टीकाकरण के लिए ऑन डिमांड स्पॉट वैक्सीनेशन कराने की सुविधा शुरु


कॉलोनी के लोग व सामाजिक संगठन करा सकते हैं मर्जी से टीकाकरण
समूह में वैक्सीन लगवाने के लिए आवेदन करने वालों को मिलेगी विशेष सुविधा

By: Dharmendra Singh

Published: 16 Jun 2021, 06:51 PM IST

छतरपुर। कोरोना टीकाकरण को बढ़ावा देने और आम जनता के लिए और अधिक सुविधाजनक बनाने हेतु अब छतरपुर जिले में ऑन डिमांड स्पॉट वैक्सीनेशन कराने की सुविधा शुरू की गई है। यानि आप अपनी मर्जी से लोगों के एक समूह को टीका लगवा सकते हैं। इसके लिए कॉलोनी, सोसायटी, सामाजिक संगठन, धार्मिक एवं जातीय संगठन, व्यापारिक संगठन, शासकीय-अशासकीय कर्मचारियों के समूह स्वास्थ्य विभाग को आवेदन कर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए कुछ आसान नियमों को पूरा करना होगा। इन नियमों को पूरा करने पर स्वास्थ्य विभाग का दल आपके बताए स्थान पर आकर सभी को वैक्सीन लगा सकता है।


इस तरह ले सकते हैं ऑन डिमांड वैक्सीनेशन का लाभ
सीएमएचओ डॉ. विजय पथौरिया ने बताया कि किसी भी समिति, मोहल्ले से जुड़े लोग एक साधारण आवेदन सीएमएचओ कार्यालय में दे सकते हैं। शर्त ये है कि लगभग 100 लोगों की संख्या ऑन डिमांड वैक्सीनेशन के लिए उपलब्ध होनी चाहिए। इन 100 लोगों में 45 प्लस और 18 प्लस के लोगों का 60-40 अनुपात होना आवश्यक है। वैक्सीन लगवाने के इच्छुक लोगों की एक सूची और उसके साथ निर्धारित की गई तारीख, स्थान की जानकारी देकर आप अपने लिए वैक्सीनेशन का सेशन बुक कर सकते हैं। जिस स्थान पर वैक्सीनेशन किया जाएगा वहां स्वास्थ्य विभाग की टीम के बैठने हेतु हवादार कमरे, पानी आदि की सुविधा आवेदक को ही करनी होगी।

ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक शहरी क्षेत्रों में कोरेाना वैक्सीन लगवाने को लेकर लोगों में अच्छा उत्साह नजर आ रहा है। हालांकि ग्रामीण क्षेत्रों में अब भी लोग वैक्सीन को लेकर अपेक्षाकृत कम उत्साहित हैं। अब तक जिले भर में 45 प्लस की सिर्फ 33 फीसदी आबादी को ही टीका लग सका है।

भ्रम में न पड़े, जिले में एक भी रिएक्शन का मामला नहीं
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. मुकशे प्रजापति का कहना है कि जिले में अब तक ढाई लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन के डोज दिए जा चुके हैं। एक भी व्यक्ति में वैक्सीन के रिएक्शन से संबंधित कोई मामला सामने नहीं आया। इसलिए वैक्सीने के रिएक्शन के भ्रम में न पड़े। मधुमेह और बीपी के रोगियों को अनिवार्य रूप से टीकाकरण कराना है ये वही समूह है जो कोरोना से सबसे ज्यादा खतरे में रहता है। यदि आप शुगर और बीपी की नियमित दवाएं ले रहे हैं और ये बीमारियां नियंत्रित हैं तो बिना किसी जांच के आप टीका लगवा सकते हैं। शरीर से थाली चम्मच चिपकने के मामले पसीने से जुड़ी दूसरी बीमारी के हैं।

फैक्ट फाइल
जिले में टीकारण की स्थिति

कुल वैक्सीनेशन- 241351
45 प्लस-141570
18 प्लस- 57368
सेकंड डोज 45 प्लस- 14911
सेकंड डोज 18 प्लस- 1365

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned