अब मरीजों को समय पर मिल सकेगा इलाज, जानिए कैसे

अब मरीजों को समय पर मिल सकेगा इलाज, जानिए कैसे
Now patients will get treatment on time, know how

Hamid Khan | Updated: 04 Jun 2019, 11:05:02 AM (IST) Chhatarpur, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

अब मिलने लगेगी सुबह 9 से 4 बजे तक ओपीडी की सुविधा, ओपीडी के बाद पहुंचा नया आदेश, एक बजे के बाद मिली सिर्फ आकस्मिक सेवा


छतरपुर. सरकारी अस्पतालों में अब सुबह ९ से ४ बजे तक ओपीडी की सुविधाएं मिलने लगेंगी। जिसके लिए सिविल सर्जन ने सोमवार की दोपहर तीन बजे ओपीडी के नए समय को लेकर आदेश जारी कर दिया हैं। आदेश नहीं आने के कारण नए समय पर ओपीडी की शुरुआत नहीं हो पाई है। इस वजह से दोपहर एक बजे के बाद आने वाले मरीजों को आकस्मिक सेवा में ही इलाज की सुविधा मिल पाई।
दोपहर एक बजे के बाद जिला अस्पताल में ओपीडी बंद होने के बाद केवल आकस्मिक सेवा ही चालू रही। सोमवार को ओपीडी में दर्ज हुए 807 मरीजों मे से 483 मरीज आकस्मिक सेवा के तहत ही इलाज पा सके।
दोपहर एक बजे के बाद लगभग 200 मरीज शाम तक आए, जिन्हें भी आकस्मिक सेवा के तहत ही इलाज मिल सका। सोमवार को ओपीडी बंद होने के बाद शासन का आदेश सिविल सर्जन ऑफिस पहुंचा। उन्होंने ओपीडी की नई टाइमिंग के आदेश भी जारी कर दिए। सिविल सर्जन आरपी पाण्डेय का कहना है, कि एक-दो दिन में ही नई ओपीडी की व्यवस्था शुरु कर दी जाएगी। अभी ओपीडी में 1 बजे तक डॉक्टर उपलब्ध है, जबकि आकस्मिक सेवा में 24 घंटे डॉक्टर की व्यवस्था है। नई व्यवस्था शुरु होते ही शाम तक ओपीडी में डॉक्टर मिल सकेंगे।

बिना इलाज कराए लौट गए मरीज
सोमवार को अपने मामा का इलाज कराने आए संतोष शिवहरे ने कहा कि, एक बजे के बाद ओपीडी बंद हो जाने पर जिस दिन भीड़ अधिक हो तो कई मरीज बिना इलाज के ही लौट जाते हैं, डॉक्टर शाम 4 बजे तक बैठेंगे तो आसानी से इलाज मिलेगा। लू लगने से पेट दर्द का इलाज कराने आए विकास पांडेय ने बताया कि 4 बजे तक डॉक्टर बैठेंगे तो इलाज कराने में सुविधा होगी। बुखार की पीडि़त मरीज शाहीन बानो ने कहा कि ओपीडी का समय बढऩे से मरीजों को डॉक्टर मिलने लगेंगे, अभी भीड़ के कारण बहुत सारे मरीज बिना दिखाए ही लौट जाते हैं, उन्हें दूसरे दिन फिर आना पड़ता था।

एक बजे खाली हो गए डॉक्टरों के चैंबर
जिला अस्पताल में ओपीडी का वर्तमान समय सुबह 8 से दोपहर 1 बजे और शाम को 4 से 5 बजे का निर्धारित है। सोमवार को जिला अस्पताल में 807 मरीजों का ओपीडी में पंजीयन हुआ, डॉक्टर के चैंबर के बाहर 12 बजकर 55 मिनट तक मरीजों की लाइन लगी रही। 1 बजते ही डॉक्टर जाने लगे, हालांकि कुछ मरीज अभी भी ऐसे बचे थे,जो डॉक्टर से मिल ही नहीं पाए। गर्मी के कारण घर जाकर वापस 4 बजे आने के बजाए मरीज वहीं बैठकर इंतजार करने लगे। सटई रोड निवासी संतोष पाठक ने बताया कि जनरल मेडिसिन के डॉक्टर को दिखाना था, लेकिन 1 बजे ओपीडी बंद हो जाने से डॉक्टर को नहीं दिखा पाए, अस्पताल में बैठकर 4 बजे का इंतजार कर रहे हैं, ताकि शाम की ओपीडी में डॉक्टर आने पर दिखवा सके। इसी तरह बुखार से पीडि़त टोरिया निवासी शंकुतला ने बताया कि, भीड़ के कारण उनका नंबर आते-आते एक बज गया जिससे डॉक्टर नहीं मिल पाए। कल दोबारा आकर दिखवाना पड़ेगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned