सीएमओ ने दिखाई गरीबों पर तानाशाही, बिना नोटिस या सूचना दिए चलाई बोल्डोजर

- नगर परिषद द्वारा मुख्य मार्गों सहित गलियों अतिक्रमण को हटाने के नाम पर किया छलावा

By: Unnat Pachauri

Published: 30 Nov 2020, 04:34 PM IST

छतरपुर/लवकुशनगर। नगर में फैले अतिक्रमण को लेकर रविवार को नगर परिषद द्वारा पुलिस टीम के साथ बिना सूचना दिए ही मुख्य मार्गों और कुछ गलियों में अतिक्रमण हटाने को लेकर कार्रवाई की गई। इस दौरान बिना कोई सूचना और नोटिस के ही अचानक पहुंची बोल्डोजर और भारी संख्या में नप और पुलिस को देख सख्तें में आ गए और लोगों द्वारा सीएमओ से कुछ घंटों का समय देने की मिन्नतें की गईं लेकिन इसके बाद भी सीएमओ का कलेजा नहीं पसीजा और उन्होंने सभी दुकानों, गुमटियों पर बोल्डोजर चलवा कर सामान और गुमटियों को नष्ट कर दिया गया। साथ ही दुकानों का सामान वाहनों में भरकर नप कार्यालय ले जाया गया। इस दौरान दुकानदारों द्वारा नप टीम द्वारा गाली गलौज काने और मारपीट करने का आरोप लगाया है। लवकुशनगर में कई सड़कें अतिक्रमण की गिरफ्त में हैं और लोगों द्वारा सड़क के किनारे और नालियों के बाहर अतिक्रमण किया गया है। जिसको लेकर रविार को नगर परिषद सीएमओ शीतल भलाबी द्वारा पुलिस औैर नप टीम के साथ नगर के मुख्य मार्ग में बिना सूचना दिए ही अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई। इस कार्रवाई में लोगों द्वारा आरोप लगाया कि सीएमओ द्वारा तानाशाही करते हुए गुमटियों तोडफ़ोड की गई और दुकानदारों द्वारा कुछ घंटों की मोहलत मांगने पर भी नहीं दी गई और उनके साथ नप कर्मियों द्वारा गालीगलौज और मारपीट की गई। टीम द्वारा इस दौरान स्वामी विवेकानंद पार्क, पुराना बस स्टैंड, महोबा रोड का अतिक्रमण हटाया गया। दुकानदार शैरा, श्यामू, जाटव सहित लोगों ने बताया कि उन्हें पहले से कोई सूचना नहीं दी गई थी। बताया कि टीम द्वारा उनकी दुकानों में पहुंचकर बोल्डोजर से टीन को तोड़ दिया और दुकानों के बाहर रखा सामान जब्त कर दिया गया। वहीं यहां पर रखीं गुमटियों पर बोल्डोजर चलाकर नष्ट करने की कार्रवाई की गई ओर सामान को भी नष्ट कर दिया गया। मुख्य सड़क से एक गली में करीगब १५ फीट अंदर दुकान किए शैरा ने बताया कि उसके दुकान में तोडफ़ोड की गई और सामान जब्त कर दिया गया। बताया कि उसने कुद दिन पहले कर्जा लेकर दुकान में और सामान भरा था। इस दौरान करीब १ नलाख से अधिक का नुकसान हुआ है। वहीं जाटव की गुमटी को तोड़ दिसा गया और सामान नष्ट किया है। वहीं बस स्टैंड के पास स्थित श्यामू पाटकार की दुकान का सामान तोड़कर बाहर फैका गया। साथ ही दुकान में रखा मंदिर, गोलक आदि सड़क पर फैका गया है।

नप कर्मी का जीना नहीं तोड़ा जीना
इस कार्रवाई टीम द्वारा अतिक्रमण किए हुए लोगों पर मुंहदेखी कार्रवाई की जा रही है। लोगों ने बताया कि बस स्टेंड के पास में कई दुकानों पर टीम की तानाशाही सामने और और सामान को दुकान के बाहर फैका और तोड़ फोड करते हुए दुकानदारों के साथ में गाली गलौज की गई। लेकिन इसके साथ ही कई लोगों पर अतिक्रमण करने के बाद भी कार्रवाई की आंच नहीं आने दी। बताया कि नगर परिषद के कर्मचारी का नाली के बाहर जीना बना हुआ है। जहां पर कोई कार्रवाई नहीं की और बगल में ही दुकान पर कार्रवाई की गई है।

ये रहे अतिक्रमण हटाने वाली टीम में
अतिक्रमण हटाने में नगरपरिषद से समस्त सफाई कर्मी, सीएमओ शीतल भलावी, उपयंत्री गोकुल प्रजापति, सफाई दरोगा राजेन्द्र सिंह, हरिओम अवस्थी, दिनेश जडिय़ा, मधुसूदन तिवारी, मनोज मिश्रा, शीतेंद्र शर्मा, सतेंद्र त्रिपाठी, रईस खान, ओम प्रकाश सक्सैना, प्रमोद दीक्षित व पुलिस टीम उपस्थित रही।

इनका कहना है
नगर परिषद द्वारा कुछ दिनों से एनाउंसमेंट कराया जा रहा था और टीम द्वारा कार्रवाई के दौरान किसी से गलत व्यवहार या गलत कार्रवाई की है तो इसकी शिकायत आने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।
अविनाश रावत, एसडीएम, लवकुशनगर

Unnat Pachauri
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned