झांसी से सागर नेशनल हाइवे को जोडऩे वाली फोरलेन रिंग को मंजूरी

सर्वे व डीपीआर बनाने की प्रक्रिया शुरु
टीकगमढ़ सांसद की पहल पर केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने दी मंजूरी
अब शहर से गुजरने वाले दोनों नेशनल हाइवे जुड़ेंगे फोरलेन रिंग से

By: Dharmendra Singh

Published: 10 Jan 2021, 09:15 PM IST

छतरपुर। शहरवासियों को ट्रैफिक जाम और हादसों से निजात दिलाने के लिए भारी वाहनों का शहर में प्रवेश रोकने के लिए शहरवासियों की रिंगरोड की मांग पूरी होने जा रही है। शहर के चारों ओर रिंग रोड बनाने का रास्ता साफ हो गया। अभी तक रिंग रोड के आधे हिस्से का निर्माण पूरा हुआ है। जिसमें झांसी-खुजराहो फोरलेन के तहत नौगांव रोड से महोबा रोड होते हुए पन्ना रोड तक का निर्माण चल किया गया है। वहीं, पन्ना रोड से सागर रोड तक भारत माला योजना के तहत फोरलेन रिंग बनाने के लिए मंजूरी मिलने पर डीपीआर बनाया गया है। लेकिन सागर रोड से झांसी फोरलेन को जोडऩे के लिए फोरलेन रिंग कोई योजना नहीं थी। इस संबंध में टीकमगढ़ सांसद डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने पहल करते हुए केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गड़करी को पत्र लिखकर शहर की समस्या के बारे में बताया, जिसके बाद मंत्री ने पत्र का जवाब देते हुए बताया है कि सागर से झांसी फोरलेन को जोडऩे के लिए फोरलेन रिंग की मंजूरी दे दी गई है। इसके साथ ही एनएचएआई को फोरलेन रिंग के सर्वे और डीपीआर बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

झांसी-खजुराहो फोरलेन बाईपास हो गया है शुरु
झआंसी खजुराहो फोरलेन के तहत रीवा ग्वालियर नेशनल हाइवे को जोडऩे के लिए फोरलेन बाइपास तैयार हो गया है। इससे ग्वालियर से आने वाले वाहन कानपुर मार्ग जाने के लिए शहर में आने की जरूरत अब नहीं पड़ रही रही है। वहीं कानपुर से आने वाले वाहन भी ग्वालियर-झांसी के लिए शहर में बिना प्रवेश किए फोरलेन से सीधे ग्वालियर की ओर जाने लगे हैं। वही इसी प्रोजेक्ट पर कानपुर से रीवा रोड के फोरलेन बाइपास का काम भी तेजी से चल रहा है। इसके तैयार होने पर रीवा से आने वाले वाहन बिना शहर में घुसे कानपुर और ग्वालियर मार्ग पर सीधे निकल सकेंगे।

पन्ना रोड से सागर रोड तक का डीपीआर तैयार
पन्ना रोड से सागर रोड को जोडऩे के लिए शहर के आउटर में फोरलेन बनाने के लिए भारतमाला योजना के तहत केन्द्रीय परिवहन मंत्रालय से मंजूरी पूर्व में मिल चुकी है। इस फोरलेन को बनाने के लिए रिंगरोड का डीपीआर भी बनकर तैयार हो गया है। इसके लिए चिंहित जमीन का अधिग्रहण कर फोरलेन का काम शुरु किया जाएगा। ये फोरलेन बाइपास सागर कानपुर फोरलेन पर सागर के चौका-ढड़ारी से रीवा- ग्वालियर नेशनल हाइवे पर चंद्रपुरा के पास जोड़ा जाएगा।

अब सागर रोड से झांसी रोड भी जुड़ेगा
केन्द्रीय परिवहन मंत्री से मंजूरी मिलने के बाद अब झांसी से आने वाले फोरलेन को गौरगांय से चौका-ढड़ारी तक जोड़े जाने की कवायद शुरु हो गई है। केन्द्रीय मंत्री की मंजूरी के बाद फोरलेन बाइपास के सर्वे के निर्देश एनएचएआई को दिए गए हैं। सर्वे के बाद जमीन की हाइट के मुताबिक झांसी से सागर रोड को जोडऩे के लिए फोरलेन बाइपास का डीपीआर बनाया जाएगा। जिसके बाद इस हिस्से पर भी फोरलेन बाइपास बनने से शहर के चारों ओर फोरलेन बाइपास बन जाएगा। इस तरह से शहर से गुजरने वाले रीवा-ग्वालियर और सागर कानपुर नेशनल हाइवे को जोडऩे के लिए शहर के बाहर भी फोरलेन रिंग तैयार हो जाएगी। इससे बिना शहर में घुसे किसी भी फोरलेन से दूसरे फोरलेन पर वाहन जा सकेंगे।

जल्द होगा सर्वे
झांसी से आने वाले फोरलेन को कानपुर-सागर फोरलेन पर जोडऩे के लिए केन्द्रीय मंत्री से सहमति मिल गई है। उन्होंने पत्र के जवाब में इसकी जानकारी दी है। फोरलेन बाइपास के इस हिस्से का सर्वे जल्द हो जाएगा। इसके बनने से शहर के चारो ओर फोरलेन बाइपास बनने से आवागमन की सुविधा बेहतर होगी।
डॉ. वीरेन्द्र कुमार, सांसद

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned