खुले में शौच के बता रहे दुष्प्रभाव, लोग एेसे हो रहे जागरूक

खुले में शौच के बता रहे दुष्प्रभाव, लोग एेसे हो रहे जागरूक

Neeraj Soni | Publish: Sep, 11 2018 12:56:11 PM (IST) Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

स्वच्छता अभियान से प्रेरित होकर लोगों को कर रहे जागरूक

अनूप तिवारी (भड़ैरिया)
छतरपुर। यदि कुछ हट कर करने की ठान ली जाए तो उसके लिए उसे पद के लिए मोहताज नहीं होना पड़ता है। बिना पद के भी देश के लिए कुछ करने का जज्बा देखा जा रहा है। ऐसा ही मामला जिले के समीप स्थित घुवारा नगर परिषद के अंतर्गत आने वाला ग्राम लल्लनखेरा का है। जहां एक किसान ने स्वच्छता को लेकर नरेंद्र मोदी के भाषण सुने और उससे प्रेरित होकर नगर में स्वच्छता का संदेश लेकर निकल पड़ा और धार्मिक स्थानों व घर-घर जाकर लोगों को स्वच्छता के क्षेत्र में जागरूक करते हुए खुले में शौच जाने वालों को सलाह दे रहा है कि खुले में शौच जाने से क्या-क्या नुकसान है। अब यह किसान लोगों के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन गया है।
नगर परिषद घुवारा के अंतर्गत आने वाला गांव लल्लनखेरा में ऐसे भी लोग हैं जो अपने भारत को स्वच्छ बनाने के साथ-साथ अपने नगर को भी स्वच्छ बनाने में रात-दिन मेहनत में जुटा है। ग्राम पंचायत लल्लनखेरा के वार्ड क्रमांक 01 में रहने वाले हाकिम सिंह पिता धनी सिंह है जो रोजाना सुबह से खुले में शौच जाने वालों को समझाई दे रहा है तो वहीं धार्मिक स्थलों पर भी जाकर वहां आने वाले श्रद्धालुओं को पे्ररित करते हुए दूसरों को भी यह सलाह देने की बात कह रहा है। किसान ने बताया कि उसने रेडियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण सुना। जिसमें उन्होंने लोगों को स्वच्छता की जानकारी व मार्गदर्शन दिया। उनके भाषण मुझे भा गए और उनसे प्रेरणा लेते हुए संकल्प लिया। कि नगर को स्वच्छत व शौच मुक्त बनाने में अहम भूमिका निभाऊंगा। किसान हाकिम सिंह द्वारा लोगों को जागरूक करते हुए संकल्प भी दिलाया जा रहा है कि वह शौच खुले में नहीं जाएगे व घरों के आसपास गंदगी भी जमा नहीं होने दें। गांव के ही जगदीश नामक युवक द्वारा उसे समझाने के बाद भी वह खुले में शौच जाने लगा तो हाकिम सिंह द्वारा विगत पांच दिनों तक उसके शौच जाने के दौरान सुबह से बैठकर उसे समझाया जब कहीं पांच दिन बाद उसने हार मानते हुए संकल्प लिया कि वह कभी शौच बाहर नहीं जाएगा।
किसान हाकित सिंह ने बताया कि वह गांव का छोटा सा किसान है जो किसानी कर अपने परिवार का भरण-पोषण करता है। मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से प्रेरणा व कुछ कर दिखाने का जज्बा मिला। मेरे अपनी इच्छा से लोगों को खुले में शौच न करने के लिए जागरूक कर रहा हूँ और लोगों से हाथ जोड़कर निवेदन करके उन्हें खुले में शौच के लिए न जाने के लिए कहता हूं और मुझे धीरे-धीरे लोगो का सहयोग प्राप्त होने लगा है। स्वच्छ भारत स्वच्छ घुवारा के नारे से सुबह की शुरूआत करता हॅू। साथ में लोगों से संकल्प भी लिया जा रहा है। जिसका मुझे सबका सहयोग मिल रहा है। उसने बताया कि जल्द ही लल्लखेरा पूरे जिले में स्वच्छ व शौच मुक्त होने वाला नगर बनेगा। वहीं नगर के साथ-साथ घुवारा में भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है।
एक छोटे से गांव में रहने वाला किसान जब स्वच्छता को लेकर प्रेरित होकर सराहनीय पहल कर सकता है तो हमे इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। क्योंकि घर से मोहल्ला व मोहल्ला से नगर व नगर से से शहर स्वच्छ होगा तभी एक दिन जिला भी प्रदेश की सूचनी में अपना स्थान बना सकेगा। यदि हर गांव में हाकित जैसे एक युवक ठान ले तो जल्द ही लोगों की मानसिकता बदलेगी और खुले में शौच जाने वालों पर लगाम लग सकेगी। हाकित सिंह की का यह सराहनीय पहल की नगर में प्रशंसा हो रही है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned