जिले में रातभर हुई अच्छी बारिश, दिनभर शहर को भिगोती रहीं रिमझिम फुहारें

- जिले में बिजावर क्षेत्र में हुई सबसे अधिक बारिश, बमीठा क्षेत्र के गांवों की गलियों में भरा पानी

By: Neeraj soni

Published: 20 Jul 2018, 01:26 PM IST

छतरपुर। जिले में लंबे इंतजार के बाद आखिरकार मानसून सक्रिय होता दिख रहा है। बीते 24 घंटे में जिलेभर में रुक-रुककर बारिश हो रही है। बीती रात से लेकर सुबह तक शहर में भी अच्छी बारिश हुई। जिले में सबसे अधिक बारिश बिजावर और सटई क्षेत्र में हुई है। बड़ामलहरा इलाके में इसी तरह नौगांव, हरपालपुर, लवकुशनगर में भी रात में बारिश हुई। गुरुवार को सुबह होते ही शहर में रिमझिम फुहारें गिरती रहीं। कई बार तेज बौछारों ने लोगों को भिगोया। दोपहर बाद पानी रुक जाने से उमस ने भी लोगों को बेहाल किया। बमीठा क्षेत्र के कुछ गांवों में भी तेज बारिश के कारण गलियां पानी से भर गईं। कुल मिलाकर पूरे जिले में मानसून का दवाब बन गया है। अगले 24 घंटे में अच्छी बारिश होने के संकेत हैं। उधर बड़ामलहरा क्षेत्र में तेज बारिश के कारण एक कंस्ट्रक्शन कंपनी का सामन बह गया।
जिले में बीती रात से अच्छी बारिश का दौर शुरू हो गया है। जिले के कई गांवों में जलमग्न की स्थिति भी सुबह तक बन गई। हालांकि दिन में बारिश का दौर थम जाने के कारण बारिश का पानी बह गया। बमीठा क्षेत्र के ग्राम पथरगुवां में जब लोग सोकर उठे तो गलियों में पानी भरा था। ऐसी ही स्थिति आस-पास के कई गांवों में थी। पथ्ररगुवां गांव के बच्चों को स्कूल जाने के लिए बीच पानी से होकर गुजरना पड़ा। उधर बिजावर क्षेत्र में पिछले चौबीस घंटों में अच्छी बारिश हुई। बिजावर क्षेत्र के जटाशंकर धाम में बारिश के कारण झरना उफान पर रहा। शिवधाम परिसर में झरने का पानी भरने से यह स्थल भी कुछ देर के लिए जलमग्न नजर आया। गुरुवार को भी रिमझिम बारिश का दौर जारी रहा। उधर गढ़ीमलहरा में दिन भर बारिश हुई। लोगों ने यहां राहत की सांस ली। इसी के साथ सटई में १२ घंटे तक लगातार बारिश होने से कई इलाके जलमग्न हो गए। हालांकि बारिश थमते ही हालात सामान्य हो गए। बिजावर में सुबह ९ बजे से ११ बजे तक अच्छी बारिश हुई उसके बाद दिन भी रिमझिम बारिश होती रही। अलीपुरा में हल्की बूंदाबांदी हुई इसके बाद वहां दिन में धूप निकली रही। घुवारा में डेढ़ घंटे बारिश व दोपहर एक बजे से रिमझिम बारिश के बाद धूप निकल आई, नौगांव में सबसे ज्यादा बारिश हुई। अब तक यहां सर्वाधिक बारिश का रिकॉर्ड बना है। हरपालपुर में रात को रूक-रूक कर बारिश हुई। लवकुशनगर में भी रात को बारिश हुई। जिले के कई इलाकों में रात को बारिश व दिन में रिमझिम बूदांबांदी होती रही। इससे लोगों को उमस से राहत मिली। लेकिन दोपहर में फिर उमस की स्थिति बन गई। हालांकि रात में फिर बारिश का दौर शुरू हो गया।
फोटो : सीएचपी १९०७१८-०१,०२ केप्शन : ग्राम पथरगुवां में बारिश के कारण गलियों में पानी भर गया।

जिले में अब तक 204.6 मिमी वर्षा दर्ज :
छतरपुर। छतरपुर जिले में इस साल 1 जून से अब तक कुल 204.6 मिमी अर्थात 8.1
इंच से अधिक वर्षा दर्ज की गई है। पिछले वर्ष इसी अवधि में 283.8 मिमी अर्थात 11.2 इंच वर्षा रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक भू-अभिलेख कार्यालय के अनुसार सबसे अधिक वर्षा 278.8 मिमी नौगांव में और सबसे कम वर्षा 123 मिमी गौरिहार में दर्ज की गई है। इसी तरह छतरपुर में 208.4 मिमी, लवकुशनगर में 210 मिमी, बिजावर में 130.1 मिमी, राजनगर में 267.3 मिमी, बड़ामलहरा में 186.5 मिमी व बकस्वाहा वर्षामापी केंद्र में 233 मिमी वर्षा रिकार्ड हुई है। जिले की औसत वर्षा 1074.9 मिमी है।
हल्की बारिश के बीच पूरी रात बिजली रही गुल परेशान रहे लोग
हरपालपुर। नगर में हल्की हवा बारिस के बीच बुधवार शाम 7 बजे नगर सहित ग्रामीण अंचल विद्युत आपूर्ति पूरी तरह बाधित रही। 3300 केवी लाईन में अलीपुरा हरपालपुर के बीच फाल्ट होने से पूरे क्षेत्र में बिजली आपूर्ति पूरी रात बंद रही जिस लोग पूरी तरह परेशान रहे बारिस उमस से लोग खासे परेशान रहे। विद्युत कर्मियों द्वारा मरम्मत कार्य करने बाद सुबह 10 बजे विघुत आपूर्ति चालू हो सकी हैं।
लेकिन दिन में बार-बार बिजली जाने से लोगों एमपीईबी के खिलाफ रोष बढ़ रहा हैं। नगर के दूसरे फीडर की विद्युत आपूर्ति शाम 6 बजे तक नहीं बहाल हो सके जिस गलान रोड, तलैया रोड़, कपास मिल के लोग 24 घंटे से अधिक समय बिना विद्युत के रह रहे हैं। ऐसे में लोंगो को पीने पानी की समस्या से दो चार होना पड़ रहा है बारिस के मौसम में विद्युत आपूर्ति बाधित होने लोगों खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। एमपीईबी द्वारा गर्मियों व बारिस के मौसम के पहले विद्युत लाइनों में मेंटिनेंस का काम किया जाता हैं फिर लाइनों में आऐ दिन होने फाल्ट से मेंटनेंस के नाम पर की गई खानापूर्ति की पोल खुल रही है।

Neeraj soni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned