सरपंच एवं सचिव के आपसी विवाद वाली पंचायतों की सूची होगी तैयार


प्रभारी मंत्री ने समीक्षा बैठक में कॉमर्शियल सेंटर के लिए जमीन खोजने के दिए निर्देश

By: Dharmendra Singh

Published: 18 Sep 2021, 06:45 PM IST


छतरपुर। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी एवं छतरपुर जिले के प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने शनिवार को मनरेगा की समीक्षा करते हुए कहा कि जिले के सरपंच एवं सचिव के आपसी विवाद वाली पंचायतों तथा हो रहे निर्माण कार्यों और लंबित कार्यों की सूची तैयार करें। उन्होंने कहा कि पंचायतों के कार्यों के संबंध में प्राप्त शिकायतों का निराकरण करें। उनके स्तर पर शिकायत नहीं पहुंचनी चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि स्वच्छता अभियान में केवल ओडीएफ कार्य शामिल नहीं हैं अपितु ग्राम एवं शहर की समग्र स्वच्छता शामिल है।

कॉमर्शियल सेंटर के लिए शासकीय भूमि को चिन्हित करें
उन्होंने कहा कि शहरों में पड़ी शासकीय आइडियल भूमि को चिन्हित करें। ऐसी जमीनों को कॉमर्शियल सेंटर के रूप में बनाने की योजना बनाएं। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में मंदिरों के आस-पास सामुदायिक भवन बनाने की योजना बनाएं। इसमें जनभागीदारी व विधायक निधि का उपयोग करें। शालाओं में समग्र स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें, संक्रमण नहीं फैले। डेंगू रोग के नियंत्रण के लिए दवाओं का छिड़काव कराए।

पीएम आवास कराए स्वीकृति
कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में नगरपालिका के सीएमओ और जनपदों के सीईओ से चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार द्वारा वापस कर दिए गए 1.5 लाख पीएम आवास प्रदेश के मुख्यमंत्री भारत सरकार से पुन: स्वीकृत कराकर लाए हैं। यह जानकारी निचले स्तर तक पहुंचाए जाये तथा प्रत्येक निकायों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में इस आशय के पोस्टर एवं बैनर भी प्रचारित करें। उन्होंने कहा कि पात्र हितग्राहियों को लाभांवित करने के लिए उनके नाम जोडऩे की कार्यवाही सर्वे करते हुए करें।

नगरीय निकायों के तीन वर्षों की बैलेंस शीट तैयार करें
प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिए कि जिले के नगरीय निकायों की तीन वर्षों की बैलेंस शीट तैयार करें। इसमें प्राप्त राजस्व, अनुदान एवं आय के स्त्रोत की जानकारी तथा राजस्व वसूली, निकायों के पेयजल की स्थिति क्या है। उन्होंने बताया कि शहरों एवं ग्रामीण क्षेत्रों के घरों में 2024 तक एक भी घर या परिवार बिना नल-जल योजना के नहीं रहेगा। बैठक में पूर्व मंत्री ललिता यादव, बीजेपी जिलाध्यक्ष मलखान सिंह, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष अर्चना सिंह एवं सीईओ जिला पंचायत एबी सिंह, एडीएम आरडीएस अग्निवंशी, नगरीय निकायों के सीएमओ और जनपद पंचायतों के सीईओ उपस्थित रहे।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned