24 घंटे में आगजनी की 6 घटनाएं, खड़ी फसल जलकर खाक

जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में हुई घटनाएं
4 घटनाएं बिजली के तार से, 2 घटनाओं में आग लगाने की आशंका

By: Dharmendra Singh

Published: 04 Apr 2019, 06:00 AM IST

छतरपुर। गर्मी व बिजली की लाइनों में शॉर्ट सर्किट के कारण आगजनी की घटनाएं बढऩे लगी है। इन घटनाओं में किसान के खेतों में खड़ी फसल या खलिहान में रखी फसल जल गई। मौसम के प्रकोप के बाद अब आग के कारण किसानों को हो रहे आर्थिक नुकसान से किसान परेशान हैं। पिछले 24 घंटे में ही 4 जगह आग लगने से फसल जलकर खाक हो गई। ये घटनाएं छतरपुर से लगे रामगढ़, कदौहा हार, गंज,दसईपुरा,कल्लूपुरा और बिजावर इलाके में हटवाहा में आगजनी से किसानों को नुकसान हुआ है। इन घटनाओं में 4 जगह बिजली के तार से आग लगी, जबकि 2 जगह असमाजिक तत्व द्वारा आग लगाने की शिकायत सामने आई है।
बिजली के तार से लगी आग :
नेशनल हाइवे पर बसे ग्राम गंज में टावर के पास बद्री प्रसाद अग्रवाल के खेत में लगे बिजली के तार टूटकर गिरने के कारण खेत में लगी फसल में आग लग गई। आग बुझाने के प्रयास में बटाईदार भगुंता अहिरवार भी आग चपेट में आ गया। मौके पर पहुंची डायल 100 की टीम के पायलट विपिन शर्मा और आरक्षक संत कुमार प्रजापति एवं ग्राम रक्षा समिति सदस्य शिव शंकर शर्मा ने ग्राम वासियों की मदद से आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन आग तेज हो गई थी। फिर फायर बिग्रेड को सूचना दी गी। मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड आग बुझाई। इसी तरह ग्राम दसईपुरा में अभी किसान किशोर कुशवाहा के खेत में भी खड़ी फसल में बिजली के तार के टूटने से लाखों की फसल खाक हो गई। मौके पर पहुंची डायल 100 टीम ने फायर बिग्रेड को सूचना दी जिस पर फायर बिग्रेड ने मौके पहुंचकर आग पर काबू पाया। इसी तरह रामगढ़ में गेहूं के ढेर में आग लगने से गेहूं जलकर खाक हो गया। ग्राम रामगढ़ निवासी तुलसी दास अहिरवार की दो एकड़ में गेहूं की फसल लगी थी। उसने फसल काटकर गेहंू निकाल कर खलिहान में गेहंू का ढेर लगाया था। बुधवार को दोपहर में अचानक गेहूं के ढेर में आग लग गई। तुलसीदास ने बताया कि फसल में आग लगने से करीब 50 क्विंटल गेहूं जलकर खाक हो गया है ।मौके पर पहुंची दमकल मशीन कर्मियों ने किसी तरह आग पर काबू पाया। वहीं, पूर्व सासंद स्व. जीतेन्द्र सिंह बुंदेला के कदौहा हार स्थित फॉर्म हाउस में लगी फसल व कटी हुई फसल में बिजली के तारों में स्पार्किंग के चलते आग लग गई। वहीं पड़ोसी किसान मुरली रैकवार के खेत में भी आग लगने से फसल जल गई। दोपहर 3 बजे आग लगने के बाद तेज हवा चलने से आग तेजी से फैली। आसपास के किसानों ने आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद डायल 100 और फायर बिग्रेड को सूचना दी गई। फायर बिग्रेड ने आग पर काबू पाया। तब आसपास के किसानों ने राहत की सांस ली। बटाईदार किसान हल्के कुशवाहा ने बताया कि पूर्व सासंद के खेत की 50 क्विंटल फसल और 30 पाइप जल गए। वहीं मुरली की 30 क्विंटल फसल जल गई।
लगाई गई आग :
ग्राम कलूपुरा में भी किसान कल्लू अहिरवार के खेत में खड़ी फसल जलकर राख हो गई। किसान कल्लू अहिरवार के बताए अनुसार आग जंगीपुरा निवासी दौलत अहिरवार द्वारा लगाई गई है। जिससे किसान का लाखों रुपए का नुकसान हुआ है। मौके पर पहुंची डायल100 टीम ने फायर ब्रिगेड को सूचना दी फायर बिग्रेड ने पहुंचकर आग पर काबू पाया। इसी तरह से बिजावर तहसील इलाके के थाना पिपट के अन्तर्गत आने वाल ग्राम हटवाहा में फी फसल जलाने का मामला सामने आया है। मंगलवार शाम 7 बजे ग्राम के किसान राजकुमार शर्मा के खेत की करीब 15 एकड से किनली करीब बीस ट्राली फसल में असमाजिक तत्वों के द्वारा किसी साजिश के तहत आग लगा दी गई। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत पुलिस से भी की है।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned