पोषण आहार वितरण में फजीवाड़ा रोकने में छतरपुर संभाग में सबसे पीछे

पोषण आहार वितरण में फजीवाड़ा रोकने में छतरपुर संभाग में सबसे पीछे
Maximum malnutrition in Chhatarpur

Dharmendra Singh | Updated: 19 Aug 2019, 07:00:00 AM (IST) Chhatarpur, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

जिले में 82 हजार से ज्यादा बच्चों का नहीं हुआ आधार पंजीयन
जिले में 30 हजार से ज्यादा कुपोषित बच्चे, 3400 से ज्यादा बच्चे अति कुपोषण का शिकार
संभाग में छतरपुर जिले में सबसे ज्यादा कुपोषण

एक्सक्लूसिव
छतरपुर। आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों को मिलने वाले पूरक पोषण आहार की गड़बड़ी रोकने की कवायद में छतरपुर जिला सागर संभाग में सबसे पीछे हैं। यही वजह है कि जिले में ३०५२३ बच्चे कुपोषित हैं, जबकि 344७ बच्चे अति कुपोषण का शिकार है। इतनी बड़ी संख्या में कुपोषित बच्चे जिले में होने के पीछे का कारण एक मात्र यही है कि, पोषण आहार में फर्जीवाड़ा रोका नहीं गया है। वितरण में फर्जीवाड़ा रोकने सरकार के आदेश पर संभाग के छह जिलों में पोषण आहार वितरण को दुरुस्त करने के लिए आंगनबाड़ी में दर्ज बच्चों का आधार पंजीयन कराया गया, लेकिन इस काम में छतरपुर जिला सबसे फिसड्डी रहा। छतरपुर जिले में 82 हजार से ज्यादा बच्चों का पंजीयन अभी तक नहीं हो सका है। ऐसे में आंगनबाडिय़ों से वितरित होने वाला भोजन, पोषण व अन्य सामग्री के वितरण में गड़बड़ी की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है।
इसलिए अनिवार्य किया था आधार पंजीयन
सरकार ने गर्भवती व नवजात बच्चों की माताओं को मिलने वाली सुविधाओं के लिए आधार कार्ड होना अनिवार्य कर दिया, ताकि आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पोषाहार, पोशाक व टेक होम राशन वितरण में गड़बड़ी और फर्जी नामांकन नहीं हो। इसके लिए आधार कार्ड बनाकर ही बच्चों को नामांकित किए जाने के निर्देश हैं। बच्चों के आधार से लिंक होने पर नाम, उम्र व अन्य मामलों में जारी फर्जीवाड़े पर लगाम लगेगी। सरकार की समेकित बाल विकास योजना का लाभ सही व लक्षित लाभुकों को मिल सकेगा। आधार पंजीयन से एक बच्चे को एक जगह दर्ज करने के बाद दूसरी जगह दर्ज नहीं किया जा सकेगा।
संभाग के छह जिलो में कुपोषण की स्थिति
जिला कुपोषित बच्चे अतिकुपोषित बच्चे
छतरपुर ३०५२३ ३४४७
टीकमगढ़ १४०६४ २५९४
दमोह २०६०२ १४०६४
निवाड़ी ४७०१ ८६३
पन्ना १८२३० 3126
सागर २९०७९ ३८७०
सागर संभाग में आधार की स्थिति
जिला आधार पंजीयन से छूटे बच्चे
छतरपुर 82186
दमोह 42231
निवाड़ी 11499
पन्ना 8789
सागर 59253
टीकमगढ़ 45684
कुल योग 249642
........
फैक्ट फाइल
छतरपुर जिले की स्थित
परियोजना आधार पंजीयन से छूटे बच्चे
बड़ामलहरा 6691
बड़ामलहरा 2- 6832
बिजावर 10747
बक्सवाह 5117
छतरपुर -1 4639
छतरपुर नवीन 2275
गौरीहार 11567
ईशानगर2- 3018
लवकुशनगर 10494
नौगांव 2649
नौगांव 2- 5222
राजनगर 6946
राजनगर 2- 5989
कुल योग 82186
मशीन नहीं होने से पिछड़े
विभाग के पास आधार पंजीयन की मशीनें नहीं हैं। जिन सेंटरों से पंजीयन कराए गए, उनका पेमेंट भी नहीं हो सका है। एनआइसी से व्यवस्था करके पंजीयन कराए गए, अब विभाग को मशीनें मिलने वाली है, जिसके बाद आधार पंजीयन का काम शत प्रतिशत पूरा कर लिया जाएगा।
संजय जैन, जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned