scriptIf there is more than 10 thousand income then you will not get Ujjwala | 10 हजार से ज्यादा आय है तो नहीं मिलेगा उज्ज्वला योजना का कनेक्शन | Patrika News

10 हजार से ज्यादा आय है तो नहीं मिलेगा उज्ज्वला योजना का कनेक्शन

घोषणा पत्र में देनी होगी जानकारी, तभी मिलेगा महिलाओं के नाम रसोई गैस कनेक्शन
जिले में 2 लाख 18 हजार कनेक्शन, लेकिन रिफलिंग केवल 40 फीसदी सिलेंडरो की

छतरपुर

Published: August 22, 2021 07:44:34 pm

छतरपुर। पूरे देश में रसोई गैस की उज्ज्वला योजना का 2.0 वर्सन शुरु हो गया है। महिलाओं को फ्री में गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं। लेकिन इस बार नई शर्त जोड़ दी गई है। उज्जवला गैस कनेक्शन लेने के लिए हितग्राही को 14 पॉइंट का घोषणा पत्र भरना होगा। इसके बाद ही गैस कनेक्शन जारी हो पाएगा। यदि किसी के घर में बाइक है, तो उसे गैस कनेक्शन नहीं मिलेगा। ऐसे परिवार जिनके घर में परिवार के किसी भी सदस्य के नाम गैस कनेक्शन नहीं है। वे महिला के नाम पर योजना में गैस कनेक्शन ले सकते हैं।
अलग हो गए परिवारों को मिलेगा नया कलेक्शन
अलग हो गए परिवारों को मिलेगा नया कलेक्शन
अलग हो गए परिवारों को मिलेगा नया कलेक्शन
यहां समग्र आईडी के साथ आवेदन करने पर नि:शुल्क गैस सिलेंडर मिल जाएगा। योजना में केवल महिलाओं के नाम से गैस कनैक्शन फ्री में दिए जाएंगे। परिवार की समग्र आईडी में दर्ज किसी भी व्यक्ति के नाम से उज्ज्वला या नॉर्मल गैस कनेक्शन नहीं होना चाहिए। ऐसे परिवार जो अलग हो गए हैं और उनके परिवार में पहले से उज्ज्वला गैस कनेक्शन हैं तो ऐसे परिवार को भी इस योजना में गैस कनेक्शन दिया जा सकेगा, लेकिन इसके लिए उनको पिछले गैस कनैक्शन के ग्राहक नंबर देना होंगे।
ये होगा तो नहीं मिलेगा कनेक्शन
लैंडलाइन फोन, परिवार के किसी सदस्य की 10 हजार रुपए से ज्यादा आय, आयकरदाता, प्रोफेशनल टैक्स चुकाते हों, घर में रेफ्रीजरेटर, परिवार में सरकारी कर्मचारी हो, टू व्हीलर, थ्री व्हीलर या फोर व्हीलर है तो ऐसे हितग्राहियों को उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेंडर का कनेक्शन नहीं दिया जाएगा।
शोपीस बन गए उज्ज्वला के कनेक्शन
प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना योजना का मुख्य उद्देश्य गांव एवं शहरों में गरीब परिवारों को गैस क नेक्शन देकर उन्हें लकड़ी और कंडे के धुएं से निजात दिलाना रहा है। लेकिन उज्ज्वला योजना के कनेक्शन लेने में कमीशन और फिर सिलेंडर रिफिल कराने में रुपए लगने, सिलेंडर भराने के लिए गांव से दूरे जाने जैसे कारणों के चलते उज्ज्वला के कनेक्शन शोपीस बन गए हैं। उज्ज्वला योजना के तहत जिले के ग्रामीणों ने कनेक्शन तो ले लिए, लेकिन एक बार सिलेंडर खाली हो जाने के बाद दोबारा रिफिल नहीं कराए। ग्रामीण इलाके में एक बार फिर से लकड़ी पर खाना बनाने का दौर शुरु हो गया है। उज्ज्वला योजना में मिले गैस कनेक्शन केवल घर में शो-पीस बनकर रह गए हैं। गैस की तुलना में लकड़ी सस्ती पडऩे और गांव में ही उपलब्ध होने के कारण ग्रामीण गैस का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। वहीं खाने के स्वाद को लेकर ग्रामीण गैस का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। सब्सिडी नहीं मिलने से बाजार दर पर गैस भरवाने से भी गरीब हितग्राही पीछे हट गए हैं।
इसलिए नहीं भरवा रहे गैस सिलेंडर
उज्ज्वला कनेक्शन लेने वाले ग्रामीण भी जानते हैं, कि खाना बनाते समय चूल्हे से निकलने वाले धुएं से उनकी आखों, फेंफड़ों में कई प्रकार की बीमारियां हो जाती है, इसके अलावा और भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए ग्रामीणों ने गैस कनेक्शन तो ले लिए लेकिन एक बार सिलेंडर खत्म हो जाने के बाद दोबारा रिफिल नहीं कराए। बिलहरी, दौरिया समेत कई गांव की महिलाओं श्यामबाई अहिरवार, कृष्णा राजपूत, शिला प्रजापति, मीना प्रजापति, गायत्री, रानी, गीता प्रजापति ने बताया कि हमने एक साल पहले गैस कनेक्शन लिया था, कनेक्शन के बाद आज तक गैस नहीं भरवाई। गैस न भरवाने की वजह पूछने पर उनका कहना है कि, गैस मंहगी है जिसके कारण उसको भराना मुश्किल होता है, सब्सिडी मिलती भी है तो बाद में, पहले तो रुपए लगाने पड़ते हैं। लीलाबाई ने बताया की पति मजदूरी करते है, मजदूरी में इतना पैसा ही मिल पता है जिसमें परिवार का भरण पोषण बड़ी मुश्किल से होता है। गैस के लिए पैसे ही नहीं बचते इसलिए मजबूर होकर कंडे एवं लकड़ी जला कर चूल्हे से खाना बनाना पड़ता है।
फैक्ट फाइल
उज्ज्वला कनेक्शन - 2 लाख 18 हजार 402
उज्ज्वला डिस्ट्रीब्यूटर- 27
सिलेंडर रिफिलिंग प्रतिशत- 40

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

CM चन्‍नी का बड़ा आरोप, जाते-जाते ईडी के अफसरों ने कहा, ‘PM का दौरा याद रखना’भारत विरोधी कंटेंट चलाने वाले यूट्यूब चैनलों के खिलाफ होगा एक्शन- अनुराग ठाकुरभारत ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन 28 फरवरी तक बढ़ायाभाजपा की स्टार प्रचारकों की लिस्ट से 8 महत्वपूर्ण नेता और केंद्रीय मंत्री गायब, BJP ने साइड कर दिया?अपर्णा यादव और स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी को BJP ने बनाया पोस्टर GirlUP PCS Main 2021 Postponed: यूपी पीसीएस की मुख्य परीक्षा स्थगित, ये हैं नयी तारीखरेगिस्तान में यहां छुपा है 4800 खरब लीटर पानी का खजानाकल होगा Toyota का धमाका! नए सेग्मेंट में एंट्री के साथ लॉन्च होगी नई पिक-अप Hilux, जानिए क्या है इसमें ख़ास
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.