महिला स्वास्थ्य शिविर में नहीं पहुंचे डॉक्टर और स्टाफ

Neeraj soni

Publish: Apr, 17 2018 12:13:57 PM (IST)

Chhatarpur, Madhya Pradesh, India
महिला स्वास्थ्य शिविर में नहीं पहुंचे डॉक्टर और स्टाफ

मांतगुवा स्वास्थ्य केंद्र में शिविर के आयोजन

छतरपुर/मांतगुवां। स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में विभाग द्वारा आयोजित किया गया स्वास्थ्य शिविर में कोई डॉक्टर नहीं पहुंचे। जिससे श्ििवर में आए क्षेत्र मरीजों को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा। ऐसी चिलचिलाती धूप में अपने अपने गांवों से किराया लगाकर शिविरन में इलाज के लिए क्षेत्र के बडी संख्या में लोगों को इलाज नहीं दिया गया। सुबह ८ बजे शुरू होने वाला शिविर ९-१० बजे से शुरू किया गया। लेकिन वहां पर कोई डॉक्टर नहीं होने पर वहां के स्टाफ द्वारा कुछ मरीजों को दवा देकर रश्म अदायगी की गई।
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य विभाग द्वारा क्षेत्र के लोगों के लिए सोमवार को महिला स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें छतरपुर और बाहर से विशेषज्ञों द्वारा मुफ्त में इलाज करना था। जिसके लिए ग्रामीण स्तर पर प्रचार प्रसार कराया गया था। इसके लिए आशा कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई थी। कर्मचारियों द्वारा क्षेत्र ेक करीब डेढ़ दर्ज गांव में प्रचार प्रसार किया गया। जिससे सोमवार को सुबह करीब आठ बजे से क्षेत्र के लोगों की आने की सिलसिला शुरू हो गया। लेकिन वहां पर कोई डॉक्टर नहीं पहुंचे और न ही वहां पर पदस्थ डॉ. सुकीर्ति जैन नहीं पहुंची। और न ही बाहर से कोई डॉक्टर शिविर में आए। जिससे शिविर में आए लोगों को बिना इलाज कराए ही मायूस होकर वापस अपने घर लौटना पड़ा। शिविर में किसी डॉक्टर के नहीं आने पर एमपीड्ब्लू आएस शर्मा, एएनएम अर्पणा पाठक व रामलली राठौर व स्टाफ ने शिविर की कमान सम्हाली और कुछ मरीजों को दवा देकर शिविर की रश्म अदायगी की गई। वहीं स्वास्थ्य केंद्र में पदास्थ डॉ. सुकीर्ति जैन का कहना है कि वह अवकास पर हैं उन्होंने इसकी जानकारी ईशानागर बीएमओ शैलेंद्र सिंह को दे दी थी।

नहीं की गई पानी की व्यवस्था
करीब ७ वर्ष पहले विभाग द्वारा पानी के लिए बोर कराया गया था। लेकिन वहां कुछ साल ही टिक सका और सूख गया जिसके बाद वहां पर पानी के लिए कोई व्यवस्था नहीं है वहां पर आने वाले मरीजों को पानी के लिए स्वास्थ्य केंद्र के बाहर भटना पडता है। शिविर के दौरान वहां पर मरीजों को पानी के लिए भटकना पड़ा।

इनका कहना है
मुझे वहां पर स्वास्थ्य शिविर लगे होने की जानकारी नहीं है। हालाकि हमारी स्वास्थ्य टीमें गांव गांव में पहुंचकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रहे हैं। में जानकारी करता हूं अगर किसी के द्वारा लापवाही की गई है तो उसके खिलाफ कार्रवाइ्र की जाएगी।
शैलेंद्र सिंह बीएमओ ईशानगर

Ad Block is Banned