जिले में संक्रमण की दर बढ़ी, प्रदेश के औसत से भी ज्यादा हुई दर

मृत्यु दर भी औसत से ज्यादा
संक्रमित होने की दर बढऩे से रिकवरी रेट घटा, 2 फीसदी तक रिकवरी में आई गिरावट
जिले में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर, हर 30वां सैंपल निकल रहा पॉजिटिव

By: Dharmendra Singh

Updated: 23 Nov 2020, 07:50 PM IST

Chhatarpur, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

छतरपुर। मौसम में बदलाव के कारण जिले में रात का तापमान तीन दिन में 7 से 8 डिग्री तक गिर गया है। तापमान में आई गिरावट के कारण कोरोना संक्रमण की दर बढ़ रही है। जिले में संक्रमित होने की दर अब बढ़कर 3.92 प्रतिशत हो गई है। अक्टूबर में सुधरे हालात नवंबर में फिर से बिगडऩे लगे हैं। जिले में हर तीसवां सैंपल अब पॉजिटिव निकल रहा है। संक्रमण से स्वस्थ होने वाली की अच्छी संख्या के बावजूद संक्रमितों की संख्या बढऩे से जिले का रिकवरी रेट भी गिर गया है। मृत्यु दर पहले से ही प्रदेश के औसत से अधिक थी। ऐसे में ठंड़ के दौरान संक्रमण को लेकर ज्यादा सावधानी बरतने की सलाह स्वास्थ विभाग ने दी है।

प्रदेश की तुलना में जिले में मृत्यु दर ज्यादा
प्रदेश में कोरोना की स्थिति की तुलना में छतरपुर जिले की स्थिति अक्टूबर में बेहतर थी, लेकिन अब बेहतर नहीं कही जा सकती है। नवंबर में मामले बढऩे के साथ ही जिले में संक्रमित होने की दर बढ़ गई है। जिले में संक्रमित होने की दर अब 3.92 फीसदी हो गई है। वहीं, रिकवरी रेट 2 फीसदी घटकर 92.87 फीसदी हो गया है। जबकि प्रदेश में संक्रमित होने की दर 5.52 और रिकवरी रेट 92.27 प्रतिशत है। जिले में कोरोना संक्रमण से मौत की दर 1.73 हो गई है, जबकि प्रदेश में औसत मृत्यु दर 1.64 फीसदी है।

संभाग के 6 जिलो में छतरपुर की स्थिति बेहतर नहीं
सागर संभाग के 6 जिलों की बात करें तो सागर व दमोह के बाद सबसे खराब स्थिति छतरपुर जिले की है। सागर में संक्रमित होने की दर 3.52, दमोह में 5.65 फीसदी है, जबकि छतरपुर में 3.92 और टीकमगढ़ में 2.75, निवाड़ी में 2.54, पन्ना में 2.63 प्रतिशत है। इसी तरह रिकवरी रेट पन्ना में 95.91 प्रतिशत, टीकमगढ़ में 91.82, निवाड़ी में 95.72, सागर में 89.70 और दमोह में 89.96 फीसदी है। जबकि छतरपुर में ये दर 92.87 प्रतिशत है। मृत्यु दर के मामले में सागर संभाग में सबसे ज्यादा 3.18 फीसदी मृत्यु दर सागर में है। इसके बाद दमोह में 2.99 प्रतिशत, फिर छतरपुर में 1.73 प्रतिशत, टीमकढ़ में 1.09, निवाड़ी में 0.19 और पन्ना में 0.34 फीसदी है।

पॉश इलाके बन रहे ग्रीन जोन
कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है। जिले में आई कोरोना की दूसरी लहर में पॉश इलाके ग्रीन जोन बनते नजर आ रहे हैं। जिला मुख्यालय पर पॉश इलाकों में संक्रमण के मामले नवंबर माह में बढ़ रहे हैं। वहीं, संक्रमित पाए जाने वाले मरीजों में बुजुर्गो की संख्या में इजाफा हुआ है। शहर के ग्रीन एवेन्यू, सन सिटी, चेतगिरी कॉलोनी, बजरंगनगर, विश्वनाथ कॉलोनी जैसे पॉश इलाकों में पिछले दस दिन में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं।

बुजुर्गो में बढ़ रहा संक्रमण
अक्टूबर की तुलना में नवंबर माह में संक्रमित मिलने वाले मरीजों में 50 साल से ज्यादा उम्र के मरीजों की संख्या बढ़ी है। संक्रमितों के 46 फीसदी मरीज 50 साल से ज्यादा उम्र के हैं। वहीं संक्रमितों में 60 और 80 साल की उम्र से ज्यादा के भी मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। ज्यादा उम्र वाले लोगों के संक्रमित मिलने से रेफर होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ी है। इधर, जिले में संसाधन जुटाने के बाद स्टाफ की कमी के चलते गंभीर मरीजों का इलाज नहीं हो पा रहा है।

अब जिले में 100 के पार हुए एक्टिव केस

सोमवार को जिले में 14 नए पॉजिटिव मिले है। सोमवार को आई पॉजिटिव रिपोर्ट में जिले के राजनगर और लवकुशनगर में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। बीएमसी सागर से आई 266 सैंपल की रिपोर्ट में एक पॉजिटिव की पहचान हुई है, वहीं, एंटीजन किट से 200 सैंपल की जांच करने पर 13 संक्रमितों की पहचान हुई है। सोमवार के 14 मामलों को मिलाकर जिले में कोरोना पॉजिटिवों की संख्या 1717 हो गई है, वहीं ठीक होने पर सोमवार को राजनगर से एक मरीज डिस्चार्ज भी हुआ है। जिले में अबतक कुल 1583 मरीजों ने कोरोना को मात दी है।

यहां मिले संक्रमित
बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सागर से आई रिपोर्ट में अनगौर गांव के वार्ड नंबर 10 में 70 वर्षीय बुजुर्ग पुरुष संक्रमित पाए गए हैं। वहीं, एंटीजन किट से जांच में छतरपुर शहर में वार्ड नंबर 30 में 35 साल की महिला, बजरंगनगर में 12 साल का लड़का, सनसिटी में 82 साल के बुजुर्ग, परवारी मोहल्ला में 3 साल की बच्ची पॉजिटिव पाई गई है। इसके अलावा राजनगर के टंकी मोहल्ला में 45 साल का पुरुष, फौजदार मोहल्ला में 18 साल का युवक, 50 साल की महिला, 16 साल का युवक, 14 साल की लड़की, कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। बड़ामलहरा में 48 साल के पुरुष भी पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं, लवकुशनगर के वार्ड नंबर 3 में 48 साल के पुरुष व 45 साल की महिला, वार्ड नंबर 7 में 18 साल का युवक संक्रमित पाए गए हैं।

149 सैंपल भेजे, 364 पेंडिंग
सोमवार को जिले से 149 सैंपल जांच के लिए बीएमसी सागर भेजे गए हैं। बीएमसी में अब 364 सैंपल की जांच रिपोर्ट पेंडिंग है। जिले से अबतक कुल 44996 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं, जिसमें से 42547 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 368 सैंपल रिजेक्ट हुए हैं।

104 हुए एक्टिव केस
जिले में अब एक्टिव केसों की संख्या 104 हो गई है। जिसमें से 90 मरीजों को होमआइसोलेशन में इलाज चल रहा है। जबकि 2 मरीजों को आइसोलेशन वार्ड व कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया है। जिले में अबतक 432 लोगों को होमआइसोलेशन पर रखा गया है, जिसमें से अब 90 लोग ही इलाजरत हैं। जिले में रोजाना स्क्रीनिंग भी की जा रही है, सोमवार को 542 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। वहीं, ऑपरेशन पहचान के तहत सदी-खांसी और बुखार के 61 मरीजों की पहचान हुई है।

COVID-19
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned