Police 10 दिन पहले हुआ था विवाद, मामला दर्ज नहीं कर रही पुलिस

संदेहियों के नाम आवेदन में दिए गए, उन्हीं की हो रही आवभगत

छतरपुर . गौरिहार थाना क्षेत्र के रेवना गांव में दो दिन पहले हुई हत्या के मामले में पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने और पीडि़त परिवार पर जबरन पुलिस के मनमुताविक बयान दर्ज कराने का दबाव बनाने का आरोप परिजनों द्वारा लगाया है। परिजनों का कहना है कि उन्होंने घटना को लेकर पुलिस ने एक आवेदन दिया था। जिसमें १० दिन पहले हुए एक विवाद में लोगों द्वारा जान से मारने की धमकी दी गई थी। लेकिन पुलिस द्वारा उन्हीं संदेहियों की थाना में आवभगत की जा रही है। वहीं पुलिस ने मामले में अभी तक एफआईआर दर्त नहीं की गई है और न ही कोई कार्रवाई की गई।
गौरतलब है कि गौरिहार थाना क्षेत्र रेवना गांव निवासी लटोरा अहिरवार पिता हिरवा अहिरवार गांव से करीब ३ किलोमीटर दूर तिंदुवा हार के पास अपने खेत में रहता था। परिजनों ने बताया कि शनिवार की रात में अज्ञात लोगों द्वारा उसे करंट लगाया और पैर बांधकर गले में तौलिया से घसीट घसीटकर उसकी हत्या कर दी।
घटना को देख हत्या होना साफ नजर आ रहा है। लेकिन मौेक पर पहुंची पुलिस ने पीएम कराया और इसके बाद परिजनों द्वारा एक आवेदन देकर एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई।
मृतक कि पुत्र प्रभात अहिरवार ने बताया कि घटना के करीब १० दिन पहले खेत में बबूल के पेड को काटने को लेकर कुछ लेागों से विवाद हुआ था। जिसपर उसके पिता को जान से मारने की धमकी दी गई थी। बताया कि पुलिस को दिए गए आवेदन में ८-९ लोगों को संदेह जताया था। लेकिन पुलिस ने अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की गई। पुलिस द्वारा पीएम रिपोर्ट आने के बाद मामला दर्ज करने की बात कही जा रही है। प्रभात ने बताया कि जिन लोगों पर घटना को अंजाम देने का आरोप लगाया था उनकी थाना में आवभगत की जा रही है और पीडि़त परिवार रात में थाना बुलाकर पुलिस के मनमुताविक बयान दर्ज कराने के लिए कहा जा रहा है। बताया कि बीते रात रात में उसकी मां और छोटे भाई को पुलिस ने थाना में बुलाया और बयानों में परिवार से विवाद होने की बात बयानों में दर्ज कराने के लिए कहा गया है।
&मामले में करंट से झुलसने से मौत होना मालूम हुआ था, मामले में पीएम रिपोर्ट आने के बाद सही जानकारी हो सकेगी। मामले की निष्पक्ष जांच की कार्रवाई की जाएगी।
समीर शौरभ, एएसपी, छतरपुर

Show More
हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned