scriptCounting of tigers started in Chhatarpur, Bijawar, Bakswaha, Lavkush | छतरपुर, बिजावर, बकस्वाहा, लवकुशनगर में शुरू हुई बाघों की गिनती | Patrika News

छतरपुर, बिजावर, बकस्वाहा, लवकुशनगर में शुरू हुई बाघों की गिनती


पहले चरण में बाघों एवं मांसाहारी जानवरों की तीन दिन तक होगी गणना
चार दिनों के दूसरे चरण में शाकाहारी जंगली जानवरों एवं वनस्पतियों की जुटाई जाएगी जानकारी

छतरपुर

Published: December 02, 2021 06:49:28 pm

छतरपुर। हर चार साल में की जाने वाली बाघों की गणना शुरु हो गई है। 7 दिसम्बर तक बाघों की गणना की जाएगी। छतरपुर का वन विभाग भी छतरपुर, बिजावर, बक्स्वाहा, लवकुशनगर वन परिक्षेत्र की 165 बीटों के अंतर्गत 200 कर्मचारी लगाकर यह गणना करने में जुट गया है। गणना के दौरान सिर्फ बाघ ही नहीं बल्कि सभी मांसाहारी वन्य जीव, शाकाहारी जंगली जानवर और विशिष्ट वनस्पतियों व मानव हस्ताक्षेप वाले इलाकों की जानकारी जुटाई जाएगी।
 पहले चरण में बाघों एवं मांसाहारी जानवरों की तीन दिन तक होगी गणना
पहले चरण में बाघों एवं मांसाहारी जानवरों की तीन दिन तक होगी गणना
डीएफओ अनुराग कुमार ने बताया कि पिछली बाघ गणना के दौरान ही मप्र को टाइगर स्टेट का दर्जा हासिल हुआ था। तब मप्र में टाइगर की संख्या कर्नाटक से एक बाघ अधिक सामने आई थी, जिसके कारण प्रदेश देश का एक ऐसा राज्य बना था जहां सर्वाधिक बाघ मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि पहले चरण में बाघों एवं जंगली मांसाहारी जानवरों की गणना तीन दिनों तक की जाएगी। शेष चार दिनों में शाकाहारी जंगली जानवरों एवं वनस्पतियों की जानकारी जुटाई जाएगी। इस गणना के दौरान ऐसे इलाके भी चिन्हित किए जाएंगे जो मानव हस्ताक्षेप के कारण जंगली जानवरों के लिए खतरनाक होते हैं।
जनहानि से बचने के लिए जानवरों का व्यवहार समझें
डीएफओ अनुराग कुमार ने बताया कि जिले में बिजावर, बक्स्वाहा और लवकुशनगर वन क्षेत्रों के अंतर्गत कई बार जंगली जीवों के कारण जनहानि की घटनाएं सामने आती हैं। इसका मुख्य कारण जंगली इलाकों में बढ़ता मानव हस्तक्षेप होता है। उन्होंने कहा कि हमें जानवरों के आसपास वाले इलाकों में जानवरों के व्यवहार को समझकर ही निवास करना चाहिए। उदाहरण के लिए जब पेड़ों पर महुआ आता है तब कई बार भालू महुए को खाने के लिए इन पेड़ों के आसपास होते हैं। इसी दौरान महुआ बीनने के लिए गए किसान भालू की चपेट में आ जाते हैं।
कोर एरिया के बाहर भी हो रही गणना
अखिल भारतीय बाघ आंकलन 2022 के तहत इस बार टाइटर रिजर्व के कोर एरिया से बाहर रहने ऐसे बाघ जो अब तक गणना में शामिल नही है, उन्हें वन विभाग द्वारा खोजा जाएगा। पन्ना टाइगर रिजर्व से सटे इलाके बकस्वाहा, बिजावर एवं बाजना के जंगलों में कई बार बाघों के हलचल की खबरें मिल चुकी है, बफर जोन के इन्हीं बाघों को इस बार गणना में शामिल करके टाइगर स्टेट का दर्जा बरकरार रखने की कवायद शुरु हुई है। जंगल में मिलने वाले जानवरों से जुड़ी जानकारियां ऑनलाइन भेजना है। वन्य जीवों के जंगल में मौजूदगी से जुड़े प्रमाण इक_ा कर तस्वीरों की रूप में अब मोबाइल एप्लीकेशन से अपलोड किए जाएंगे। ये डाटा सीधे इंस्टिट्यूट आफ वाइल्डलाइफ तक पहुंचेगा।

फैक्ट फाइल
वनमंडल छतरपुर
वन परिक्षेत्र - 6
सर्किल - 42
बीट - 193
वन चौकियां - 17
बैरियर - 08
वन रकवा - 1478 वर्ग किलोमीटर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहदुल्हन के लिबाज के साथ इलियाना डिक्रूज ने पहनी ऐसी चीज, जिसे देख सब हो गए हैरानकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेश

बड़ी खबरें

झारखंड में नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ाया रेलवे ट्रैक, राजधानी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों का रूट बदलायूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारRepublic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवाजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्ररीट परीक्षा का पेपर आउट करने वाला मुख्य आरोपी और उसका साथी गिरफ्तारसरकारी स्कूल में कोरोना विस्फोट, जांच में 23 बच्चे निकले पॉजिटिव, 5 स्टाफ भी संक्रमित, SDM ने किया स्कूल बंदCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 7,498 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 10.59%
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.