किल कोरोना अभियान पार्ट 2 शुरु, हॉट स्पॉट चिंहित कर पॉजिटिवों की हो रही खोज

संभावित संक्रमित व्यक्तियों को समुदाय से पृथक रखकर ट्रांसमिशन चेन को तोडऩे की योजना
छतरपुर, राजनगर, खजुराहो और बड़ामलहरा पर फोकस, दल के अलावा मोबाइल यूनिट भी सक्रिय

By: Dharmendra Singh

Updated: 24 Apr 2021, 08:14 PM IST

छतरपुर। कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति से निपटने के लिए कोविड-१९ के संभावित संक्रमित व्यक्तियों को समुदाय से पृथक रखकर ट्रांसमिशन चेन को तोडऩे की योजना बनाई है। जिसे किल कोरोना-२ अभियान नाम दिया गया है। यह अभियान शनिवार को शुरु हुआ जो, ९ मई २०२१ तक चलेगा। सरकार इस अभियान की सफलता के लिए जनप्रतिनिधियों, स्वयं सेवी संगठनों, आशा व स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का सहयोग ले रही है। इस अभियान के अंतर्गत जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में कलेक्टर तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने हॉट स्पॉट का चयन किया है। हॉट स्पॉट वे इलाके हैं, जहां कोविड-१९ की पॉजिविटी दर में वृद्धि हो रही है। प्रशासन की ओर से गठित दल के सदस्य घर-घर जाकर बुखार के लक्षण वाले कोविड-१९ के संभावित रोगियों की खोज शुरु कर दी है। अभियान में शामिल स्वास्थ्य व आशा कार्यकर्ताओं के पास पर्याप्त कोविड-१९ से बचाव के संसाधन नॉन कांट्रेट थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर, ट्रिपल लेयर मास्क, फेस शील्ड, ग्लोव्स और उपचार के लिए औषधियां भी उपलब्ध रहेगी।

वॉलिंटियर किए शामिल
स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आदेश अनुसार कलेक्टर व मुख्य चिकित्सा अधिकारी के माध्यम से विकासखंडवार कार्य कर रहे वॉलिंटियर, क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं को दल में शामिल किया जाएगा। प्रत्येक दल में पांच सदस्य शामिल किए गए हैं, इनमें एक आशा व एक स्वास्थ्य कार्यकर्ता भी शामिल है। संक्रमित क्षेत्रों में बुखार, सर्दी, जुकाम से पीडि़त व कोविड-१९ के संभावित मरीजों को की सैंपलिंग करते हुए उन्हें घर पर क्वारंटीन करके औषधियां देकर उपचार करेंगे।


हॉट-स्पॉट पर ज्यादा फोकस
जिले में छतरपुर मुख्यालय पर सबसे ज्यादा संक्रमित मिल रहे हैं। छतरपुर के अलावा खजुराहो-राजनगर और बड़ामलहरा भी हॉट स्पॉट है। हालांकि खजुराहो में अब मामले कम होने लगे हैं। इन सभी हॉट स्पॉट के लिए २५ दल बनाए गए हैं। वहीं, ४ मोबाइल यूनिट भी बनाई गई है। संक्रमण वाले क्षेत्रों में ये दल मरीजों की पहचान और इलाज का काम करेंगी। ताकि संक्रमण की कड़ी तोड़ी जा सके।

टूटेगी संक्रमण की कड़ी
किल कोरोना अभियान के तहत दलों का गठन कर हॉट स्पॉट वाले स्थानों पर संक्रमण की पहचान शुरु की गई है। दल घर-घर जाकर कोविड के मरीजों की पहचान करेंगे। मरीजों को होम आइसोलेट करने के साथ ही दवा पहुंचाने और फॉलोअप का काम भी यही दल करेंगे। कोरोना के संक्रमण की $कड़ी रोकने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।
डॉ. विजय पथोरिया, सीएमएचओ

COVID-19
Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned