डॉक्टरों ने पहले श्रमदान किया फिर पौधारोपण कर लिया पर्यावरण बचाने का संकल्प

पत्रिका अमृतं जलम् अभियान का 37 वां दिन :
- जलकुंभी से मुक्त होने लगा तालाब, एक सप्ताह में बदल जाएगा पूरी सूरत
- सांतरी तलैया पर श्रमदान के लिए आज भी पहुंचेंगे कई संगठन और समाजसेवी

By: Neeraj soni

Published: 01 Jul 2019, 06:50 PM IST

छतरपुर। सांतरी तलैया को पवित्र गायत्री सरोवर बनाने के लिए पत्रिका समूह द्वारा श्रीरामानंद सेवा समिति, गायत्री परिवार और नगरपालिका के सहयोग से चलाए जा जा रहे श्रमदान अभियान के ३७ वे दिन सोमवार को शहर के डॉक्टरों ने यहां पहुंचकर न सिर्फ श्रमदान किया बल्कि पौधारोपण भी किया। मरीजों की सेहत सुधारने वाले डॉक्टरों ने पर्यावरण की सेहत को सुधारने के लिए खास दिन को चुना था। एक दर्जन से अधिक डॉक्टरों ने दो घंटे तक श्रमदान करने के बाद जल संरक्षण और पौधारोपण का सामूहिक संकल्प भी लिया। उधर सांतरी तलैया की जलकुंभी लगभग पूरी तरफ साफ होने की स्थिति पहुंच गई है। एक सप्ताह के अंदर यह सरोवर पूरी तरह से साफ नजर आएगा।
सफाई के बाद अब नगरपालिका करेगी सौंदर्यीकरण :
सांतरी तलैया की जलकुंभी सफाई का कार्य अंतिम चरण में पहुंचते ही अब इस सरोवर को सुंदर बनाने के लिए अभियान शुरू होगा। तालाब का सौंदर्यीकरण नगरपालिका सीएमओ अरुण पटैरिया के निर्देशन में किया जाएगा। उन्होंने नपा अध्यक्ष अर्चना सिंह की मंशा अनुसार इस जलाशय को शहर का सबसे सुंदर जलाशय बनाने के लिए योजना तैयार कर ली है। इस स्थल को पिकनिक स्पॉट या चौपाटी के रूप में बदलने के लिए एक बड़ी कार्ययोजना को अंतिम रूप दिया जा रहा है। गायत्री गेट से लेकर मंदिर तक लाइटिंग, प्लांटेशन, तालाब में बोटिंग सहित अन्य विकास कार्यों का खाका तैयार किया गया है, जिसे जल्द ही अमली जामा पहनाया जाएगा।
आज भी कई लोग पहुंचेंगे श्रमदान :
श्रीरामानंद सेवा समिति के गिरजा पाटकार ने बताया कि अभियान के ३८वे दिन प्रज्ञा योग समिति, श्रीरामानंद सेवा समिति, गायत्री परिवार सहित कई संगठनों के लोग श्रमदान करने के लिए पहुंचेंगे। सामाजिक संस्थाओं के अलावा स्कूल-कॉलेज के छात्र और समाजसेवी एक साथ यहां पर सुबह 6 से 8 बजे तक श्रमदान करेंगे।
श्रीराम नक्षत्र वाटिका में रोपे पौधे :
डॉक्टर्स डे पर शहर के चिकित्सकों ने सांतरी तलैया पर श्रमदान के बाद पौधारोपण भी किया। तालाब के किनारे स्थित श्रीराम नक्षत्र वाटिका में डॉक्टरों ने पीपल, बरगद, नीम सहित कई फलदार व छायादार पौधे रोपे। ट्रीमैन डॉ. राजेश अग्रवाल ने यह पौधे निशुल्क उपलब्ध करवाए। डॉक्टरों ने पौघारोपण करके उनके संरक्षण का संकल्प भी लिया।
३७ वे दिन यह बने भागीरथ :
अमृतं जलम अभियान के तहत ३७ वे दिन सोमवार को बड़ी संख्या में लोग भागीरथ बनकर श्रमदान करने पहुंचे। इनमें डॉक्टर्स डे पर नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. कपिल खुराना, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. पूनम सिंह, हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. अभिषेक चौधरी, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. महर्षि ओझा, डॉ. ऋषि कुमार शिशु रोग विशेषज्ञ, डॉ. अरविंद, जेल चिकित्सक डॉ. आरपी गुप्ता, डॉ. राधेश्याम सोनी, दंत रोग विशेषज्ञ डॉ. तरुण अग्रवाल, ट्रीमैन डॉ. राजेश अग्रवाल, मेडिसिन से डॉ. अंकुर खरे, विशाल श्रीवास्तव सहित रमेश नामदेव, प्रथम गुप्ता, सौरभ अग्रवाल, हरिओम चौरसिया, हनुमान टोरिया ट्रस्ट के लालजी पाटकर, नितिन समारी, छतरपुर भ्रमण परिवार के हरिप्रकाश अग्रवाल, वैभव अग्रवाल, अमर अग्रवाल, तरुण अग्रवाल, आकाश अग्रवाल, चौधरी लछमन दास सर्राफ परिवार से महेंद्र अग्रवाल, शैलेंद्र गुप्ता गोलू, नरेंद्र चतुर्वेदी, कैलाश वर्मा, प्रद्य़म्न गुप्त, सुशील असाटी एवं रामानंद सेवा समिति की टीम सहित दजज़्नो की संख्या में समाजसेवी मौजूद रहे।

Neeraj soni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned