scriptOrissa- Ganja coming to Chhatarpur district via Chhattisgarh | उड़ीसा- छत्तीसगढ़ के रास्ते छतरपुर जिले में आ रहा गांजा | Patrika News

उड़ीसा- छत्तीसगढ़ के रास्ते छतरपुर जिले में आ रहा गांजा

शहर से लेकर गांव तक जगह-जगह बिक रहा नशे का सामान

छतरपुर

Updated: July 24, 2022 11:36:18 am

छतरपुर। जिले में उड़ीसा-छत्तीसगढ़ से गांजा की सप्लाई की जा रही है। जिला मुख्यालय से लेकर गांव तक हर हिस्से में गांजा की उपलब्धता आसानी से हो रही है। पुलिस की कार्यवाहियों के बावजूद गांजे के कारोबार से मुनाफा कमाने वाले नशा माफिया लगातार इसके कारोबार में लिप्त हैं। जिला मुख्यालय पर ही लगभग एक दर्जन से ज्यादा ऐसे स्थान हैं जहां आसानी से गांजा उपलब्ध हो रहा है। कई स्थानों पर पुलिस के संरक्षण में ही गांजे का कारोबार फलफूल रहा है। चौक बाजार क्षेत्र के गल्ला मण्डी, लोधी कुइंया इलाके, महोबा रोड क्षेत्र के मसीही अस्पताल के समीप गांजे की बिक्री चोरी छिपे की जा रही है। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी छोटे स्तर पर गांजे की खेती और बाहर से सप्लाई हो रहे गांजे की आपूर्ति धड़ल्ले से जारी है।
हर साल पुलिस कार्रवाई में बड़ी मात्रा में जब्त हो रहा नशे का सामान
हर साल पुलिस कार्रवाई में बड़ी मात्रा में जब्त हो रहा नशे का सामान
अब बांदा में पकड़े गए छतरपुर में सप्लाई करने वाले
अंतरराज्यीय मादक पदार्थ तस्कर गिरोह के दो सदस्यों को बंादा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जांच के दौरान दोनों को गिरफ्त में लिया गया। बाइक व 63.3 किग्रा. गांजा बरामद हुआ है। गिरोह का सरगना फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है। गिरोह ओडिशा से गांजा लाता था और जिले के अलावा महोबा, हमीरपुर के साथ छतरपुर, सतना तक गांजा की सप्लाई करता था।
मॉडिफाइड वाहनों में दो बार पकड़ा गया एक क्विंटल से ज्यादा गांजा
गुरुवार को सिटी कोतवाली पुलिस ने गांजे की तस्करी कर रहे दो आरोपियों को लगभग 100 किलो गांजे की खेप के साथ पकडऩे में कामयाबी हासिल की। दोनों आरोपी एक मालवाहक गाड़ी में सब्जी ढोने की आड़ में गांजे का कारोबार कर रहे थे। पिकअप की ट्रॉली को हाईड्रोलिक तरीके से खुफिया जगह बनाकर उसमें गांजा लाया जा रहा था। आरोपी छतरपुर जिले से सब्जी लादकर कटनी जाते थे और वहां से गांजा लाकर छतरपुर जिले के गढ़ीमलहरा महाराजपुर क्षेत्र में सप्लाई करते थे। इसी तरह पिछले साल मातगुवां पुलिस ने उड़ीसा से लाकर छतरपुर एवं उसके आसपास के जिलों में गांजा तस्करी करने वाले चार सदस्यीय अतंरराज्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया था। आरोपियों के कब्जे से 12 लाख कीमत का 1 क्विंटल 20 किलो गांजा जब्त हुआ था। आरोपी लंबे समय से मॉडिफाइड पिकअप में गांजा छिपाकर उड़ीसा से लाकर छतरपुर एवं उसके आसपास के जिलों में स्मगलिंग कर रहे थे।
पकड़ा जाता है केवल 20 फीसदी हिस्सा
मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले लगातार जिले में भारी मात्रा में गांजा की सप्लाई करते हैं। कभी कभार पुलिस को सूचना मिल जाने पर कार्रवाई होती है। जिसमें स्मगल होने वाले नशे के सामान का केवल 20 फीसदी हिस्सा ही पकड़ में आता है। बीते साल मातगुंवा और गुरुवार को कोतवाली पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपी लंबे समय से भारी मात्रा में गांजा तस्करी कर रहे हैं। लेकिन वे एक ही बार पकड़े गए, बाकी समय वे नशा की तस्करी में सफल होते रहे हैं।
गांजा का इस्तेमाल बढ़ा
पुलिस विभाग के आंकड़े बताते हैं कि जिले में नशे के रूप में गांजे के इस्तेमाल का चलन तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि गांजे के अवैध कारोबार के विरूद्ध पुलिस की कार्रवाई भी जारी हैं। पिछले एक साल में ही पुलिस ने जिले के अलग-अलग हिस्सों से लगभग 6 लाख 74 हजार 500 रूपए कीमत का 63 किलो गांजा जब्त किया है। पुलिस की इन कार्यवाहियों के दौरान 21 जगहों पर छापे मारकर 27 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं।
उड़ीसा और छत्तीसगढ़ से जुड़ा नेटवर्क
जिले में गांजे का कारोबार नशा माफिया के रैकेट के द्वारा अंतरराज्जीय स्तर पर किया जा रहा है। पिछले साल महाराजपुर के एक गांजा माफिया को शहडोल में पकड़ा गया था। वह छत्तीसगढ़ से गांजे की सप्लाई बुन्देलखण्ड में करता था। कुछ कार्यवाहियों में उड़ीसा का लिंक भी सामने आया है। ग्रामीण क्षेत्रों में तो चोरी छिपे गांजे की खेती भी पकड़ी गई है। एक बार कार्यवाही के बाद पुलिस इन स्थानों पर लंबे समय तक दोबारा कार्यवाही नहीं करती जिसके कारण माफिया दोबारा अपनी जड़ें जमा लेता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगारIndependence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातेंस्वतंत्रता दिवस के मौके पर लेह पहुंचे मनोज तिवारी और निरहुआ, जवानों को परोसा खानाIndependence Day 2022: लाल किले पर बना नया रिकार्ड, पहली बार मेड इन इंडिया तोप ने दी सलामी, जानें इसके बारे मेंHar Ghar Trianga Campaign में 30 करोड़ से ज्यादा के झंडे बिके, CAIT ने बताया इतने करोड़ का हुआ कारोबारIndependence Day 2022: मोहन भागवत ने RSS मुख्यालय में फहराया तिरंगा, बोले-देश को क्या दे रहे हैं यह सोचकर जीने की जरूरत38 साल पहले शहीद हुए लांसनायक चंद्रशेखर का पार्थिव शरीर आज पहुंचेगा घर, राजकीय सम्मान से होगा अंतिम संस्कारसिद्धू मूसेवाला के पिता का बड़ा बयान, कहा-' जिन्होंने किया भाई होने का दावा वहीं निकले बेटे के हत्यारे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.