पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा, पुत्र ही निकला पिता का हत्यारा

Police reveals blind murder, son turns out to be father's killer

छतरपुर. लवकुशनगर थाना क्षेत्र के दौनी गांव में हुई हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। ममले में हत्यारा मृतक का पुत्र ही निकला है। जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा के निर्देशन और मार्गदर्शन में थाना प्रभारी लवकुशनगर राजेश बंजारे द्वारा अंधे कत्ल के आरोपी रामेश्वर उर्फ बाल गोटी पिता चंदीपाल निवासी ग्राम दौनी को बुधवार को गिरफ्तार कर कत्ल का खुलासा किया गया। गौरतलब है कि 13 जून 2020 को फरियादी रामेश्वर पाल पिता चंदी पाल (42) निवासी ग्राम दौनी की रिपोर्ट पर पिता चंदीपाल कि स्वयं के खेत में रखवाली करते समय अज्ञात व्यक्तियों के द्वारा गला दबाकर हत्या किए जाने की रिपोर्ट पर मर्ग कायम किया गया था। मृतक चंदी पाल की पीएम रिपोर्ट में डॉक्टरों ने गला दबाने से श्वांस रूकने से मृत्यु होना बताया था। मृतक व मृतक के परिवार व पारिवारिक पृष्ठभूमि व परिस्थितियों पर विवेचना की गई। जिसमें पाया गया कि मृतक अपनी ससुराल की संपत्ति पर 40 वर्षों से रह रहा था। मृतक के साडू भाई दशरथ पाल निवासी सुमेड़ी के ससुराल में हिस्से में कोई संपत्ति नहीं मिली थी जिसने न्यायालय में हक दावा लगा रखा था। दूसरी तरफ मृतक का चचेरा ससुर भजन पाल व परिवारजन भी संपत्ति पर अपना हक दिखाकर हिस्सा चाहते थे जिसकी वजह से वर्ष 2006 में मृतक चंदी पाल ने रामेश्वर पाल तथा परमलाल पाल ने अपने चचेरे नाना भजन पाल की हत्या कर दी थी, उस अपराध में रामेश्वर व उसके भाई परमलाल पाल को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी जो 2017 में सजा भोगकर बाहर आए थे। चंदीपाल ने मृत्यु पूर्व अपनी ससुराल की संपत्ति का आधा हिस्सा अपने साढू भाई को देने का निर्णय ले लिया था, पिता चंदीपाल के इस निर्णय से रामेश्वर उर्फ बालगोटी बाल बहुत नाराज था इसलिए उसने अपने पिता की हत्या कर अपने नाना के पुत्र तथा नातियों को फंसाने की गरज से व अपने नाना की पूरी संपत्ति बचाने की नियत से घटना दिनांक को अपने पिता की खेत में सोते समय गला दबाकर हत्या कर दी और बरगलाने के लिए उसके मुंह में कीटनाशक भर दिया था, इतना ही नहीं स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए मर्ग का फरियादी बन गया। इस प्रकार आरोपी रामेश्वर ने एक तीर से दो निशाने चला कर अपना लक्ष्य पूरा करने का प्रयास किया, लेकिन पारिवारिक पृष्ठभूमि और परिस्थितियों के साक्ष्य की वजह से आरोपी की चाल सफल ना हो सकी अंतत: आरोपी को अपना कृत्य कबूल करना पड़ा। जिसे बुधवार को लवकुशनगर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया।

Show More
हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned