रात में वन कर्मियों को चकमा देकर भागी मशीनें, सुबह हुई जब्त

रात में वन कर्मियों को चकमा देकर भागी मशीनें, सुबह हुई जब्त

Rafi Ahamad Siddiqui | Publish: Oct, 14 2018 11:25:26 AM (IST) Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

वनपरिक्षेत्र में अवैध उत्खनन की कार्रवाई की गई

हरपालपुर। अलीपुरा वन परिक्षेत्र में बीती रात बारिंग मशीन द्वारा बोर उत्खनन किया जा रहा था। इसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे अलीपुरा बीट गार्ड को देख बोरिंग मशीन मौके से भाग खड़ी हुई। जिन्हें सुबह होते-होते वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर वन अमले ने हरपालपुर के सरसेड़ से जब्त कर लिया और छतरपुर वन विभाग कार्यालय ले जाया गया।
जानकारी के अनुसार अलीपुरा वन परिक्षेत्र की बरा हार में एक किसान द्वारा वन विभाग की सीमा में बोर कराया जा रहा था तभी वन रक्षक नरेंद्र यादव किसी के द्वारा सूचना दी गई रात्रि करीब 12 बजे वनरक्षक अपने स्टाफ को लेकर वन विभाग की कंपाउंड नंबर 602 में पहुंची। जहां किसान द्वारा अपनी जमीन के पास बने मुनारी में ट्यूबवेल उत्खनन कराया जा रहा था तभी वनरक्षक द्वारा इन दोनों गाडिय़ों को जप्त कर पंचनामा बनाया गया। लेकिन जैसे ही वन अमला अलीपुरा वनभाग वेरियर के लिए रवाना हुआ तभी दोनों मशीनों के चालकों द्वारा चकमा देकर मशीनों को लेकर भाग खडे हुए। जब काफी देर तक मशीनें वन विभाग वेरियर नहीं पहुंची तो वन अमले को मशीनें भाग जाने का जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर वन विभाग का एक पूरा दस्ता इन बोरिंग मशीनों की खोज में लग गया। जिन्हें शनिवार को सुबह हरपालपुर के सरसेड़ गांव से किसान गनेशी के खेत में बोर करते समय जब्त किया गया। यह दोनों गाडिय़ां छतरपुर के किसी व्यक्ति द्वारा ठेके पर चलाई जा रही हैं। इन दोनों गाडिय़ों के खिलाफ वनपरिक्षेत्र में अवैध उत्खनन की कार्रवाई की गई। दोनों गाडिय़ों के खिलाफ कार्रवाई की गई और इन्हें छतरपुर वन विभाग कार्यालय में रखा गया है। इस कार्रवाई में नौगांव डिप्टी रेंजर एसएम परमार, रमाशंकर गोस्वामी, प्रीतम सिंह, राज बिहारी पाठक, सतीश चंद अहिरवार, बीट गार्ड नरेंद्र यादव, मर्दन सिंह यादव, पवन शर्मा, देवेंद्र सिंह, रामबाबू शुक्ला, नईम खान, प्रवीण शिवहरे, पुनीत प्रजापति समेत करीब दो दर्जन वन अमला मौजूद था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned