पन्ना जिले की चांदीपाटी में हैवी मशीनों से निकाल रहे रेत

पन्ना जिले की चांदीपाटी में हैवी मशीनों से निकाल रहे रेत

By: Sanket Shrivastava

Published: 06 Jun 2020, 03:40 PM IST

छतरपुर. लॉकडाउन में भी अवैध कारोबार पर लगाम नहीं है। छतरपुर जिले की सीमा पर पन्ना जिले की चांदीपाटी और खरोनी रेत खदान से हैवी मशीनों के जरिए केन नदी के पानी से रेत निकाली जा रही है। चांदीपाटी में हैवी मशीनें दिन में पानी की तलहटी से रेत निकालती और रात में ट्रकों में भरकर रेत का अवैध परिवहन किया जा रहा है। वहीं, खरोनी में लिप्टर के जरिए नदी के पानी से रेत निकाली जा रही है। बांदा प्रशासन ने यूपी जाने के रास्तों को मशीनों से खोदकर बंद कर दिया है।
छतरपुर जिले की हर्रई रेत खदान से लगे पन्ना जिले की चांदीपाटी रेत खदान में 3 हैवी मशीनें नदी के पानी के अंदर से रेत निकाल रही है। इसी तरह छतरपुर जिले की नेहरा रेत खदान से लगी पन्ना जिले की खरोनी रेत खदान से लिफ्टर के जरिए रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। नदी से रेत निकालने के लिए हैवी मशीनों का उपयोग प्रतिबंधित होने के वाबजूद धड्ल्ले से मशीनों के जरिए अवैध उत्खनन कर नदी के अस्तित्व को खतरे में डाला जा रहा है। अवैध रुप से निकाली गई ये रेत यूपी के नरैनी-बांदा जाती थी। लेकिन दो दिन पहले बांदा पुलिस ने यूपी जाने वाले रास्तों को मशीनों से खोदकर बंद करवा दिया। इसके बाद से अवैध उत्खनन कर निकाली गई रेत पन्ना जिले के जरिए सतना भेजी जा रही है।
यूपी ने बंद किए रास्ते : नरैनी (बांदा) जिले की पुलिस ने अवैध रेत के परिवहन की सूचना मिलने पर दो दिन पहल करतल चौकी प्रभारी ने रेत माफिया द्वारा उत्तरप्रदेश रेत ले जाने के लिए बनाए गए कच्चे रास्तों को मशीनों से खुदवाकर बंद करा दिया है। रेत माफिया खरौनी से रेत निकालकर करतल के रास्ते रेत यूपी ले जा रहे थे। पुलिस ने रास्ते बंद किए तो माफिया ने अवैध रेत की सप्लाई यूपी के लिए बंद कर सतना के लिए बढ़ा दी है।

Sanket Shrivastava Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned