रीवा ग्वालियर नेशनल हाइवे पर ट्रक ने वैन को मारी टक्कर, 4 की मौत, 4 गंभीर घायल

देर रात 1 बजे मैहर दर्शन करने जा रहे मउरानीपुर के लोगों की वैन को सामने से मारी टक्कर
तीन की मौके पर मौत, एक ने इलाज के दौरान तोड़ा दम, तीन गंभीर ग्वालियर रेफर

By: Dharmendra Singh

Published: 14 Jan 2021, 07:07 PM IST

छतरपुर। बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात 1 बजे रीवा-ग्वालियर नेशनल हाइवे पर निर्माणाधीन झांसी खजुराहो फोरलेन पर बसारी गांव के पार फोरलेन ठेका कंपनी के ट्रक ने वैन को टक्कर मार दी। जिसमें तीन लोगों की मौके पर और एक की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई। 4 गंभीर घायलों को ग्वालियर मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। पुलिस ने आरोपी वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरु कर दी है।

मैहर जा रहे थे मऊरानीपुर के लोग
वैन क्रमांक यूपी 93 बीसी 5551 से मऊरानीपुर के 8 लोग मकर संक्रांति पर मैहर की शारदा माता के दर्शन करने जा रहे थे। रात करीब एक बजे बमीठा थाना क्षेत्र अंतर्गत बसारी के पास पीएनसी कंपनी की मिक्चर मशीन क्रमांक एचआर 55 व्ही 2805 के चालक ने सामने से जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में वैन सवार आकाश रैकवार, कृष्णकांत रैकवार व धीरेन्द्र रैकवार की घटना स्थल पर ही मौत हो गई,जबकि ओमप्रकाश आर्य बिट्टू, राकेश आर्य, दीनदयाल रैकवार तथा गोलू रैकवार के अलावा सौरभ को डायल 100 की मदद से जिला अस्पताल पहुंचाया गया। गंभीर रूप से घायल तीन लोगों को मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया। वहीं ओमप्रकाश आर्य की जिला अस्पताल में मौत हो गई।

वैन में सवार थे आठ लोग
मृतकों के परिजन मनोज कुमार ने बताया कि उन्हें दुर्घटना के बारे में जैसे ही जानकारी लगी वैसे ही वे तुरंत छतरपुर आए। यहां उन्हें बताया गया कि घटना के शिकार सभी लोगों को जिला अस्पताल लाया गया है। उन्होंने बताया कि सभी लोग मऊरानीपुर से मैहर की शारदा माता के दर्शन करने जा रहे थे। एक अन्य परिजन नारायणदास ने बताया कि कार में ड्राइवर सहित 8 लोग सवार थे।

ब्लैक स्पॉट बन गया दुर्घटना स्थल
झांसी से खजुराहो तक के लिए तैयार हो रहे फोललाइन हाईवे में बसारी के पास में काफी समय से अधूरा निर्माण है जहां पर पुलिया निर्माण होने और पीएनसी कंपनी द्वारा कई स्थानों में अधूरा काम छोड़ देने से हर महीने गंभीर सड़क दुर्घटनाऐं हो रहीं है। कुछ महीनों में ही इस स्थान पर दुर्घटनांओं में मरने वालों की संख्या करीब १० हो चुकी है। लेकिन इसके बाद भी न तो पीएनसी कंपनी द्वारा घटनाओं को रोकने कोई इंतजाम किए जा रहे हैं और न प्रशासन द्वारा इस ओर ध्यान दिया गया है।

पीएनसी कंपनी के वाहन ले रहे जान
झांसी से खजुराहो तक बन रहे फोरलेन की निर्माण कंपनी पीएनसी के वाहन से मौत की घटनाए बढऩे लगी है। अब तक कंपनी के लापरवाह चालकों से करीब एक दर्जन दुर्घटनाएं हो चुकी हैं। बीते दिनों एक साथ दो हादसे हुए थे जिसमें दो लोगों की जान चली गई थी।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned