तैयारी पूरी, पहली से पांचवी तक के बच्चों का दो दिन बाद खुलेगा स्कूल


अभी 50 फीसदी क्षमता से ही खुलेंगे प्राथमिक स्कूल
माध्यमिक, हाईस्कूल व हायरसेकंडरी पूरी क्षमता से खुलेंगे

By: Dharmendra Singh

Published: 17 Sep 2021, 05:48 PM IST


छतरपुर। 20 सितंबर से पहली से पांचवी तक के स्कूल खुलने जा रहे हैं। जिसकी तैयारियां भी कर ली गई हंै। सभी प्राथमिक स्कूल में कक्षा पहली से पांचवी तक की कक्षाएं 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शुरु होंगी। इसके साथ ही कोविड प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य होगा, जिसमें मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और सेनेटाइजेशन का ख्याल रखना जरूरी होगा। वहीं, कक्षा 8वीं, 10वीं और 12वीं की पहले से चल रही कक्षाओं को अब सौ फीसदी क्षमता के साथ शुरु करने के निर्देश जारी हुए हैं। लेकिन हर स्कूल में कोविड गाइड लाइन के पालन को सख्ती से पालन करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

18 महीने बाद खुल रहे स्कूल
पहली से पांचवीं तक के स्कूल खोलने के फैसले के साथ स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली है। पहली से पांचवी तक के बच्चे अब दो 18 महीने बाद स्कूल जा सकेंगे। स्कूलों में कक्षा 1 से 5वीं प्राथमिक स्तर की कक्षाएं कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आधी क्षमता के साथ प्रारंभ की जाएंगी। वहीं, कक्षा 8वीं, 10वीं एवं 12वीं के शत-प्रतिशत विद्यार्थियों के लिए छात्रावास भी शुरु हो सकेंगे। कक्षा 11 के विद्यार्थियों को भी छात्रावास की सुविधा इस शर्त के आधार पर उपलब्ध कराई जाएगी कि छात्रावास में उसकी कुल क्षमता के 50 प्रतिशत से ज्यादा विद्यार्थी उपस्थित नहीं होने चाहिए। प्रदेश में संचालित समस्त आवासीय विद्यालय कक्षा 8वीं, 10वीं एवं 12वीं के लिए 100 प्रतिशत विद्यार्थियों के लिए संचालित किये जाएंगे। कक्षा 11वीं के विद्यार्थियों के लिए भी स्कूल व छात्रावास खोले जाएंगे, किंतु छात्रावास में कुल क्षमता के 50 प्रतिशत से ज्यादा विद्यार्थी उपस्थित नहीं होने चाहिए।
जिला अंतर्गत संचालित स्कूलों, छात्रावासों, आवासीय विद्यालयों को खोले जाने के प्रस्ताव पर जिला आपदा प्रबंधन समिति से सहमति भी ली जाएगी। लेकिन सभी मामलों में अभिभावकों की सहमति से ही विद्यार्थी विद्यालय, छात्रावास में उपस्थित हो सकेंगे।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned