रामपुरा घाट पर रेत डंप में ट्रक ने पूर्व सरपंच को कुचला, अस्पताल में मौत

जांच में जुटी गोयरा पुलिस, मौत का कारण हादसा या हत्या, नहीं हुआ साफ

 


छतरपुर. बीती रात गोयरा थाना क्षेत्र अंतर्गत रामपुर घाट के समीप कंदैला में स्थित रेत डंप पर वाहन से कुचलने से पूर्व सरपंच की मौत हो गई। पुलिस को इस घटना की सूचना कई घंटे बाद लगी। मामला हत्या का है या फिर हादसा का गोयरा पुलिस इसकी जांच कर रही है।
जानकारी के अनुसार कंदैला में रेत कारोबारी रूद्र पटेल का जय मां दुर्गा नाम से रेत भंडारण यार्ड है। यहीं पर सोमवार की रात पूर्व सरपंच रामखिलावन उत्तरप्रदेश में पंजीकृत ट्रक की चपेट में आ गया। रेत भरने आए ट्रक से कुचलने के कारण रामखिलावन की हालत गंभीर हो गई। थाने को सूचना दिए बिना ही रात को ही डंप के कर्मचारी उसे जिला अस्पताल छतरपुर लेकर आए। जहां कुछ समय में ही इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
डंप पर पहुंचने की कहानी उलझी
इस पूरे मामले में रामखिलावन के रात के वक्त रेत डंप पर पहुंचने की कहानी उलझी हुई है। कुछ लोग जहां इसी डंप पर उसके काम करने की बात कह रहे हैं, वहीं डंप के कर्मचारी इससे इंकार कर रहे हैं। हालांकि हादसे के बाद डंप पर मौजूद कर्मचारियों ने रामखिलावन को स्थानीय पुलिस को सूचित किए बगैर इलाज के लिए छतरपुर जिला अस्पताल ले जाना मुनासिब समझा जहां मंगलवार को रामखिलावन ने दम तोड़ दिया। कर्मचारियों ने बताया कि रामखिलावन इस क्षेत्र से गुजर रहा था तभी यह हादसा घटित हुआ। अभी यह भी साफ नहीं हुआ है कि रामखिलावन की मौत ट्रक से कुचलने के कारण हुई या फिर वह एलएनटी की चपेट में आया था। उधर पुलिस रामखिलावन के परिवार के लोगों के बयानों, चश्मदीदों के बयानों और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।
हथौहां में दबिश, छिपाई गई तीन एलएनटी नाले से जब्त
छतरपुर. जिले के हिनौता थाना क्षेत्र में बड़े पैमाने पर रेत का अवैध उत्खनन किए जाने का पत्रिका ने सोमवार के अंक में खुलासा किया था। इस पर खनिज अधिकारी अमित मिश्रा, खनिज निरीक्षक अजय मिश्रा, चंदला तहसीलदार पीयूष दीक्षित, हिनौता पुलिस बल के साथ हथौहां पहुंचे, जहां केन नदी में उत्खनन के लिए लाई गईं तीन एलएनटी मशीनों को जब्त करते हुए हिनौता पुलिस के हवाले कर दिया है। खनिज निरीक्षक अजय मिश्रा ने बताया कि शाम करीब 4 बजे लसगरहा के नाले में छिपाकर रखी गईं तीन एलएनटी मशीनों को जब्त किया गया है। इन मशीनों को स्कूल में रखवाकर थाने के सुपुर्द किया गया है। पुलिस इनकी निगरानी करेगी। बताया गया है कि मशीनों को फिर से काम पर लगाना था इसलिए उन्हें छिपाकर रखा गया था। मंगलवार को जिस समय कार्रवाई हुई उस वक्त थाना प्रभारी थाने में मौजूद नहीं थे।
&डंप के कर्मचारियों की सूचना के आधार पर मर्ग कायम किया गया है। पीएम रिपोर्ट में जो भी सच्चाई सामने आएगी उसी के आधार पर संबंधित आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।
हेमंत नायक, थाना प्रभारी गोयरा

हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned