोपियों में से कुछ ने शासन द्वारा अमानक घोषित की गई खाद को भी बेच डाला जिसका नुकसान किसानों को खराब फसल के रूप में भुगतना पड़ सकता है।
फैक्ट फाइल 01
खाद मांग मौजूदा स्टॉक
यूरिया 410001 5751
डीएपी 35000 908
एनपीकेएस 49 72
एमओपी 102 98
एसएसपी 2000 510
कुल 78152 7341

मात्रा- मीट्रिक टन में

फैक्ट फाइल 02
खाद अबतक वितरण
यूरिया 15806
डीएपी 13923
एनपीकेएस 109
एमओपी 62
मात्रा- मीट्रिक टन में
फैक्ट फाइल 03
फुटकर विक्रेता 366
थोक विक्रेता 36
पॉश मशीन 375

इनका कहना है
खाद की एक और रैक प्राप्त हुई है। जल्द से जल्द खाद का वितरण शुरू हो जाएगा। किसानों के हक को मारने वालों के विरूद्ध कलेक्टर के निर्देश पर बड़ी कार्यवाहियां की जा रही हैं।
मनोज कश्यप, कृषि अधिकारी, छतरपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: पीएम मोदी ने किया नेताजी की भव्य होलोग्राम प्रतिमा का अनावरणभारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीअब नेशनल पार्कों में इलेक्ट्रिक व्हीकल से सफारी करेंगे पर्यटकमिशन रोजगार: यह है पहला राज्य जो 5 वर्षों में 15 लाख को देगा रोजगारकोविड टीकाकरण की पहचान आपके साथ में, अब पहनों ईमूनोबैंड अपने हाथ में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.