दोस्तों के साथ तालाब में नहाने गए प्राइवेट स्कूल के शिक्षक की डूबने से मौत

दोस्तों के साथ तालाब में नहाने गए प्राइवेट स्कूल के शिक्षक की डूबने से मौत

Neeraj soni | Publish: Sep, 11 2018 01:06:28 PM (IST) Chhatarpur, Madhya Pradesh, India

मऊसहानियां के जगतसागर तालाब में डूबने से हुई घटना

नौगांव/मऊसहानियां। पर्यटक ग्राम मऊ सहानियां में सोमवार की सुबह अपने दोस्तों के साथ नहाने गए एक प्राइवेट स्कूल के शिक्षक की डूबने से मौत हो गई। इस घटना से गांव में हड़कंप मच गया। तालाब में बारिश के कारण पानी भी अधिक था। तैरने के दौरान शिक्षक इस हादसे का शिकार हो गया।
जानकारी के अनुसार सरवई में पुलिस थाना के पीछे रहने वाले ४५ वर्षीय शिक्षक रमेश पिता हरिशंकर नंदा सोमवार को सुबह ११ बजे अपने चार दोस्तों के साथ जगतसागर तालाब के किनारे पार्टी करने गए थे। ग्रामीणों के अनुसार नहाने से पहले चारों लोग बैठकर शराब पी रहे थे। इसके बाद वे नहाने लगे। कुछ देर बाद शोर हुआ कि कोई डूब गया है। इस पर लोग दौड़े। पुलिस को भी सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थानीय गोताखोरों की मदद से शिक्षक को खोजा। दोपहर 12 बजे गोताखोरों ने जाल डालकर जब तालाब की तलहटी में डाल डालकर जब उसे निकाला तो शिक्षक का शव ऊपर आ गया। लोग तुरंत शिक्षक को डॉक्टर के पास ले गए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। शिक्षक रमेश नंदा लक्ष्य मार्डन पब्लिक स्कूल नौगांव में पढ़ाता था। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेजा। पुलिस घटना के कारणों की भी जांच कर रही है।
पति को तैरना नहीं आता था :
मृतक शिक्षक की पत्नी अमृता इक्का का कहना है कि उसके पति को तैरना नहीं आता था। इसलिए वह कभी नदी-तालाब पर नहाने नहीं जाता था। इसलिए वह तालाब में नहाने कैसे और क्यों गया, इसकी जांच होना चाहिए। उधर स्कूल की संचालक सुनीता पटेल का कहना है कि सुबह स्कूल में आकर उन्होंने कक्षाएं लगवाई। वे छतरपुर किसी काम से गई थी, इसलिए वह कक्षाएं लगाकर यहां से चले गए। स्कूल के स्टाफ के अनुसार शिक्षक रमेश नंदा सुबह कक्षाएं छोड़कर अकेले स्कूल से निकल गए थे। दो घंटे बाद हादसे की जानकारी स्कूल पहुंची।

Ad Block is Banned