पंचायतों में सप्लाई करने वालों ने किया घोटाला, जीएसटी की टीम ने की छापेमारी

छतरपुर के बाद अब खजुराहो की फर्मो पर कार्रवाई, रिकॉर्ड जब्त, जांच जारी
जीएसटी चोरी पकड़े जाने पर पेनल्टी समेत होगी वसूली, 40 पंचायतों में हुई सप्लाई

By: Dharmendra Singh

Updated: 10 Jan 2021, 09:43 PM IST

छतरपुर। ग्राम पंचायतों में सप्लाई करने वाले सप्लायर जीएसटी की चोरी कर रहे हैं। इस संबंध में शिकायत मिलने पर डीएसटी विभाग ने पहले छतरपुर की गौरी ट्रेडर्स पर छापेमारी की और अब खजुराहो की दो फर्मो पर छापेमारी कर रिकॉर्ड जब्त कर लिया है। जीएसटी की टीम बिलों की जांच कर जीएसटी और पेनल्टी के साथ रकम वसूलेगी। हालांकि खजुराहो की फर्मो ने 2-2 लाख रुपए जमा करा दिए हैं,लेकिन जांच के बाद निर्धारित हुई रकम भी उनसे वसूली जाएगी।

पंचायतों में सप्लाई का नहीं चुकाया जीएसटी
जीएसटी की टीम ने खजुराहो में जैन मंदिर रोड पर नारायण मार्केट में रामकिशोर अग्रवाल और रजत इंटरप्राइजेज पर छापा मारा गया। टीमों ने दोनों ही फर्मों का रिकार्ड जब्त कर लिया है। अब बिलों की जांच करके पैनाल्टी के साथ कर की वसूली की जाएगी।
खजुराहो का सप्लायर राम किशोर अग्रवाल ग्राम पंचायतों में बिल लगाकर भुगतान ले रहा है। रामकिशोर अग्रवाल ने अपने नाम की फर्म का जीएसटी पंजीयन भी नहीं कराया है। राज्य कर अधिकारी प्रहलाद सिंह दांगी ने बताया कि कर चोरी के आरोपी रामकिशोर अग्रवाल ने फिलहाल 2 लाख रुपए कर के रूप में जमा कराए हैं। अब जांच के बाद शेष राशि की वसूली की जाएगी। रजत इंटरप्राइजेज के संचालक रजत ने भी 2 लाख रुपए जमा करा दिए हैं। उनके बिलों की भी जांच की जा रही है।

इन पंचायतों में सप्लाई और टैक्स चोरी
जिले में कई फर्में जीएसटी की चोरी का घोटाला कर रही हैं। इन फर्मों के बिल ग्राम पंचायत में निर्माण सामग्री की खरीदी के नाम में उपयोग करके राशि निकाल ली जा रही है। कई तो निर्माण कार्य हुए ही नहीं हैं जबकि बिल लगाकर राशि निकाल ली गई है। अब जीएसटी विभाग ने जांच शुरू करके घोटाला को पकड़ लिया है। छतरपुर जनपद की ज्यादातर ग्राम पंचायतों के सरपंच इस घोटाले में शामिल हैं। इनमें ग्राम पंचायत कलानी, सरानी, हिम्मतपुरा, बसाटा, कीरतपुरा, महेबा, गंगायत, गठेवरा, खरका, गौरगांय, गोरा, कूंड़, बरकौंहा, अचट्ट, बंधीकला, गुरैया, सुकवां, रामपुर, सलैया, टुडर, नदगांयकला सहित 40 पंचायतों में सप्लाई के बिल लगाकर भुगतान लिए गए, जबकि टैक्स जमा नहीं किया गया है।

इन फर्मो की हो रही जांच
फर्जी बिल लगाकर राशि निकालने का यह घोटाला पूरे जिले में चल रहा है। छतरपुर और नौगांव जनपद पंचायत की ग्राम पंचायतों में गौरी ट्रेडर्स, मेसर्स खजुराहो फेब्रिकेशन एंड कंस्ट्रक्शन, जटाशंकर कंस्ट्रक्शन कंपनी, तिवारी बिल्डिंग मटेरियल एंड सप्लायर, अदिति बिल्डिंग मटेरियल, शिवशक्ति ट्रेडर्स, शिवहरे ट्रेडर्स सहित कई कंपनियों की जांच जीएसटी विभाग ने शुरू की है। इसके अलावा भी

GST
Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned