scriptDue to the fear of lockdown, distribution of ration to the poor is | लॉकडाउन की आशंका के चलते पूर्व से गरीबों को किया जा रहा राशन का वितरण | Patrika News

लॉकडाउन की आशंका के चलते पूर्व से गरीबों को किया जा रहा राशन का वितरण


एक साथ मिलेगा जनवरी और फरवरी का राशन, जिले में 12 लाख 14 हजार लोगों को मिलेगा सरकारी अनाज

छतरपुर

Updated: January 05, 2022 03:25:23 pm

छतरपुर। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार अपनी तैयारियों में जुट गई है। तीसरी लहर की पुष्टि होने के बाद डर है कि जनवरी के आखिर में या फरवरी के पहले सप्ताह में कोरोना अपने पीक पर हो सकता है और तब पाबंदियां बढ़ाई जा सकती हैं। ऐसे में सरकार गरीबों को परेशानियों से बचाने के लिए इस महीने ही जनवरी और फरवरी का राशन एक साथ वितरित करने में जुट गई है। छतरपुर जिले में राशन का आवंटन पहुंच चुका है। जिले के 12 लाख 14 हजार 348 लोगों को सरकारी राशन वितरित किए जाने की तैयारी की जा रही है।
दो गुना मिला आवंटन
दो गुना मिला आवंटन
दो गुना मिला आवंटन
खाद्य अधिकारी वीके सिंह ने बताया कि हर महीने 5277.99 मीट्रिक टन गेहूं एवं 1231.89 मीट्रिक टन चावल गरीबों को वितरित किया जाता है। सरकार ने इस महीने अनाज की दोगुनी मात्रा भेजी है। इसके साथ ही 35040 परिवारों को शक्कर एवं 261.96 मीट्रिक टन नमक भी प्राप्त हुआ है। इस राशन को 2 लाख 62 हजार 244 परिवारों के 12 लाख 14 हजार 348 सदस्यों को 656 दुकानों के माध्यम से वितरित किया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि अपनी पात्रता पर्ची के अनुसार दुकानों से दोनों महीने का राशन हासिल कर लें। इसमें मप्र सरकार द्वारा भेजा जाने वाला अनाज एक रूपए किलो की दर से उपलब्ध होगा जबकि प्रधानमंत्री योजना का अनाज मुफ्त उपलब्ध कराया जाएगा।
इधर, राशन न मिलने की शिकायत लेकर पहुंचे ग्रामीण
छतरपुर। एक तरफ सरकार इस माह जनवरी और फरवरी का राशन एक साथ वितरित करने की तैयारी में है दूसरे तरफ राशन दुकानदारों द्वारा समय पर राशन नहीं वितरित किए जाने के मामले सामने आ रहे हैं। कलेक्ट्रेट पहुंचे ग्राम अमरौनिया के परमात्मादीन कुशवाहा ने बताया कि उसे पिछले दो माह से राशन नहीं दिया गया है। वह अपने दो बच्चों के साथ परिवार का भरण-पोषण कर रहा है लेकिन दुकानदार पीयूष पाठक के द्वारा राशन देने से मना कर दिया गया है। इसकी शिकायत उसने सरपंच और सचिव से भी लेकिन फिर भी राशन नहीं दिया गया। एक अन्य मामला बिजावर क्षेत्र के स्कूलों से जुड़ा है जहां साक्षी स्वसहायता समूह के द्वारा यहां की प्राथमिक और माध्यमिक शाला में राशन वितरण नहंी किया जा रहा है। दोनों मामलों की शिकायत करते हुए कलेक्टर से कार्यवाही की मांग की गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

बिहार में बड़ा हादसा: गंडक नदी में डूबा ट्रैक्टर, हादसे में 2 लोगों की मौत, 20 लापताभारत ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन 28 फरवरी तक बढ़ायासानिया मिर्जा ने किया संन्यास का ऐलान, बोलीं-'मेरा शरीर खराब हो रहा है'UP Assembly Elections 2022 : अखिलेश यादव ने कहा सपा की सरकार बनी तो महिलाओं को देंगे 1500 रुपये प्रति महीने पेंशनMaharashtra Nagar Panchayat Election Result: 106 नगरपंचायतों के चुनावों की वोटों की गिनती जारी, कई दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा दांव परOBC Reservation: ओबीसी राजनीतिक आरक्षण पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, आ सकता है बड़ा फैसलाUP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपी10 कंट्रोवर्शियल विधानसभा सीटें जहां से दिग्गज ठोकेंगे चुनावी ताल, समझें राजनीतिक समीकरण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.