जेंडर संवेदीकरण से आएगी जेंडर समानता

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना अंतर्गत सम्मान, सुरक्षा, स्वरक्षा संवाद थीम पर जेंडर संवेदीकारण कार्यशाला का आयोजन किया गया

छतरपुर। भारत सरकार द्वारा संचालित बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का छतरपुर जिले में विस्तार किया गया है। जिसके तहत व्यापक प्रचार प्रसार के लिए विभिन्न स्कूलों में कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसी के अंतर्गत महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वाधान में सरस्वती शिशु मंदिर हायर सेकेंडरी स्कूल छतरपुर में बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना अंतर्गत सम्मान, सुरक्षा, स्वरक्षा संवाद थीम पर जेंडर संवेदीकारण कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास विभाग से जिला कार्यक्रम अधिकारी संजय जैन, स्वस्थ भारत मिषन की प्रेरक पोषिता दत्ता, प्रदीप रिछारिया व मनोज साहू उपस्थित रहे। साथ ही विद्यालय से प्राचार्य अनिल अग्रवाल व विद्यालय का स्टॉफ उपस्थित रहा। कार्यक्रम के प्रथम सत्र में जिला कार्यक्रम अधिकारी संजय जैन द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजनांतर्गत सम्मान, सुरक्षा स्वरक्षा संवाद कार्यक्रम अंतर्गत जेंडर संवेदीकरण पर चर्चा कर योजना के उद्देष्य के बारे में विस्तार से बताया गया। साथ ही कहा बढ़ती हिंसा व घटती बेटियां यह एक चिंता का विषय है। संजय जैन ने छात्राओं को बताया कि उन्हें अपनी मानसिकता को परिवर्तन करने की आवश्यकता है। केवल कानून या दण्डात्मक कार्रवाई करने से अपराधों को रोका नहीं जा सकता है। इसके लिए लोगों में मानसिकता परिवर्तन लाने की आवश्यकता है। उपस्थित छात्राओं ने विभिन्न प्रकार के प्रश्न पूछे, जिनका उत्तर पोषित दत्ता द्वारा दिया गया। छात्राओं को गुड टच व बैड टच के बारे में भी बताया गया। उपस्थित छात्र-छात्राओं द्वारा अपने विचार व्यक्त किए गए। कार्यक्रम के द्वितीय सत्र में लैंगिक अपराधों से बालकों के संरक्षण अधिनियम 2012 पर विस्तार से चर्चा की गई। छात्राओं को कैरियर से संबंधित जानकारी भी प्रदाय की गई और बाल हिंसा यौन उत्पीडन के संबंध में भी विस्तार से बताया गया। कार्यक्रम में नवमीं, दसवीं, ग्यारवीं व बारहवीं विभिन्न संकाय की लगभग 200 छात्राएं उपस्थित रही। कार्यक्रम के दौरान अंत फोल्डर (कैरी बैग, नोटबुक, पेन व स्वल्पाहार) का वितरण कर कार्यक्रम का समापन किया गया।

Unnat Pachauri
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned