scriptFarmers waiting for irrigation project in Badamalhara and Ghuwara | बड़ामलहरा व घुवारा तहसील इलाके में सिंचाई परियोजना की राह ताक रहे किसान | Patrika News

बड़ामलहरा व घुवारा तहसील इलाके में सिंचाई परियोजना की राह ताक रहे किसान


श्यामरी के पुर्जीवन पर करोडों खर्च, काठन नदी की हातल भी जस की तस

 

छतरपुर

Updated: March 30, 2022 04:40:53 pm

दिलीप अग्रवाल

बड़ामलहरा। बडामलहरा व घुवारा तहसील क्षेत्र में सिचाई के संसाधन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डेढ वर्ष पूर्व काठन नदी सिचाई परियोजना की आधार शिला रखी थी। मुख्यमंत्री ने 16 सितंबर 2020 को ग्राम लिधौरा में उपचुनाव की सभा के दौरान 394 करोड रुपये की काठन सिंचाई परियोजना की आधार शिला रखी। इसके अलावा 150 करोड रुपये क्षेत्र के विकास कार्यो पर खर्च करने की घोषणा की थी। महत्वाकांक्षी काठन सिचाई परियोजना की आधार शिला रखने से क्षेत्र के लोगों में खुशी की लहर दौड गई। किसानों ने अपनी तकदीर बदलने की आशा में भाजपा सरकार को दिल खोलकर वोट दिया और उपचुनाव का परिणाम सरकार के पक्ष में आया। लेकिन महत्वाकांक्षी परियोजना पर कोई प्रगति नहीं दिख रही, जिससे क्षेत्र का किसान मायूस है।
आधारशिला रखने के डेढ साल बाद भी शुरु नहीं हुआ काम
आधारशिला रखने के डेढ साल बाद भी शुरु नहीं हुआ काम
इनको मिलेगा लाभ
योजनानुसार काठन नदी पर आमखेरा के पास बांध निर्माण प्रस्तावित है। बडामलहरा व घुवारा तहसील के 74 गावों की 15 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि को सिंचित की जाना है। इस योजना की पूर्णत: के पश्चात वर्षों से चली आ रही सूखे की समस्या से किसानों को निजात मिल सकेगी। घुवारा तहसील के पनवारी, चूरामनखेरा, चरखाखेरा, रिछारा, मूसनखेरा, चौनाउन खेरा, बांकपुरा, झिंगरी, माखनपुरा, रामपुरा, कुंवरपुरा सहित 19 गांव भगवां क्षेत्र के भगवां, जनकपुरा, मथानीखेरा, कुसाल सहित 16 गांव, बड़ामलहरा क्षेत्र के लिधौरा, पथरिया, पिपराकला, ग्वालगंज, सैरोरा, वीरों, धरमपुरा, बमनी सहित 39 गांव लाभांवित करने की योजना पर काम शुरु किया जाना था।
साफ नहीं हो रही देरी की वजह
विधायक प्रद्धुम्न सिंह लोधी ने मीडिया को बताया था कि, परियोजना में टेक्नीकल प्रॉब्लम आने से काम शुरु होनें में देरी हुई है। हालांकि, क्या टेक्नीकल प्रॉब्लम आई इसका खुलासा नहीं किया उन्होनें बताया कि, जल्दी ही टेंडर जारी कर योजना पर काम शुरु होगा। इधर जल संसाधन विभाग बडामलहरा के सहायक यंत्री श्रीराम रावत कहते है कि, एक माह पूर्व निविदा जारी हो चुकी है। छह माह पूर्व भू-अर्जन प्रकरण तैयार किए जा चुके है। अब हकीकत जो भी हो परियोजना का काम शुरु होने में देरी से किसान अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है।
फैक्ट फाइल
योजना- काठन सिंचाई परियोजना,
आधार शिला- 2020
लागत- 394 करोड
लाभांवित गांव- 74
तहसील- बडामलहरा, घुवारा
डूब क्षेत्र- 5 गांव
निर्माण एजेंसी- जल संसाधन
कार्य पूर्णत: अवधि- 18 माह
प्रगति- शून्य


22 करोड खर्च करके भी श्यामरी को नहीं मिला पुनर्जीवन
शिवराज सरकार ने क्षेत्र के किसानों को मजबूत करने की दिशा में श्यामरी नदी पुनर्जीवन योजना तैयार की थी इससे क्षेत्र के 3 दर्जन से अधिक गांव के हजारों परिवारों की किस्मत बदलने वाली थी। लेकिन प्रशासनिक उदासीनता से किसानों की किस्मत तो नहीं बदल सकी पर सरकारी राशि का दुरुपयोग जरूर हो गया। जल अभिषेक अभियान अंतर्गत बडामलहरा अंचल के खेतों के पानी पहुंचानें के उद्देश्य से प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने विगत 16 अप्रेल 2010 को ग्राम कर्री में नदी का पुनर्जीवन योजना का शुभारंभ किया था। सरकार ने क्षेत्र के 34 गांव के 19 हजार 200 परिवारों को लाभांवित करने की योजना तैयार की थी परंतु योजना का तरीकाबद्ध क्रियान्वयन न होने से योजना फिस्स हो गई। 22 करोड 11 लाख रुपए खर्च होने के बाद भी श्यामरी नदी जस की तस है नदी को पुनर्जीवन नहीं मिल सका। योजना पर स्वीकृत रकम हजम हो गई और 12 वर्ष बाद नदी को पुनर्जीवन नहीं मिल सका।

श्यामरी नदी पुनर्जीवन योजना
योजना की लागत- 22 करोड 11 लाख
शुरुआत- 16 अप्रैल 2010
नदी का उदगम स्थल- ग्राम पंचायत अंधियारा
नदी का विलय स्थल- काठन नदी
नदी की संभावित लंबाई- 22.2 किमी
जल ग्रहण क्षेत्र- 18 हजार 425 हेक्टेयर
लाभार्थी परिवार- 19 हजार 200
नदी से जुडी पंचायते- 15 पंचायतों के 34 गांव

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.