scriptonly 15 thousand farmers have registered for wheat procurement | गेहूं उपार्जन के लिए पंजीयन की प्रक्रिया जारी, 15 हज़ार किसानों ने ही कराया पंजीयन | Patrika News

गेहूं उपार्जन के लिए पंजीयन की प्रक्रिया जारी, 15 हज़ार किसानों ने ही कराया पंजीयन


5 फरवरी से शुरु हुआ पंजीयन चलेगा 5 मार्च तक, 25 मार्च से होगी खरीदी

छतरपुर

Updated: February 25, 2022 03:13:24 pm


छतरपुर। समर्थन मूल्य पर गेहूं समेत रबी सीजन की अन्य फसलों की बिक्री के लिए किसानों के पंजीयन की प्रक्रिया जारी है। 5 फरवरी से शुरु हुई प्रक्रिया के तहत अबतक जिले में 15 हजार किसानों ने ही पंजीयन कराया है। जिले के 101 केन्द्रों पर पंजीयन किया जा रहा है। इन केन्द्रों पर आधार व खसरा नंबर के आधार पर पंजीयन किया जा रहा है। जिले में अब तक सबसे ज्यादा गेहूं बिक्री के लिए किसानों ने पंजीयन कराया है।
राजनगर में सबसे ज्यादा किसानों ने कराया पंजीयन
राजनगर में सबसे ज्यादा किसानों ने कराया पंजीयन
राजनगर में सबसे ज्यादा किसानों ने कराया पंजीयन
पूरे जिले में चल रही पंजीयन प्रक्रिया में अबतक सबसे ज्यादा राजनगर तहसील इलाके के किसानों ने सबसे ज्यादा पंजीयन कराया है। राजनगर के 3580 किसानों ने पंजीयन कराया है। वहीं, दूसरे नंबर पर घुवारा तहसील के 3062 किसानों व तीसरे नंबर पर बड़ामलहरा के 2281 किसानों ने पंजीयन कराया है। जबकि चंदला और गौरिहार में सबसे कम किसानों ने पंजीयन कराया है। चंदला तहसील इलाके में अभी तक 84 किसानों ने ही पंजीयन कराया है।
बॉर्डर पर होगी नाकेबंदी
समर्थन मूल्य पर उपज खरीदने के दौरान मुनाफाखोरी रोकने के लिए नई व्यवस्था की जाएगी। मध्यप्रदेश-उत्तरप्रदेश के बॉर्डर पर नाकेबंदी की जाएगी। ताकि यूपी की उपज मध्यप्रदेश में समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए नहीं लाई जा सके। इसके साथ ही इस बार आधार ङ्क्षलक बैंक खाते में ही किसान को भुगतान किया जाएगा। गौरतलब है कि छतरपुर जिले के किसानों के पंजीयन पर यूपी के व्यापारियों की उपज बेचे जाने की शिकायतें हर साल आती है। इसलिए इस बार ये कवायद की जाएगी।
सबसे ज्यादा गेहूं के लिए पंजीयन
जिले में अब तक कुल 15238 किसानों ने समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के लिए पंजीयन कराया है। इसमें सभी ने गेहूं की फसल का पंजीयन कराया है। वहीं चना के लिए 2710 किसानों ने पंजीयन कराया। जबकि मसूर के 181 किसानों ने ही समर्थन मूल्य पर फसल बेचने का पंजीयन कराया है। वहीं जिले भर में 4551 किसानों ने सरसों की बिक्री के लिए पंजीयन कराया है।
फैक्ट फाइल

तहसील किसान पंजीयन
राजनगर 3853
घुवारा 3062
बड़ामलहरा 2281
छतरपुर 1552
छतरपुर नगर 1043
बिजावर 990
बकस्वाहा 695
लवकुशनगर 255
चंदला 153
गौरिहार 84

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी केसः बहस पूरी, 1991 का वर्शिप एक्ट लागू होगा या नहीं, कल होगा फैसला, जानें सुनवाई से जुड़ी हर बातबीजेपी नेता किरीट सोमैया की पत्नी ने शिवसेना के संजय राउत के खिलाफ दर्ज कराया 100 करोड़ का मानहानि का मुकदमालैंड होते ही झटके से रूक गया यात्री विमान, सांस थामे बैठे रहे यात्रीजम्मू और कश्मीर: आतंकियों के निशाने पर सुरक्षा बल, श्रीनगर में जारी किया गया रेड अलर्टजापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में पटरियों पर धरना-प्रदर्शन के चलते 23 ट्रेनें रद्द, 40 डायवर्ट की गईं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.