खजुराहो नृत्य महोत्सवः कला-संस्कृति और पर्यटन के रंग में सराबोर हुआ विश्व धरोहर

- पद्मश्री गीता चंद्रन के भरतनाट्यम से हुआ खजुराहो नृत्य महोत्सव का आगाज
- 47वें अंतरराष्ट्रीय नृत्य समारोह का शुभारंभ
-राज्य अलंकरण पुरस्कारों से कलाकारों को किया सम्मानित

By: Hitendra Sharma

Published: 21 Feb 2021, 08:51 AM IST

छतरपुर. 47वें खजुराहो नृत्य समारोह का शुभारंभ शनिवार को हुआ। समारोह में पद्मश्री गीता चंद्रन के भरतनाट्यम से सजी शाम से विश्व धरोहर गुंजायमान हो गई। अनुभूति के बीच रोशनी से नहाए मुक्ताकाश मंच और मंदिर की आलौकिक छवि नजर आई। इसके बाद दीपक महाराज के कत्थक ने समारोह में चार चांद लगा दिए। २६ फरवरी तक चलने वाले इस समारोह का शुभारंभ पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने किया। संस्कृति विभाग के उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत एवं कला अकादमी, संस्कृति परिषद द्वारा आयोजित समारेाह में भारतीय शास्त्रीय नृत्य विधाओं पर आधारित प्रस्तुतियां होंगी।

इन कलासाधकों को मिला सम्मान
समारोह की शुरुआत में भोपाल के मुकेश रजक को देवकृष्ण जटाशंकर जोशी पुरस्कार, सतवास के प्रभात जोशी को मुकुंद सखाराम भांड पुरस्कार, ग्वालियर के आलोक शर्मा को सैयद हैदर रजा पुरस्कार, बुरहानपुर की बुशरा अम्बरीन को दत्तात्रय दामोदर देवलालीकर पुरस्कार, राजगढ़ के रोहित जोशी को जगदीश स्वामीनाथन पुरस्कार, दमोह के आदर्श पलन्दी को विष्णु चिंचालकर पुरस्कार, भोपाल की गीतांजलि उरवेति को नारायण श्रीधर बेंद्रे पुरस्कार, ग्वालियर के राजेश देवरिया को रघुनाथ कृष्णराव फड़के पुरस्कार, भोपाल के सुभाष व्यास को राममनोहर सिन्हा पुरस्कार, बालाघाट के चंद्रपाल पांजरे को लक्ष्मी सिंह राजपूत पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

एक साल बाद फिर विश्व धरोहर पर्यटननगरी खजुराहो गुलजार है। कोरोना संकट के कारण रुके सैलानियों के कदमों को ४७वें नृत्य समारोह ने गति दी तो कला-संस्कृति रंग भी चटख हो गए। शनिवार को सात दिवसीय यह अंतरराष्ट्रीय महोत्सव शुरू होते ही सैलानी मुक्त आकाश में आ जुटे। पहले दिन ही कला, संस्कृति और पर्यटन के इतने रंग दिखे की पर्यटक अभिभूत हो उठे। यह समारोह 26 फरवरी तक चलेगा।

 

1.png

हेरीटेज वॉक: निहारा खजुराहो का शिल्पलोक
मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम के माध्यम से 7 दिवसीय हेरिटेज वॉक का शुभारंभ शनिवार को हुआ। इस दौरान यहां जुटे सैलानियों ने यहां के अदभुत शिल्पलोक का दीदार किया। हेरिटेज वॉक के लिए पंजीयन सुबह ही शुरू कर दिया गया था। इनमें से 20-20 पर्यटकों को लेकर शासन से मान्यता प्राप्त गाइडों द्वारा पश्चिमी मंदिर समूह का निशुल्क भ्रमण कराया गया। हेरिटेज वॉक कार्यक्रम के कॉर्डिनेटर गाइड अनुराग शुक्ला ने बताया इस हेरिटेज वॉक में 2 घंटे का मंदिर भ्रमण होगा, जिसमें उनके साथी मान्यता प्राप्त गाइड हरिओम तिवारी,अवधेश कौशिक तथा गाइड करण जी द्वारा इन सात दिवसीय हेरिटेज वॉक में अपनी पर्यटकों को निशुल्क गाइडिंग सेवा प्रदान की गई,इसका मुख्य उद्देश्य खजुराहो का पर्यटन बढ़ाना है।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned