scriptKen Betwa Link Project: Tigers will be displaced in three centuries | केन बेतवा लिंक परियोजना: तीन सेंचुरी में विस्थापित किए जाएंगे बाघ | Patrika News

केन बेतवा लिंक परियोजना: तीन सेंचुरी में विस्थापित किए जाएंगे बाघ

नौरादेही और दुर्गावती वन्यजीव अभयारण्य, रानीपुर वन्य जीव अभयारण्य के बीच बनेगा कॉरिडोर
नदी जोड़ों परियोजना के साथ लैंडस्केप प्रबंधन योजना की अंतिम रिपोर्ट तैयार

छतरपुर

Updated: June 05, 2022 04:22:47 pm

छतरपुर। केन बेतवा लिंक परियोजना की अङ्क्षतम रिपोर्ट जल शक्ति मंत्रालय ने जारी कर दी है। अंतिम रिपोर्ट में पूरे इलाके में नदियों को जोडऩे के रोड मैप के साथ पारिस्थितिकी तंत्र संरक्षण के लिहाज से विस्तृत कार्ययोजना को तैयार किया गया है। इस कार्य योजना में वन्यजीव संरक्षण के लिए भी विशेष प्रयास किए गए हैं। इसमें मध्यप्रदेश के नौरादेही वन्यजीव अभयारण्य और दुर्गावती वन्यजीव अभयारण्य, उत्तर प्रदेश के रानीपुर वन्य जीव अभयारण्य के मध्य संपर्क मार्ग बनाकर एक ऐसे कॉरिडोर के निर्माण की परिकल्पना की गई है, जिसकी मदद से तीन सेंचुरी में बाघ संरक्षण के लिए उपयुक्त पारिस्थितिकी तंत्र उपलब्ध हो सकेगा। इससे बाघों के संरक्षण के साथ रानीपुर में भी बाघ और दूसरे वन्यजीवों की आबादी को स्थापित करने में मदद मिलेगी।
ग्रेटर पन्ना लैंडस्केप की प्रबंधन योजना बनी
ग्रेटर पन्ना लैंडस्केप की प्रबंधन योजना बनी
बाघ के साथ गिद्ध और धडिय़ाल का भी होगा संरक्षण
दोनों नदियों और उनके आसपास के पूरे इलाके का व्यापक अध्ययन और डाटा विश्लेषण किया गया है। साथ ही प्रस्तावित गतिविधियों के कार्यान्वयन के लिए विस्तार पूर्वक प्रत्येक साइड का इनपुट भी एकत्र किया जिसमें बाघ, गिद्ध और घडिय़ाल जैसी प्रमुख जातियों के संरक्षण और उन्हें आवास के साथ-साथ बेहतर प्रबंधन देने के लिए भी इस एकीकृत प्लान में व्यापक प्रावधान किए गए हैं। रिपोर्ट में स्थानीय परिदृश्य में जैव विविधता संरक्षण और मानव कल्याण के साथ रोजगार सृजन पर विशेष जोर दिया गया है। इसके अलावा वन आश्रित समुदायों को समायोजित करने के लिए इसके तहत विशेष रूप से प्रावधान किए गए हैं।
ग्रेटर पन्ना लैंडस्केप की प्रबंधन योजना बनी
केन बेतवा लिंक के वन्यजीवों और पारिस्थितिकी तंत्र के लिए केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय ने ग्रेटर पन्ना लैंडस्केप के लिए एकीकृत लैंडस्केप प्रबंधन योजना की अंतिम रिपोर्ट जारी की। इसे भारतीय वन्यजीव संस्थान ( डब्ल्यूआइआइ) देहरादून ने तैयार किया गया है। डब्ल्यूआइआइ के वैज्ञानिक डॉक्टर रमेश प्रधान के नेतृत्व में परियोजना दल ने उन्नत वैज्ञानिक उपकरणों और तकनीकों का प्रयोग कर रिपोर्ट बनाई है।
वन्य जीवों के विस्थापन का कार्य पकड़ेगा जोर
इस परियोजना की वजह से पन्ना टाइगर रिजर्व का करीब आधा हिस्सा पानी में डूब जाएगा। ऐसे में टाइगर रिजर्व के वन्य प्राणियों को सुरक्षित दूसरे स्थान पर बसाने के लिए कोर एरिया को विस्तार देने की योजना है। दोनों नदियों केन और बेतवा पर बनने वाले ढोढऩ बांध में अब सबसे बड़ी अड़चन पन्ना टाइगर रिजर्व ही है। पहले यहां से वन्यप्राणियों को दूसरी जगह शिफ्ट किया जाना है। इसके लिए कार्यवाही तेज हो गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने कहा- देश की राजनीति में परिवारवाद और दोस्तवाद खत्म कर भारतवाद लाएंगेMaharashtra Cabinet Expansion: कल हो सकता है शिंदे मंत्रिमंडल का विस्तार, CM आवास पहुंचे देवेंद्र फडणवीस'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारीगालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीShirdi Flood: शिरडी में भारी बारिश से हाहाकार, सरकारी विश्राम गृह और साईं प्रसादालय पानी में डूबा, देखें तस्वीरेंझारखंडः जमशेदपुर में माता-पिता की हत्या कर 13 साल की बेटी हुई फरार, खून से सने लाश के साथ हथौड़ा भी बरामदखाटूश्यामजी हादसा: दो शवों की भी हुई शिनाख्त, पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम ने की जांच व मुआवजे की घोषणाMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट का फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 और कंपनी डायरेक्टर को 4 साल की जेल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.