कलेक्ट्रेट के तीन नए कर्मचारी संक्रमित, 18 केस मिले

18 मरीजों ने कोविड को किया परास्त, मिली छुट्टी

By: Dharmendra Singh

Published: 21 Sep 2020, 07:00 AM IST

छतरपुर। कलेक्टर कार्यालय में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। छतरपुर एसडीएम और एडीएम के संक्रमित मिलने के बाद रविवार को कलेक्ट्रेट के तीन नए कर्मचारियों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इनमें एक महिला और पुरूष शामिल हैं। कर्मचारी कलेक्ट्रेट की खाद्य शाखा और एनआईसी शाखा में कार्यरत हैं। साथ ही रविवार को सागर से आई 257 सेम्पलों की रिपोर्ट में 11 पॉजिटिव पाए गए तो वहीं जिला अस्पताल में रेपिड किट से की गई जांच में 5 व खजुराहो में दो मरीजों की पुष्टि हुई। इसी तरह 18 मरीजों ने कोरोना को परास्त कर इस महामारी से मुक्ति पाई है।

कोरोना कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक रविवार को आए नतीजों में कलेक्ट्रेट के एनआईसी में पदस्थ 34 वर्षीय पुरूष कर्मचारी, खाद्य शाखा में कार्यरत 45 वर्षीय महिला कर्मचारी एवं एक अन्य 33 वर्षीय कर्मचारी में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसी तरह राजनगर के बजरिया इलाके से 32 वर्षीय महिला, सेवाग्राम खजुराहो से 40 वर्षीय पुरूष, विद्याधर कॉलोनी खजुराहो से 19 वर्षीय युवक, बसारी पीएनसी प्लांट से 32 वर्षीय युवक, ग्राम भियांताल से 50 वर्षीय पुरूष, ग्राम कर्री से 22 वर्षीय युवक, सरवई से 70 वर्षीय पुरूष और 22 वर्षीय युवक में कोरोना संक्रमण मिला है।

जिला पंचायत सीइओ को अपर कलेक्टर का प्रभार

अपर कलेक्टर प्रेम सिंह चौहान के संक्रमित होने पर कलेक्टर ने आगामी आदेश तक मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अमर बहादुर सिंह को अपर कलेक्टर का प्रभार सौंपा है। वहीं, एडीएम के पास उप जिला निर्वाचन अधिकारी का प्रभार डिप्टी कलेक्टर प्रियांशी भंवर को दिया गया है।

होम आइसोलेशन पर मिलेगी किट
जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी तो हुई है, लेकिन इसके साथ ही ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग ऐसे में कोरोना की चेन को तोडऩे के लिए इसी सप्ताह एक प्रयास शुरू कर रहा है। विभाग होम आइसोलेट होने वाले कोरोना मरीजों को घर पर ही मेडिसन किट उपलब्ध कराएगा, ताकि संक्रमण का खतरा कम हो। कोरोना मरीज का आवागमन न के बराबर ही रहे, इसलिए स्वास्थ्य विभाग होम आइसोलेट मरीजों को जरूरत के अनुसार दवाइयां व इम्यूनिटी बूस्टर, मल्टी विटामिन की टेबलेट, मास्क व सैनिटाइजर उपलब्ध कराएगा।

बुजुर्गों को उपलब्ध कराए जाएंगे ऑक्सीमीटर
स्वास्थ्य विभाग कोरोना संक्रमित बुजुर्गों को अब ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराएगा। स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक उनकी निगरानी तो करेंगे ही साथ ही ऑक्सीमीटर भी देंगे। इसका यह उद्देश्य है कि यदि उनको शरीर में ऑक्सीजन का लेवल कम लगे तो वह संबंधित चिकित्सक से संपर्क करें, ताकि समय रहते स्थिति को नियंत्रित किया जा सके। कोरोना संक्रमित मरीजों को एक बुक भी उपलब्ध कराई जाएगी। उसमें कोरोना संक्रमण को फैलने से कैसे रोका जा सकता है। क्या-क्या सावधानियां बरतनी चाहिए, तमाम तरह की जानकारियां बुक में रहेंगी।

किट में मिलेंगी 10 दिन की दवाइंया
कोविड 19 की गाइड लाइन का सेट, 20 सर्जिकल मॉस्क, टेबलेट एजीथ्रोमाइशिन 500 की 5 गोलियां, मल्टी विटामिन की 20 गोलियां, सिट्राजिन 10 की 10 गोलियां, पैरासीटामोल 500 की 20 गोलियां, रेनी टाइडिन 150 की 20 गोलियां, जिंक 20 की 10 गोलियां, विटामिन सी 1000 की 10 गोलियां। यह दवाएं 10 दिन के होम आइसोलेशन पर दी जाएगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को जिले के कुल संक्रमितों की संख्या के हिसाब से 40 फीसदी किट तैयार करने के निर्देश दिए है। निर्देशों के साथ कहा गया है कि इन दवाओं का वितरण फीवर क्लीनिकों पर तैनात स्वास्थ्य अधिकारियों के माध्यम से मरीजों को होम आईसोलेट की सलाह के साथ तत्काल दी जाए।


फैक्ट फाइल
कुल संक्रमित - 1070
स्वस्थ हुए - 832
एक्टिव केस - 221
मौत - 24
सेम्पल - 24643
रिकवरी रेट - 77.75

COVID-19
Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned