scriptNishant of Lavkushnagar and Shivani of Chhatarpur returned from Ukrain | यूक्रेन से लौटा लवकुशनगर का निशांत व छतरपुर की शिवानी, माता-पिता ने राहत की सांस | Patrika News

यूक्रेन से लौटा लवकुशनगर का निशांत व छतरपुर की शिवानी, माता-पिता ने राहत की सांस


इधर, गांधीवादियों ने कैण्डल मार्च निकालकर युद्ध रोकने का दिया संदेश

छतरपुर

Published: March 07, 2022 10:49:34 am

छतरपुर। यूक्रेन में फंसे दो और बच्चों की घर वापसी हो गई है। लवकुशनगर के निशांत पटेल व छतरपुर की बेटी शिवानी विश्वकर्मा की घर वापसी हो गई है। आपरेशन गंगा के तहत निशांत जैसे ही अपने वतन और घर पहुंचा तो उसके परिवार में खुशियां लौट आई। परिजनों के लिए ये दिन उत्सव की तरह रहा। वहीं यूद्ध क्षेत्र से निकलकर अपनों के बीच आने पर निशांत ने भी राहत की सांस ली है। निशांत इवानो फ्रैंकिवस्क यूक्रेन मे एमबीबीएस का फस्र्ट क्लास का स्टूडेट है।
8 दिन लगे वापसी में
8 दिन लगे वापसी में
8 दिन लगे वापसी में
इधर, शिवानी जब अपने घर लौटी तो परिवार वालो ने ढोल नगाड़ों के साथ स्वागत किया। शिवानी विश्वकर्मा कहना है यूक्रेन से आते आते 8 दिन लग गए। इस दौरान काफी समस्याओ का सामना करना पड़ा। माइनस टेम्परेचर होने के साथ साथ खाने पीने की कोई व्यवस्था नही थी। तीन दिन पानी पी पीकर निकाले। शिवानी ने बताया कि हमें रोमनिया वार्डर पर 20 किलोमीटर पहले ही छोड़ दिया गया था। हम पैदल चलकर बॉर्डर तक पहुचे। तीन दिन बॉर्डर के बाहर रुकना पड़ा फिर कही रोमनिया बॉर्डर के अंदर जाने को मिला। हालांकि उसके बाद हमे कोई समस्या नहीं आई।
रूस द्वारा यूक्रेन पर हमला किए जाने के विरोध में शहर के गांधीवादियों द्वारा एक कैण्डल मार्च निकालकर रूस के राष्ट्रपति को शांति का संदेश पहुंचाया गया। सर्वप्रथम गांधी आश्रम में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष विश्वशांति के लिए प्रार्थना की गई उसके पश्चात एक कैण्डल मार्च गांधी आश्रम से प्रारंभ होकर छत्रसाल चौराहे पहुंचा जहां पर युद्ध में मारे गए लोगों की आत्मा की शांति के लिए दो मिनिट का मौन रखा गया।
गांधी आश्रम की सचिव दमयंती पाणी ने कहा कि सभी को अपनी तरह से जीने का अधिकार है लेकिन रूस के राष्ट्रपति द्वारा जिस तरीके से तानाशाही रवैया अपनाकर यूक्रेन पर युद्ध थोप दिया गया है वो किसी भी लिहाज से सही नहीं कहा जा सकता। महात्मा गांधी ने पूरे विश्व को शांति और अहिंसा का संदेश दिया है। हम चाहते हैं कि ये संदेश रूस के राष्ट्रपति तक पहुंचे और शीघ्र ही युद्ध समाप्त हो। क्योंकि युद्ध की विभीषिका से न सिर्फ यूक्रेन ही प्रभावित होगा बल्कि अप्रत्यक्ष तौर पर यूरोप और एशिया के तमाम देश जिनमें भारत भी शामिल है किसी तरह चपेट में आएंगे। अत: सभी गांधीवादियों का यह संदेश है कि युद्ध हर हाल में रोका जाना चाहिए। इस मौके पर प्रेमनारायण मिश्रा, भारतेन्दु प्रकाश, शोभना श्रीवास्तव, कीर्ति विश्वकर्मा, कृष्णकांत मिश्रा, संजय जैन, देवेन्द्र कुशवाहा, शिवेन्द्र शुक्ला, सरोज जैन उर्मिला अहिरवार, सतेन्द्र अहिरवार, इन्दु सिंह, स्मिता जैन, सरिता सिंह सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.