सागर मेडिकल कॉलेज में लोड बढ़ा तो भोपाल भेजे सैंपल

किल कोरोना अभियान के सैंपलों की अब भोपाल व छतरपुर में होगी जांच
सागर मेडिकल कॉलेज में मिस हुए 400 सैंपल में छतरपुर के सैंपल नहीं

By: Dharmendra Singh

Published: 10 Jul 2020, 08:00 AM IST

छतरपुर। कोरोना संक्रमण को खत्म करने के लिए प्रदेश सहित जिले में चल रहे किल कोरोना अभियान के तहत ज्यादा से ज्यादा सैंपल रोजाना भेजे जा रहे हैं। संभाग के सभी जिलों से सागर सैंपल भेजे जाने से पेंडेंसी बढ़ गई। जिसके बाद मंगलवार को सागर मेडिकल कॉलेज ने और सैंपल लेने से मना कर दिया। छतरपुर के 646 सैंपल की रिपोर्ट पेंडिग होने पर छतरपुर प्रशासन ने भोपाल बात कर बुधवार को ही गांधी मेडीकल कॉलेज सैंपल भेजे। पेंडेंसी कम करने के लिए अब 16 जुलाई तक छतरपुर के सैंपल सागर नहीं भेजे जाएंगे, बल्कि छतरपुर जिला अस्पताल और भोपाल गांधी मेडीकल कॉलेज में सैंपलों की जांच की जाएगी।

गुरुवार की दोपहर तक ये रही स्थिति
बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सागर के पास गुरुवार की दोपहर तक छतरपुर जिले के 172 सैंपल ही रह गए हैं, वहीं, 235 सैंपल गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल और 130 सैंपल छतरपुर जिला अस्पताल में पेंडिंग बचे हैं, जिनमें से ज्यादातर की रिपोर्ट गुरुवार की रात आई और बाकी रिपोर्ट शुक्रवार तक आ जाएगी। इधर, बीएमसी सागर भेजे गए संभाग के जिलों के 400 सैंपल मिस हो गए हैं। छतरपुर कन्ट्रोल रुप के अनुसार सागर में मिस हुए सैंपल में छतरपुर के सैंपल नहीं है। कंट्रोल रुम से ये भी बताया गया कि सैंपल की रिपोर्ट समय से मंगाने के लिए अब भोपाल भी सैंपल भेजे जा रहे हैं।

जिले से लिए गए कुल 3413 सैंपल
जिले से अबतक कुल 3413 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। जिनमें से 2639 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि 640 रिपोर्ट गुरुवार की शाम तक पेंडिंग थी। 66 सैंपल अब तक रिजेक्ट हुए हैं। 63 रिपोर्ट पॉजिटिव आईं है। वर्तमान में 5 केस एक्टिव हैं, जिनमें से 2 डॉक्टर भी शामिल हैं। पूरे जिले में 2 लाख 68 हजार 481 लोगों की स्क्रीनिंग की गई है, जिसमें बाहर से आने वाले 83732 लोग शामिल हैं। जिले में 603 लोग वर्तमान में क्वारंटीन हैं।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned