scriptValidity of 5 out of 7 licenses expired in the city | शहर में 7 में से 5 लाइसेंस की वैधता खत्म, फिर भी किया कई ट्रक पटाखों का भंडारण | Patrika News

शहर में 7 में से 5 लाइसेंस की वैधता खत्म, फिर भी किया कई ट्रक पटाखों का भंडारण

locationछतरपुरPublished: Feb 13, 2024 10:42:25 am

Submitted by:

Dharmendra Singh

पटाखों का हिसाब किताब तक नहीं, परिसर सील, कार्रवाई के लिए कलक्टर को भेजा प्रतिवेदन

पटाखा गोदाम
पटाखा गोदाम

छतरपुर. शहर में पटाखा भंडारण के लिए पूर्व में जारी 7 लाइसेंस में से 5 अनुज्ञप्ति की वैधता पूर्व में ही समाप्त हो गई है। इसके बाद भी विस्फोटक के अवैध का भंडारण खेल लंबे समय से जारी है। अवैध कारोबारियों के द्वारा लाइसेंस के एक्सपायर होने के बाद भी कई ट्रक विस्फोटक सामग्री का भंडारण कर आम लोगों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। दरअसल, प्रशासन ने आतिशबाजी के निर्माण और भंडारण के लिए शहर में पूर्व में जो लाइसेंस जारी किए थे, इनमें कई की वैधता एक साल से लेकर दो साल पहले खत्म हो चुकी है। फिर भी पटाखा का भंडारण व बिक्री का कारोबार धडल्ले से जारी रहा।
पटाखा गोदामभाजपा नेता के यहां सबसे ज्यादा गड़बड़ी
भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष जयनारायण प्रवाल और उनके पुत्र आकाश और विकास के नाम पर प्रशासन ने पटाखा भंडारण के चार लाइसेंस जारी किए थे। इनमें से भाजपा नेता जय नारायण अग्रवाल के नाम पर गल्ला मंडी के लिए स्वीकृत लाइसेंस क्रमांक 1-एक्स और 2 एक्स 2013 की वैधता 31 मार्च 2023 को समाप्त हो चुकी है। इसके साथ ही शहर के टिकरिया मार्ग में भाजपा नेता के पुत्र आकाश पिता नारायण अग्रवाल के पटाखा भंडारण का लाइसेंस क्रमांक 2 एक्स 2014 की वैधता भी 31 मार्च 2023 को खत्म हो चुकी है। इतना ही नहीं दूसरे पुत्र विकास पिता जयनारायण की टिकरिया मार्ग में पूर्व में स्वीकृत लाइसेंस क्रमांक 3 एक्स/ 2014 की वैधता भी 31 मार्च 2020 को खत्म हो गई है। जिले में सबसे अधिक 1500 किलोग्राम क्षमता के पूर्व में जारी लाइसेंस भाजपा नेता के नाम पर थे। इनकी वैधता समाप्त हो चुके लाइसेंस की आड़ में वे लंबे समय से विस्फोटक के भंडारण का अवैध कारोबार कर रहे थे।
भाजपा नेता समेत 4 कारोबारियों पर कार्रवाई का प्रस्ताव
शहर में बगैर लाइसेंस के भारी मात्रा में विस्फोटक के अवैध भंडारण पर एसडीएम ने भाजपा नेता जयनारायण अग्रवाल, कारोबारी सुंदरलाल असाटी और शंकरलाल अग्रवाल, अंकुर अग्रवाल के खिलाफ कार्रवाई का प्रतिवेदन कलक्टर संदीप जीआर को भेजा है। संयुक्त टीम की जांच में भाजपा नेता समेत चार कारोबारियों के यहां भारी मात्रा में पटाखा का स्टॉक पाया गया था। इसके चलते एसडीएम बलवीर रमण ने बगैर लाइसेंस के पटाखा के भंडारण करने वालों के खिलाफ विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्रवाई के लिए प्रस्ताव भेजा है। एसडीएम ने बताया कि संयुक्त टीम की जांच में पाई गई अनियमितता की बिंदुवार रिपोर्ट कलक्टर को भेजी गई है।
कारोबारियों के पास लेखा जोखा भी नहीं
शहर की कृष्णा प्रिया कॉलोनी में कारोबारी प्रभात गुप्ता के द्वारा लाइसेंस क्षमता से 20 गुना अधिक विस्फोटक का भंडारण करने पर एसडीएम ने कलक्टर को कड़ी कार्रवाई के लिए जांच प्रतिवेदन भेजा है। संयुक्त टीम की जांच से यह खुलासा हुआ है। इसके चलते जांच टीम को यह पता नहीं चल पाया है कि आखिरी कारोबारी ने माल कहाँ से खरीदा है और किसको बेचा है। इतना ही नहीं कारोबारी का जहां पर विस्फोटक का भंडारण था, वहां ऊपरी मंजिल पर लोगों का रहवास था।
इनका कहना है
भंडारण पाए जाने पर डीएम के माध्यम से नोटिस जारी कराया गया है। बगैर लाइसेंस के पटाखे के भंडारण पर कार्रवाई जारी है। कारोबारियों का जवाब मिलने के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी।
नम: शिवाय अरजरिया, अपर कलक्टर
पटाखा गोदाम

ट्रेंडिंग वीडियो