ढाई हजार लीटर शराब नष्ट, ध्वस्त किए मकान

कबूतरा डेरा पर आबकारी, राजस्व, पुलिस की संयुक्त कार्रवाई

छतरपुर. हरपालपुर इलाके के परेथा में शराब का अधिक सेवन करने से एक के बाद एक चार लोगों की मौत हो जाने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया है। कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक द्वारा सख्त निर्देश दिए गए हैं कि कहीं भी अवैध शराब का निर्माण हो उसे तुरंत नष्ट किया जाए। रविवार को आबकारी, राजस्व और पुलिस बल ने थाना क्षेत्र अंतर्गत कबूतरा डेरे पर संयुक्त कार्यवाही की। जेसीबी से वहां बने मकान को भी ध्वस्त कर दिया। करीब ढाई हजार लीटर कच्ची शराब नष्ट की गई।
प्रशासन ने कबूतरों के डेरे पर जाकर जेसीबी के माध्यम से करीब दो घंटे तक न केवल कबूतरों के डेरों को नेस्तनाबूत किया गया बल्कि यहां 12 ड्रम में भरी ढाई हजार लीटर कच्ची शराब भी नष्ट की गई। वहीं 25 लीटर शराब जब्त की गई है। नष्ट की गई शराब की कीमत ढाई लाख रूपए आंकी गई है। ज्ञात हो कि पिछले 6 माह में सरसेड़ स्थित कबूतरों के डेरों पर यह सातवीं कार्यवाही है। कलेक्टर और एसपी ने गत 13 जनवरी को कबूतरों के डेरे पर जाकर उन्हें समझाइश देते हुए कच्ची शराब न बनाने की बात कही थी लेकिन उन्हें समझाने का कोई फर्क नहीं हुआ। कार्यवाही के दौरान एसडीओपी नौगांव कमल कुमार जैन, आबकारी अधिकारी मुकेश मौर्य, तहसीलदार पीयूष दीक्षित, थाना प्रभारी विकास सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned