बस स्टैंड पर शो-पीस बना वॉटर बूथ, दूषित गंदा पानी पीने मजबूर यात्री

नगर पालिका की अनदेखी

By: Sanket Shrivastava

Published: 19 Mar 2020, 10:23 PM IST

नौगांव. नगर पालिका के द्वारा बस स्टैंड पर एक रूपये में एक लीटर ठंडा पानी यात्रियों को उपलब्ध कराने के लिए वाटर बूथ लगाया गया था। जिससे गर्मियों के मौसम में यात्रियों को गला तर करने के लिए शीतल ओर शुद्ध जल मिल सके लेकिन इसके लगने के कुछ महीने बाद यह मशीन खराब हो गई तभी से बस स्टैंड पर शो-पीस बनकर नगर पालिका की शोभा बढ़ा रही है। ऐसे में मुसाफिरों को दूषित जल पीना पड़ रहा हैं।
दरअसल, एक रुपए लीटर शुद्ध आरओ का पानी उपलब्ध कराने के लिए पहल की गई थी। यात्री प्रतिक्षालय में वाटर बूथ लगाया गया था, जिसमें एक रुपए का सिक्का डालने पर एक लीटर पानी वाटर बूथ से लोगों को मिल रहा था। अब यह मशीन शो-पीस बनकर रह गई है।
उसके बाद खराब हो गई तब से लेकर अब तक नगर पालिका के द्वारा इसे सही करने की कोई सुध नहीं ली गई। गर्मी का मौसम शुरू हो गया है। बुधवार को नगर का अधिकतम तापमान 32 डिग्री था इसके पहले तापमान 28 से 30 डिग्री के बीच चल रहा था लेकिन अब यह धीरे-धीरे बढऩे लगा है। जिससे यहां पहुंचने वाले यात्रियों को गला तर करने के लिए पानी की जरूरत पड़ रही हैं। जिसको लेकर कई बार यात्री वाटर बूथ देखकर उसके समीप तो जाते हैं, लेकिन खराब मशीन होने के कारण अपने साथ ले गए खाली बोतल वापस लाते हैं। जब यह वाटर बूथ लगाया गया था तब नगर पालिका का मानना था कि इस वाटर बूथ से यात्रियों की सुविधा मिलेगी ओर दिन रात पीने का पानी उपलब्ध होगा।
दूषित पानी पीने मजबूर यात्री
वॉटर बूथ खराब होने की स्थिति में अब बस स्टैंड पर पहुंचने वाले मुसाफिरों को दूषित पानी पीने मजबूर होना पड़ रहा हैं। यहां मुसाफिर या तो रुपए खर्च कर पानी के हाथ से बने पाउच खरीद रहे हैं या तो होटलों का दूषित पानी पी रहे हैं। बस स्टैंड पर रखे मटकों का पानी भी पीने मजबूर हैं। जिससे बीमारियां फैलने का खतरा भी बना रहता हैं।
&वॉटर बूथ को चेक कराया जाएगा। इसे जल्द ही शुरू कराने की व्यवस्था की जाएगी।
बसंत चतुर्वेदी, सीएमओ नगर पालिका नौगांव

Sanket Shrivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned