पन्ना टाइगर रिजर्व से लाए ट्रैप, दोगुना बढ़ाई नवोदय स्कूल की सुरक्षा, वन्य जीव मिलने का मामला

पन्ना टाइगर रिजर्व से लाए ट्रैप, दोगुना बढ़ाई नवोदय स्कूल की सुरक्षा, वन्य जीव मिलने का मामला

Rafi Ahamad Siddiqui | Publish: Aug, 21 2018 12:51:21 PM (IST) Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

वन्यजीव को पकडऩे की कवायद शुरू

छतरपुर/नौगांव। नवोदय विद्यालय मेें तेंदुआ आने से मचे हड़कंप के बीच वन विभाग ने वन्यजीव को पकडऩे की कवायद शुरू कर दी है। वन्यजीव को पकडऩे के लिए सोमवार को वन विभाग की टीम ने पिंजरा ट्रैप लगाया। वन्यजीवों के परिवहन में इस्तेमाल होने वाले इस पिंजरे में जीव का मांस रखकर वन्यजीव को फंसाने का प्रयास किया जाएगा। इसके अलावा पन्ना टाइगर रिजर्व से दूसरा पिंजरा लाया गया,जो वन्यजीवों को ट्रैप करने के लिए इस्तेमाल होता है। छतरपुर वन विभाग की इस कार्रवाई में पन्ना वन विभाग एवं टाइगर रिजर्व के विशेषज्ञों की मदद भी ली जा रही है।
टाइगर रिजर्व से लाए विशेष ट्रैप
पन्ना टाइगर रिजर्व इलाके में वन्यजीव को पकडऩे में इस्तेमाल होने वाले विशेष ट्रैप को सोमवार की शाम नवोदय विद्यालय लाया गया। वनकर्मी एक.के.बादल ने बताया कि सामान्य पिंजरे की तरह दिखने वाले इस ट्रैप में वन्यजीव को फंंसाने में आसानी होती है।इस ट्रैप को लाने एवं इस्तेमाल किए जाने में पन्ना टाइगर रिजर्व के विशेषज्ञों की भी मदद ली जा रही है।

कैंपस में दो वन्यजीव होने की आशंका

नवोदय परिसर में मिले वन्यजीव के पंजों के निशान से ये साफ हो गया है कि,कैंपस में आने वाला वन्यजीव एक नहीं है। पंजों के निशान का विशलेषण करने से पता चला कि पंजे के दो अलग-अलग निशान है। एक निशान बड़ा और दूसरा छोटा है।इससे साफ है कि कैंपस में आने वाला वन्यजीव का जोड़ा है। दो निशान मिलने के बाद से वनविभाग की टीम सतर्क हो गई है। इसलिए दो पिंजरे मंगाए गए हैं,और गार्ड भी बढ़ा दिए गए हैं।

कैंपस के आधे कुत्ते लापता
नवोदय विद्यालय कैंपस में रहने वाले 40 कुत्तों में से आधे गायब है। विद्यालय के अकाउटेंट अभिषेक दीक्षित ने बताया कि एक हफ्ते पहले जो कुत्ते कैंपस में रहते थे,उनमें से आधे अब नजर नहीं आ रहे हैं। आशंका है कि इन कुत्तों को वन्यजीव ने खत्म कर दिया है।

विद्यालय कैंपस में बढ़ाई सुरक्षा

वन्यजीव स्कूल के बच्चों को नुकसान न पहुंचा सके,इसके लिए विद्यालय परिसर में वन विभाग ने सुरक्षा बढ़ा दी है। सशस्त्र गार्ड की संख्या दो गुनी कर दी गई है।वन्यजीव के पकड़े जाने तक वनविभाग के हथियारबंद गार्ड विद्यालय की सुरक्षा करेंगे। ये गार्ड दिन में निगरानी करने के अलावा,रात के समय लाइटिंग और पटाखों की मदद से हास्टल परिसर की सुरक्षा करेंगे। इसके साथ ही पिंजरे के जरिए वन्यजीव को पकडऩे की कोशिश भी की जाएगी।

बच्चों से मिलने आए परिजन
नवोदय विद्यालय में रहकर पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं के परिजनों को कैंपस में तेंदुआ की खबर मिली,तो हड़कंप मच गया। पिछले दो दिन में ज्यादातर बच्चों के परिजन या तो स्कूल आकर अपने बच्चों से मिले या फोन के जरिए उनकी कुशलता पूछी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned