scriptमहाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय 18 विषयों में करा रहा रोजगारमूलक कोर्स की पढ़ाई | Patrika News
छतरपुर

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय 18 विषयों में करा रहा रोजगारमूलक कोर्स की पढ़ाई

आज के समय में रोजगारमूलक पाठ्यक्रमों की आवश्यकता एवं नई शिक्षा नीति के तहत विश्वविद्यालय प्रशासन ने पढ़ाई करा रहा है। विद्यार्थी एमपी ऑनलाइन के माध्यम से रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा कर पंजीयन करा सकते हैं। सभी कोर्स के लिए 30-30 सीटों पर एडमिशन किए जाना है।

छतरपुरMay 24, 2024 / 10:54 am

Dharmendra Singh

mcbu

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय

छतरपुर. महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय छतरपुर में नई शिक्षा नीति के तहत 14 रोजगारमूलक पाठ्यक्रमों व 4 पीजी कोर्स समेत 18 विषयो में पढ़ाई करा रहा है। आज के समय में रोजगारमूलक पाठ्यक्रमों की आवश्यकता एवं नई शिक्षा नीति के तहत विश्वविद्यालय प्रशासन ने पढ़ाई करा रहा है। विद्यार्थी एमपी ऑनलाइन के माध्यम से रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा कर पंजीयन करा सकते हैं। सभी कोर्स के लिए 30-30 सीटों पर एडमिशन किए जाना है। विश्वविद्यालय द्वारा जारी एडमिशन शेडयूल के मुताबिक रिक्त पदों पर दूसरे चरण की प्रक्रिया 29 मई से शुरु होगी। वहीं, 20 जून से यूएलसी लेवल प्रथम चरण और 5 जुलाई से यूएलसी लेवल दूसरे चरण में प्रवेश लिया जा सकता है।


डिप्लोमा व सर्टीफिकेट कोर्स के लिए 12वीं पास होना जरुरी


वर्तमान समय में कम्प्यूटर साक्षरता के महत्व को देखते हुए पाठ्यक्रमों में वेब डिजाइनिंग, हार्डवेयर इंजीनियरिंग, इंटर्नेट ओफ़ थिंग्स में डिप्लोमा पाठ्यक्रम की शुरुआत हुई है। चित्रकला, संगीत, कम्प्यूटर साइंस एवं इंडस्ट्रियल माइक्रो बॉयलोजी विषय में मास्टर डिग्री प्राप्त करने के लिए प्रवेश प्रक्रिया आरम्भ हो गई है। माइनिंग साइंस में भी डिप्लोमा में प्रवेश हो रहे हैं, ये डिप्लोमा माइनिंग इन्स्पेक्टर की नौकरी की अहर्ता रखता है, इसके साथ ही पर्यटन में रुचि एवं रोजग़ार हेतु पीजी डिप्लोमा इन टूरिज़्म ऐंड होटल मैनेजमेंट में भी प्रवेश शुरू हो गया है। डिप्लोमा के साथ सर्टिफिक़ेट कोर्स में भी प्रवेश प्रारम्भ हो गया है। पीजी डिप्लोमा में प्रवेश लेने हेतु विद्यार्थी को स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए। डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स में 12वीं पास विद्यार्थी प्रवेश ले सकते हैं। इच्छुक विद्यार्थी कोर्स के संबंध में विश्वविद्यालय के सम्बंधित अध्ययनशाला में संपर्क कर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकता है।


इन 14 पाठ्यक्रमों में मिल रहा प्रवेश


विश्वविद्यालय में इसी सत्र से एमएससी कंप्यूटर साइंस, एमएससी माइक्रोबायोलॉजी, एमए चित्रकला, एमए संगीत, यूजी एंड पीजी डिप्लोमा इन माइनिंग साइंस, पीजी डिप्लोमा इन टूरिज्म, डिप्लोमा इन कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियरिंग, यूजी डिप्लोमा इन इंटीरियर डिजाइनिंग, यूजी डिप्लोमा इन इंटरनेट ऑफ थिंग्स, यूजी डिप्लोमा इन परफॉर्मिंग आट्र्स, यूजी डिप्लोमा इन वेब डिजाइनिंग एंड डेवलपमेंट, सर्टिफिकेट कोर्स इन कम्युनिकेशन स्किल्स, सर्टिफिकेट कोर्स इन डेस्कटॉप पब्लिशिंग, एमएस ऑफिस सर्टिफिकेशन प्रोग्राम, सर्टिफिकेशन कोर्स इन फोटोशॉप, सर्टिफिकेट कोर्स इन नेटवर्किंग, सर्टिफिकेट कोर्स इन कंप्यूटर एडेड डिजाइन एंड ड्राइंग और सर्टिफिकेट कोर्स इन डिजिटल मार्केटिंग के पाठ्यक्रम शुरू होने से छात्र-छात्राओं के लिए शिक्षा के नए द्वार खुलेंगे।


इनका कहना है


रोजगार मूलक पाठ्यक्रम में डिप्लोमा व सटीफिकेट कोर्स के लिए प्रवेश जारी है। दूसरे और तीसरे चरण की प्रक्रिया में एडमिशन के अवसर हैं।
डॉ. आरके पांडेय, प्रभारी, आईटी सेल

Hindi News/ Chhatarpur / महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय 18 विषयों में करा रहा रोजगारमूलक कोर्स की पढ़ाई

ट्रेंडिंग वीडियो