महिलाओं ने थामी कुदाली-फावड़ा, फिर यह कर दिया

ग्राम देवपुर के प्राचीन जलाशय की सफाई के लिए हुआ बड़ा श्रमदान

छतरपुर. महिलाएं हर क्षेत्र में पुरुषों की बराबरी कर रही हैं। नदी-तालाबों के गहरीकरण जैसे काम में भी महिलाएं आगे आकर बदलाव ला रही है। शनिवार को ग्राम देवपुर में महिलाओं के समूह ने हाथों में कुदाली, फावड़ा और तसला थामकर बड़े स्तर पर श्रमदान किया। ग्राम देवपुर स्थित जनता तलैया में गहरीकरण कार्य की शुरुआत हुई। गांव की महिलाओं ने जलाशय के जीर्णोद्धार का संकल्प लेकर अभियान की शुरुआत की है। परमार्थ समाज सेवी संस्थान के द्वारा शुरू किए गए इस अभियान में जल भूमि अधिकार और आजीविका विकास परियोजना की जल सहेलियों एवं गांव के पुरुषों द्वारा तालाब में विशाल श्रमदान किया गया। इस अभियान में आजीविका विकास परियोजना समन्वयक पुष्पेंद्र यादव एवं जल-जन जोड़ो अभियान के धनीराम रेकवार तथा आजीविका विकास परियोजना जीतेंद्र सिंह एवं सभी ग्रामवासियों ने भागीदारी निभाई। जनता तलैया मैं गहरीकरण के लिए गांव की महिलाओं ने अपनी अपनी जन भागीदारी निभाई एवं श्रमदान किया। अभियान के मीडिया प्रभारी अजय यादव ने बताया है कि ग्राम स्तर पर तालाब बचाने के लिए शुरू हुई यह बहुत बड़ी पहल है जिसमें महिलाओं ने खुद आगे आकर तालाब में श्रमदान किया। जोड़ो अभियान के राष्ट्रीय समन्वयक डॉ. संजय सिंह ने महिलाओं के द्वारा किए गए श्रमदान के लिए सभी को बधाईयां दी।

Show More
हामिद खान Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned